edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर, प्रत्येक विशेष योग्यजन का ऑनलाईन पंजीकरण सुनिश्चित करने के निर्देश
-मुख्य सचिव अशोक जैन ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए जिला कलक्टर्स को दिए निर्देश।
बाड़मेर, 10 अगस्त। मुख्य सचिव अशोक जैन ने समस्त जिला कलेक्टरों को निर्देश दिए कि राज्य के प्रत्येक विशेष योग्यजन का एक माह में ऑनलाईन निःशुल्क पंजीकरण करना सुनिश्चित करें। इसके लिए घर-घर जाकर प्रत्येक विशेष योग्यजन की पहचान कर ई-मित्र केन्द्र तक पहुंचाकर पंजीकरण करवाया जाए। मुख्य सचिव जैन ने गुरूवार को शासन सचिवालय में विडियों कान्फ्रेंस के माध्यम से जिला कलेक्टरों से एक जून, 2017 से पं. दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन पंजीयन अभियान की समीक्षा करते हुए यह निर्देश दिए।

मुख्य सचिव अशोक जैन ने कहा कि राज्य सरकार की मंशा प्रत्येक योग्यजन को लाभ पहुंचाने की है, इसको लेकर 24 सितंबर तक प्रत्येक विशेष योग्यजन का सर्वे कर ई-मित्र केन्द्रों के माध्यम से पंजीकरण कराना है। उन्होंने कहा कि 21 श्रेणियों के विशेष योग्यजनों का पंजीकरण होने के उपरान्त 25 सितम्बर, 2017 से पं. दीनदयाल उपाध्याय जयन्ती से पंचायत समिति स्तर पर विशेष शिविर लगाकर निःशक्तता प्रमाण पत्र जारी होंगे। इसके उपरांत 12 दिसम्बर से 31 मार्च, 2018 तक पात्र सभी विशेष योग्यजनों को विभिन्न तरह की सहायता व आवश्यक उपकरण उपलब्ध कराए जाएंगे। मुख्य सचिव ने जिला कलेक्टरों से विशेष योग्यजन पंजीकरण अभियान के लिए किये जा रहे प्रयासों की जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि सभी विभागों के आपसी समन्वयक से विशेष योग्यजनों के पंजीयन में गति लाई जाए। उन्होंने पंजीकरण अभियान में बाहरी क्षेत्रों में वार्ड पार्षदों एवं ग्रामीण क्षेत्र में सरपंच एवं स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग लेने को कहा। इस अवसर पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव जे.सी.मोहन्ती ने कहा कि विशेष योग्यजनों के पंजीकरण करने की प्रक्रिया को सरलीकरण कर दिया अब राशन कार्ड लाने पर भी पंजीकरण किया जा सकेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि जिलों को विशेष योग्यजन पंजीकरण अभियान के प्रचार-प्रसार के लिए पर्याप्त बजट दिया गया है। उन्होंने विभिन्न सामाजिक संगठनों एवं स्वयंसेवी संस्थाओं को सहयोग लेने का आह्वान करते हुए कहा कि शहरी क्षेत्र में विशेष ध्यान देना है। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रदेश में विभिन्न योजनाओं पेंशन प्राप्त कर रहे 5 लाख से अधिक विशेष योग्यजनों का तो तत्काल पंजीकरण करे तथा स्कूलों में शाला दर्पण के तहत किये गये सर्वे में उपयोग करने की सलाह दी। विडियों कॉन्फ्रेसिंग मे ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुदर्शन सेठी ने जिला कलेक्टरों को 15 अगस्त को होने वाली ग्राम सभाओं में ग्राम पंचायतों में दर्ज विशेष योग्यजनों के आंकडों का उपयोग कराने का सुझाव दिया। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक डॉ. समित शर्मा ने विशेष योग्यजन पंजीकरण के लिए सभी जिला कलेक्टरों को मनोयोग से प्रयास करने की विशेष सलाह दी। उन्होंने जिला कलेक्टरों को कहा कि पंजीकरण की रिपोर्ट विभागवार भिजवाए। ताकि यह पता लगे की कौनसा विभाग व अधिकारी पूरी निष्ठा से काम नहीं कर रहा है। उन्होंने चिकित्सा विभाग, महिला बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग के अधिकारियों एवं कार्मिकों, अध्यापकों, आंगनबाडी कार्यकर्ता, नर्स का पूरा सदुपयोग कराने का सुझाव दिया। डॉ. समित शर्मा ने बताया कि विशेष योग्यजनों का ई-मित्र केन्द्रों एवं अटल सेवा केन्द्रों पर निःशुल्क पंजीकरण किया जा रहा है। प्रत्येक विशेष योग्यजन के पंजीकरण के लिए ई-मित्र केन्द्र को 30 रूपए दिए गए। इसके लिए आई.टी. विभाग को 3 करोड के बजट का आवंटन किया जा चुका है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top