बाड़मेर एवं बालोतरा मंे रात के समय होगी मुख्य सड़कांे की सफाई
-जिला कलक्टर ने दिए बारिश से क्षतिग्रस्त सड़कांे को दुरस्त करवाने के निर्देश

बाड़मेर, 17 जुलाई। बाड़मेर एवं बालोतरा नगर परिषद क्षेत्र मंे मुख्य सड़कांे पर रात्रि के समय सफाई करवाई जाए। गौरव पथ के निर्माण के समय गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें। इसका थर्ड पार्टी वेरीफिकेशन भी करवाया जाएगा। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने सोमवार को कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मंे बिजली,पानी संबंधित साप्ताहिक समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही। जिला कलक्टर ने क्षतिग्रस्त सड़कांे की प्राथमिकता से दुरस्त करवाने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि बारिश के मौसम के मददेनजर मौसमी बीमारियांे की रोकथाम के लिए समुचित इंतजाम किए जाएं। उन्हांेने फोगिंग करवाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने संस्थागत प्रसव, जननी सुरक्षा योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए इसमंे सुधार लाने की बात कही। जिला कलक्टर ने कहा कि अगर कहीं पर पानी भराव है तो पंप लगाकर उसकी निकासी की जाए। उन्हांेने कचरा पात्रांे की नियमित सफाई करने एवं सड़क निर्माण के साथ नालियांे का निर्माण करवाने के निर्देश दिए। उन्हांेने बाड़मेर एवं बालोतरा मंे डेªनेज मास्टर प्लान बनाने के भी निर्देश दिए। उन्हांेने गेहूं रोड़ पर अतिक्रमण हटाने, आवारा पशुआंे की धरपकड़ करवाने, चिकित्सालय मंे पौधारोपण करवाने एवं सौन्दर्यकरण करवाने को कहा। जिला कलक्टर नकाते ने समाचार पत्रांे मंे प्रकाशित समाचारांे के संबंध मंे भेजे गए पत्रांे का समय पर प्रत्युतर भिजवाने के निर्देश दिए। उन्हांेने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता जी.आर.जीनगर को ग्रामीण सड़कांे की मरम्मत करवाने एवं नदी-नालांे पर खतरे के निशान संबंधित बोर्ड लगवाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने राजकीय चिकित्सालय मंे चिकित्सकांे की उपस्थिति सुनिश्चित रखने एवं नियमित रूप से निरीक्षण के निर्देश दिए। बैठक के दौरान जिला कलक्टर ने पंडित दीनदयाल विद्युतीकरण योजनान्तर्गत विद्युत कनेक्शन का कार्य प्रारंभ करवाने, जीएलआर की सफाई करवाने एवं पानी के अवैध कनेक्शनांे की रोकथाम के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने डिस्काम, नगर परिषद, रूडिप एवं जलदाय विभाग के अधिकारियांे को रोड कटिंग के संबंध मंे सहमति निर्धारित करते हुए आगामी बैठक मंे समुचित सूचना उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान भूमि अवाप्ति अधिकारी अशोक सांगवा ने संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणांे की विभागवार सूचना देते हुए इसका प्राथमिकता से निस्तारण करने के निर्देश दिए। बैठक मंे जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, भूमि अवाप्ति अधिकारी अशोक सांगवा, उप निदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग जीतेन्द्रसिंह नरूका, डिस्काम के अधीक्षण अभियंता मांगीलाल जाट, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.एस.पी.दीप्पन, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डा.बी.एल.मंसूरिया, नगर परिषद आयुक्त श्रवण विश्नोई, रूडिप के अधीक्षण अभियंता बंशीधर पुरोहित समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।
बीस सूत्री कार्यक्रम की समीक्षा
समस्त विभाग निर्धारित समयावधि मंेआवंटित लक्ष्य अर्जित करें: नकाते

बाड़मेर, 17 जुलाई। बीस सूत्री कार्यक्रम के तहत समस्त विभाग उनको आवंटित किए गए लक्ष्य निर्धारित समयावधि मंे अर्जित करें। इसके लिए कार्य योजना बनाने के साथ समन्वित प्रयास किए जाए। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने सोमवार को बीस सूत्री कार्यक्रम की समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही।
जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग टीकाकरण के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए गंभीरता से प्रयास करें। उन्हांेने अस्पतालांे मंे संसाधनांे एवं लेबर रूम वगैरह संबंधित सूचना उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने प्राथमिकता से विद्युत कनेक्शन जारी करने के साथ निष्क्रिय एवं कार्य के प्रति लापरवाही बरतने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ताआंे को भी हटाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने बीस सूत्री कार्यक्रम की विस्तृत समीक्षा की तथा धीमी प्रगति वाले विभागों को मुस्तैदी से कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होने सभी विभागीय अधिकारियों को उन्हें आवंटित लक्ष्यों को माहवार हासिल करने के निर्देश दिए,ताकि बिन्दुवार मासिक प्रगति प्रदर्शित हो सकें तथा वितीय वर्ष की समाप्ति पर निर्धारित लक्ष्य प्राप्त किए जा सकें। उन्होंने कहा कि सभी विभाग उन्हें आवंटित लक्ष्यों की प्रगति रिपोर्ट भी यथा समय प्रेषित कर दे ताकि उनको रैकिंग मिल सकें। बैठक के दौरान चालू वित्तीय वर्ष में माह जून 2017 तक अर्जित की गई उपलब्धियों की बिन्दुवार समीक्षा की गई। इस दौरान महात्मा गांधी नरेगा, श्रमिक कल्याण, खाद्य सुरक्षा, सबके लिए आवास, ग्रामीण जलापूर्ति कार्यक्रम, बाल प्रतिरक्षण, अनुसूचित जाति परिवारांे को ऋण, छात्रवृति वितरण, बाल कल्याण, बस्ती सुधार कार्यक्रम, वन संरक्षण एवं वन वृद्वि, ग्रामीण सड़क तथा ग्रामीण ऊर्जा समेत विभिन्न बिन्दूआंे की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियांे को निर्धारित लक्ष्य अर्जित करने के निर्देश दिए गए। इस दौरान मुख्य आयोजना अधिकारी ताराचन्द चौहान ने जून माह तक विभिन्न विभागों द्वारा अर्जित उपलब्धियों की जानकारी कराई। उन्होने कहा कि जिन विभागांे को लक्ष्य आवंटित नहीं हुए है अथवा पूर्ण होने की संभावना नहीं है वे इस बारे मंे अवगत करवाएं ताकि लक्ष्य संशोधित किए जा सके। बैठक में नगर परिषद बालोतरा आयुक्त शिवपालसिंह, अधिशाषी अभियन्ता डिस्कॉम एम.एल. जाट, अधिशाषी अभियन्ता सानिवि सी.एल.खत्री, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक घनश्याम गुप्ता सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top