edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर, कलक्टर्स न्यू इंडिया के लिए मिशन मोड पर कार्य करेंःमोदी
बाड़मेर, 09 अगस्त। न्यू इंडिया के लिए जिला कलक्टर्स को मिशन मोड पर कार्य करना होगा। इसके लिए पंचवर्षीय कार्य योजना तैयार करने के साथ उसको धरातल पर क्रियान्वित करने की पहल करनी होगी। अन्य जिलांे की बेस्ट प्रेक्टिस को पिछड़े जिलांे मंे लागू करने के साथ यह मंथन करना होगा कि जिला किस क्षेत्र मंे पिछड़ा है और उसे सामान्य जिलांे की श्रेणी मंे कैसे शामिल किया जा सकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए जिला कलक्टर्स से रूबरू होते हुए न्यू इंडिया मंथन कार्यक्रम के दौरान यह बात कही।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि वर्ष 2022 मंे आजादी के 75 साल पूरे हो रहे है। ऐसे मंे जिला कलक्टर्स को यह तय करना होगा कि उस समय वे किस तरह का भारत देखना चाहते है। उन्हांेने जिला कलक्टर्स की विकास योजनाआंे की क्रियान्विति मंे महत्वपूर्ण भूमिका बताते हुए कहा कि उनको देश के लिए कुछ करने का मौका मिला है। वे इस पर खरे उतरने के साथ न्यू इंडिया निर्माण का संकल्प लें। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जिला कलक्टर्स अपने जिलांे मंे रोड़ मैप, बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रिसोर्स मोबेलाइजेशन के साथ आधारभूत सुविधाआंे संबंधित कार्य योजना तैयार करें। उन्हांेने कहा कि देश मंे 100 जिले सामाजिक एवं आर्थिक लिहाज से पिछड़े है। इन जिलांे को सामान्य जिलांे की श्रेणी मंे शामिल करने के लिए वृहद स्तर पर प्रयास करने की जरूरत है। मोदी ने कहा कि कई जिलांे मंे केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाआंे का पूरा लाभ नहीं पहुंचता। ऐसे मंे जिला कलक्टर्स को इसका सही आकंलन करते हुए जमीनी स्तर पर कार्य योजना की क्रियान्विति करनी होगी। उनको पांच साल तक लगातार मोनेटरिंग के साथ यह तय करना होगा कि वर्ष 2025 मंे अपने जिले को किस स्थिति मंे देखना चाहते है। उन्हांेने कलक्टर्स से मिशन मोड एवं विजन डाक्यमेंट के साथ कार्य करने को कहा। उन्हांेने कहा कि संवेदनशील प्रशासन देने के साथ कलक्टर्स को यह तय करना होगा कि वे जिले को कौनसी कमियांे से मुक्त और कौनसी सुविधाआंे से युक्त देखना चाहते है। उन्हांेने कहा कि देश के हर कोने मंे कोई न कोई संकल्प लेते हुए संकल्प से सिद्वी के मुवमेंट को साकार करें। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कई बार जब पिछड़े इलाके मंे कलक्टर्स को पोस्टिंग मिलती है तो मन मंे कसक रह जाती है कि ऐसा जिला क्यों मिला। लेकिन आप इसे बहुत बड़ा अवसर माने। अच्छे जिले मंे कितना भी अच्छा करें, लेकिन बदलाव नजर नहीं आता। जबकि पिछड़े जिले मंे किया गया कार्य नजर आने के साथ मिसाल बन जाता है। उन्हांेने जिला कलक्टर्स से दूसरे जिलों की बेस्ट प्रेक्टिस को अन्य जिलांे मंे लागू करने की भी बात कही। वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के जिला कलक्टर्स एवं चुनिंदा विभागांे के अधिकारियांे से विकास के एजेंडे पर विचार-विमर्श किया। बाड़मेर जिला मुख्यालय पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के दौरान जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते, भूमि अवाप्ति अधिकारी अशोक सांगवा एवं जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी दिलीप जैन 

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top