edvertise

edvertise
barmer



पुष्कर ब्रह्मा मन्दिर के विकास का माॅडल स्थापित

सुझाव पेटिका के द्वारा श्रृद्धालू दे सकेंगे सुझाव

जिला कलक्टर ने किया सरोवर के घाटो का अवलोकन

गुणवत्ता सही नहीं होने से रूकवाया कार्य

अजमेर, 29 जुलाई। संसदीय सचिव श्री सुरेश सिंह रावत तथा जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने ब्रह्मा मन्दिर के विकास कार्य के माॅडल शनिवार को प्रस्तुत किया। उन्होंने पुष्कर सरोवर के घाटो पर चल रहे निर्माण कार्यों का अवलोकन किया। गुणवत्ता सही नहीं पाए जाने पर जिला कलक्टर ने निर्माण कार्य रोकने के निर्देश प्रदान किए।

पुष्कर सरोवर के घाटो पर चल रहे निर्माण कार्य का संसदीय सचिव एवं जिला कलक्टर द्वारा अवलोकन किया गया। अवलोकन के दौरान घाट निर्माण कार्य की एकरूपता नहीं पायी गई। अलग-अलग रंग तथा प्रकार के पत्थरों के कारण घाटो का सौंदर्य प्रभावित हो रहा था। जांच करने पर कार्य की गुणवत्ता संतोषजनक नहीं पायी गई। इस पर जिला कलक्टर ने संबंधित उच्च अधिकारियों से दूरभाष पर वार्ता कर कार्य रूकवाने के निर्देश प्रदान किए। निर्माण कार्य के गुणवत्ता की जांच आगामी सप्ताह में राजस्थान पर्यटन विकास निगम जयपुर के अधिकारियांे का दल द्वारा की जाएगी।

ब्रह्मा मन्दिर में विकास कार्यांें की रूपरेखा के संबंध में प्रस्तावित माॅडल का शनिवार को प्रदर्शन किया गया। इस माॅडल को ब्रह्मा मन्दिर में श्रृद्धालूओं के अवलोकनार्थ रखा गया है। श्रृद्धालू इसका अवलोकन कर सुझाव भी दे सकते हैं। श्रृद्धालूओं के सुझाव आंमत्रित करने के लिए सुझावपेटिका की स्थापना की गई है। इसे माॅडल के पास ही स्थापित किया गया है। श्रृद्धालूओं के द्वारा प्राप्त सुझावों को ब्रह्मा मन्दिर की प्रबंधन कमेटी के समक्ष रखा जाएगा। कमेटी द्वारा उचित पाए जाने पर प्रस्तावित माॅडल में आवश्यक बदलाव भी किए जाएंगे।

प्रस्तावित माॅडल के अनुसार ब्रह्मा मन्दिर परिसर में लगभग 24 करोड़ 6 लाख की राशि से विकास कार्य करवाए जाएंगे। इससे शानदार एन्ट्री प्लाजा, मुक्ताकाशी मंच, आध्यात्मिक उद्यान, पाथवे, पुष्प स्टाॅल, गौशाला एवं भोजनशाला का निर्माण करवाया जाएगा। अध्यात्मिक उद्यान में जगत पिता ब्रह्मा के द्वारा सृष्टि रचना की जानकारी प्रदान की जाएगी। मुक्ताकाश्ी मंच में धार्मिक एवं सांस्कृति गतिविधियां आयोजित की जाएगी। उद्यान में धार्मिक महत्व के पेड़ पौधो को लगाया जाएगा। योग के लिए भी स्थान निर्धारित करने का प्रावधान रखा गया है। वृद्ध एवं दिव्यांगों को लिफ्ट की सुविधा उपलब्ध करवाए जाने का प्रावधान रखा गया है। ब्रह्मा मन्दिर के प्रस्तावित माॅडल की परिकल्पना गुजरात के प्रसिद्ध अक्षरधाम मन्दिर से प्रेरित है।

ब्रह्मा मन्दिर में प्रबंधन कमेटी की बैठक आयोजित की गई। इसमें सदस्यों ने मन्दिर के विकास के संबंध में विचार विमर्श किया। मन्दिर के एक मुख्य प्रवेश द्वार के दोनो और मेले के दौरान खोले जाने वाले बड़े दो द्वार तथा एक आपातकालिन एवं सर्विस गेट की व्यवस्था पर चर्चा की गई। पुष्कर तीर्थ क्षेत्रा में प्रवेश को विशेष रूप देने के लिए समस्त प्रवेश मार्गों पर भव्य द्वार बनाने के प्रस्ताव पर भी चर्चा की।

इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी श्री विष्णु कुमार गोयल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री भोलाराम, तहसीलदार श्री प्रदीप चैमाल सहित कमेटी के सदस्य एवं नगर पालिका के पार्षद उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top