edvertise

edvertise
barmer

मरने से पहले हड्डियों का ढांचा रह गया था ये एक्टर, ऐसी हो गई थी हालत


मुंबई।कई बॉलीवुड और साउथ की फिल्मों में विलेन का रोल प्ले कर चुके एक्टर रामी रेड्डी को उनके क्रूर किरदारों के लिए जाना जाता है। फिर चाहे 1993 में आई फिल्म 'वक्त हमारा है' में कर्नल चिकारा का रोल हो या 'प्रतिबंध' में अन्ना का, रामी हर विलेन किरदार में जान डाल देते थे। हालांकि 250 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके रामी को लिवर की बीमारी ने घेर लिया था, जिसकी वजह से वो अक्सर बीमार रहने लगे थे।मरने से पहले हड्डियों का ढांचा रह गए थे रामी...


मरने से पहले हड्डियों का ढांचा रह गया था ये एक्टर, ऐसी हो गई थी हालत




- लिवर की बीमारी के चलते रामी का ज्यादा वक्त घर पर ही बीतता था और धीरे-धीरे वो पब्लिक गैदरिंग में भी जाने से बचने लगे। हालांकि एक बार वो एक इवेंट में नजर आए थे, जहां उन्हें पहचानना मुश्किल हो गया था।

- दरअसल, रामी उस दौरान काफी कमजोर और दुबले-पतले नजर आ रहे थे। उन्हें देख कोई भी यकीन नहीं कर पा रहा था कि ये वही रामी रेड्डी हैं, जो फिल्मों में काम कर चुके हैं।

- रामी को लिवर के बाद किडनी की बीमारी ने भी घेर लिया था, जिसकी वजह से मौत के पहले वो सिर्फ हड्डियों का ढांचा रह गए थे। हालांकि ये भी कहा जाता है कि उन्हें कैंसर भी हो गया था।

- कुछ महीनों तक इलाज चलने के बाद 14 अप्रैल, 2011 को सिकंदराबाद के एक प्राइवेट अस्पताल में रामी रेड्डी की मौत हो गई।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top