edvertise

edvertise
barmer



अजमेर मौसमी बीमारियों पर रखी जाए विशेष नजर - जिला कलक्टर
अजमेर, 17 जुलाई। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने सोमवार को विभिन्न विभागों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में मौसमी बीमारियों पर विशेष नजर रखने के निर्देश प्रदान किए।

श्री गोयल ने कहा कि बारिश के मौसम में मौसमी बीमारियों के प्रकोप की संभावना रहती है। इनसे बचने के लिए जिले में विशेष सतर्कता बरती जानी चाहिए। पेयजल के स्त्रोतों की साफ सफाई पर ध्यान दिया जाए। सप्लाई किए जाने वाले पानी का फिल्टरेशन तथा क्लोरीनेशन किया जाना आवश्यक है। जिले की समस्त एएनएम के द्वारा अपने क्षेत्रा के पेयजल की नियमित जांच की जानी चाहिए। इनके द्वारा क्षेत्रा में पीने का पानी उपयोग लेने वाले विभिन्न जल स्त्रोतों की रैण्डमली जांच की जानी चाहिए। एएनएम के द्वारा तालाब, व्यक्तिगत टांकों तथा सार्वजनिक जल प्रणाली के पानी की जांच की जाएगी। जांच के लिए आवश्यक उपकरण विभाग के द्वारा उपलब्ध करवाए गए है। एएनएम के द्वारा साप्ताहिक रिपोर्ट तैयार कर जिला मुख्यालय को भेजी जाएगी।

उन्होंने कहा कि अवैध कनेक्शन, अवैध विज्ञापन एवं सम्पत्ति विरूपण सहित विभिन्न प्रकरणों में सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले असामाजिक तत्वों के विरूद्ध संबंधित अधिनियम केे अन्तर्गत कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। अजमेर, पुष्कर, सिटी ट्रांसपोर्ट कम्पनी के प्रभावी संचालन के लिए पूर्णकालिक मुख्य कार्यकारी अधिकारी की नियुक्ति के लिए संभावनाएं तलाशी जाएगी। अजमेर शहर के 56 वार्डों के खुले में शौच से मुक्त होने के पश्चात शेष बचे 4 वार्डों को भी खुले में शौच से मुक्त करवाया जाए।

उन्होंने निर्देशित किया कि नौसर घाटी की पहाड़ियों पर आनासागर का अतिरिक्त पानी पहुंचाकर सदैव हरी रखने के कार्य में तेजी लाए जाए। वन विभाग द्वारा इा क्षेत्रा में लगभग 30 हजार पेड़ लगाए जाएंगे। इन पेड़ों को पानी उपलब्ध करवाने के लिए आनासागर का पानी पम्प करके पहाड़ी पर चढ़ाया जाएगा। पहाड़ी पर स्टोरेज टेंक भी बनाए जाएंगे। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग इस परियोजना का संशोधित तकमीना बनाएगा। पुष्कर स्थित हर्बल गार्डन को एक नया पर्यटक स्थल बनाने के लिए वन विभाग के उप वन संरक्षक श्री अजय चितौड़ा को निर्देशित किया गया। हर्बल गार्डन के संबंध में जागरूकता पैदा करने के लिए आईईसी गतिविधियां संचालित की जाए।

उन्होंने कहा कि अजमेर शहरी क्षेत्रा में स्मार्ट सिटी परियोजना के अन्तर्गत राजकीय विद्यालयों में एड्यूकाॅम के माध्यम से स्मार्ट क्लास लगवायी जाएगी। इन स्मार्ट क्लासेज के लिए प्रस्ताव संबंधित विद्यालय के द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से भिजवाए जाएंगे। जिले में निर्माधाधीन राजकीय भवनों की गुणवत्ता एवं उपयोगिता सुनिश्चित करने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए है। राजकीय भवन को काम लेने वाले विभाग के अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। इनके द्वारा निर्माणधीन भवन का नियमित निरीक्षण किया जाएगा।

