edvertise

edvertise
barmer

आनंदपाल के गांव में हिंसा के बाद कर्फ्यू, रद्द की गईं सभी ट्रेने*


पुलिस एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर आनंदपाल के सांवराद गांव में बुधवार को राजपूतों ने मामले की सीबीआई जांच कराने सहित चार मांगों को लेकर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया था, जोकि हिंसक हो गई थी.

सभा के दौरान संघर्ष समिति और प्रशासनिक अधिकारियों में कई दौर की वार्ता विफल रही. इस दौरान भाड़काऊ भाषण भी दिए जाते रहे थे और शाम होते-होत भीड़ आक्रामक हो गई. भीड़ ने कई जगह पथराव व आगजनी की.

वहीं भीड़ ने मौके पर तैनात पुलिस के जवान की राइफल छीन को छीन लिया और रेल की पटरियों को भी उखाड़ दिया. इसके अलावा स्टेशन पर भी तोड़फोड़ की गई है. इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में गोलियां चलाईं. पूरे घटनाक्रम में 21 पुलिसकर्मी और 7 युवक घायल हुए हैं. वहीं गोली लगने से रोहतक निवासी लालचंद की मौत हो गई है.

*सभी रेलगाड़ियां रद्द*

इस घटना के बाद रेलवे ट्रेक को पूर्णतः बंद कर रखा गया है. सभी गाड़ियों को रद्द कर दिया गया है. यह जोधपुर-हिसार रेलवे लाइन है. इसके अलावा सांवराद गांव में कर्फ्यू लगा दिया गया है और अब वहां भीड़ खत्म हो गई है. साथ ही भारी संख्या में पुलिस जाब्ता मौजूद है

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top