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री किशोर कुमार, अबु सूफियान चैहान, अरविंद कुमार सेंगवा, जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री संजय माथुर सहित समस्त विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।




कृषि विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित

ग्राम के एमओयू पर हुई चर्चा


अजमेर, 17 जुलाई। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल की अध्यक्षता में सोमवार को कृषि, आत्मा एवं उद्यान विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। इसमें ग्लोबल राजस्थान एग्रीटेक मीट (ग्राम) 2016 के दौरान किए गए एमओयू पर चर्चा की गई।

बैठक में टैफे के शैलेष जैन तथा ईएमथ्री के अशोक पुरोहित ने बताया कि दोनो कम्पनियों द्वारा अजमेर जिले के प्रत्येक ब्लाॅक में कम से कम एक-एक कस्टम हायरिंग सेन्टर (सीएचसी) खोला जाएगा। इससे किसान अपनी आवश्यकताओं के अनुसार कृषि यंत्रा एवं उपकरण किराए पर लिए जा सकते है। राज्य सरकार द्वारा ट्रेक्ट्रर सहित अन्य यंत्रों-उपकरणों, डीजल एवं चालक की सम्मिलित दरें निर्धारित की गई है। यह दरे खेत में काम मे लगने वाले समय के अनुसार निर्धारित की गई। मोबाईल एप एवं वैबसाइट के माध्यम से ग्राहक एवं उपकरण प्रदाता को आपस में जोड़ने का प्रावधान किया गया है। किसानों की सुविधा के लिए कम्पनी द्वारा टोल फ्री नम्बर जारी किया जाएगा। कस्टम हायरिंग सेन्टर खोलने के लिए राज्य सरकार द्वारा युवाओं को 40 प्रतिशत सब्सििडी प्रदान की जाएगी। टैफे द्वारा जिले में ख्वास तथा देवमण्ड में सीएचसी आरम्भ किए गए है तथा सरवाड़ और भिनाय में खोलने की प्रक्रिया जारी है। जिला कलक्टर ने कृषि विभाग के समस्त कार्मिकों को एक-एक सीएचसी खुलवाने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

इसी प्रकार केके नेसर प्रोजेक्ट के प्रवीण कुलकर्णी ने सोलर ग्रीन हाउस परियोजना के बारे में जानकारी दी। इसके अन्तर्गत किसान को उद्यमी बनाने की दिशा में कार्य किया जाएगा। ग्रीन हाउस की छत का उपयोग सोलर लाईट बनाने में किए जाने पर चर्चा की गई।

जिला कलक्टर ने निर्देशित किया कि जिले में कृषि आधारित रोजगार एवं उद्यमों का डाटा बेस तैयार किया जाएगा। इसके अन्तर्गत कृषि उत्पाद का उपयोग कर उत्पादन करने वाले क्षेत्रों की सम्पूर्ण जानकारी एक जगह उपलब्ध करवायी जाएगी। इसमें रोजगार की मात्रा, उपयोग होने वाला कृषि उत्पाद, उत्पादित सामग्री सहित विविध सूचनाएं शामिल होगी।

बैठक में नेशनल मिशन फाॅर सस्टेनेबल एग्रीकल्चर, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन, आरएसीपी एग्रीकल्चर, उद्यानिकी, पशुपालन एवं भू जल तथा नेशनल ई-गर्वेनेंस प्लान इन एग्रीकल्चर के कार्यो की समीक्षा की गई।

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री किशोर कुमार, अबु सूफियान चैहान, उप निदेशक कृषि श्री वी.के शर्मा, आत्मा के परियोजना के निदेशक श्री ओ.पी शर्मा, उद्यानिकी विभाग के सहायक निदेशक श्री संजय तनेजा, जल संसाधन विभाग के अधीशाषी अभियंता श्री संदीप माथुर, नाबार्ड के जिला विकास अधिकारी श्री बी.बी.खरबंदा सहित विभिन्न सदस्यगण उपस्थित थे।


स्वास्थ्य जांच शिविर मंगलवार को
अजमेर, 17 जुलाई। बैंक आॅफ बड़ौदा के द्वारा स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन मंगलवार को किया जाएगा।

बैंक आॅफ बड़ौदा के क्षेत्राीय उप महाप्रबंधक श्री महेन्द्र एस महनोत ने बताया कि मंगलवार 18 जुलाई को बैंक आॅफ बड़ौदा के 110वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में हैल्थ चैकअप कैम्प का आयोजन प्रातः 10.30 बजे किया जाएगा। इसमें कलेक्ट्रेट स्टाफ की ब्लड शूगर, ब्लड प्रेशर, वजन एवं अन्य सामान्य जांच की जाएगी।



रक्तदाान शिविर 19 जुलाई को
अजमेर, 17 जुलाई। बैंक आॅफ बड़ौदा द्वारा रक्तदान शिविर बुधवार 19 जुलाई को आयोजित किया जाएगा।

बैंक आॅफ बड़ौदा के उप क्षेत्राीय प्रबंधक श्री वी.पी.उपाधाय ने बताया कि बैंक के 110वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य पर सामाजिक सेवा कार्यक्रमों के अन्तर्गत रक्तदान शिविर का आयोजन हरिभाउ उपाध्याय नगर स्थित बड़ौदा स्वरोजगार विकास संस्थान में किया जाएगा। इसमें समस्त नागरिक रक्त दान कर सामाजिक कर्तव्य का निर्वहन कर सकते है।




विश्व युवा कौशल दिवस का कार्यक्रम आयोजित बेहतरीन कार्य करने वाले को किया पुरस्कृत
अजमेर, 17 जुलाई। राजकीय आद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में विश्व युवा कौशल दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन कर बेहतरीन कार्य करने वाले व्यक्तियों को सम्मानित किया गया।

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्रधानाचार्य श्री नरेश शर्मा ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य वक्ता उद्योगपति श्री पंकज सिंगल ने युवाओं को कौशल विकास के साथ स्व रोजगार अपनाने के लिए प्रेरित किया। इस कार्यक्रम में अचिवमेंन्ट अवार्ड रोडवेज वर्कशाॅप, केन्द्रीय कार्यशाला में कार्यरत श्रीमती सुनिता देवी रावत तथा हाजमा बानु को प्रदान किया गया। इस अवसर पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसमें अशोक सिंह रावत प्रथम, विक्रम सिंह द्वितीय तथा प्रियंका परिहार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। कार्यक्रम में प्राविधिक शिक्षा के उप निदेशक प्रशिक्षण श्री अशोक कुमार नागर, जिला रोजगार अधिकारी श्री अर्पण चैधरी एवं आर.एस.एल.डी.सी जिला प्रबंधक श्री विजय पारीक ने युवाओं को प्रोत्साहित कर अभिप्रेरित किय। महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य श्री राजकुमार ने छात्राओं को कौशल नियोजन के क्षेत्रों से अवगत कराया। संस्थान के पर्यावरण प्रेमी श्री नाहर सिंह अनुदेशक को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्री शैलेन्द्र माथुर, प्लेसमेन्ट प्रभारी ने किया। कार्यक्रम के समापन अवसर पर उपाचार्य श्री रामनिवास ने युवाओं को मार्गदर्शन प्रदान कर किया।


राशन कार्ड की समस्याओं के समाधान के लिए हैल्प डेस्क होगी स्थापित
अजमेर, 17 जुलाई। राशन कार्ड, खाद्य सुरक्षा एवं पोस मशीन के संबंध में समस्याओं के निस्तारण के लिए कलेक्ट्रेट में हैल्प डेस्क स्थापित की जाएगी।

जिला रसद अधिकारी श्रीमती दीप्ति शर्मा ने बताया कि जिले में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, पोस मशीन एवं राशन कार्ड के संबंध में आ रही समस्याओं के समाधान के लिए जिला कलक्टर कार्यालय में सभाकक्ष के बाहर हैल्प डेस्क स्थापित की जाएगी। इसका समय प्रातः 10 बजे से 12 बजे तक समस्त कार्य दिवसों को रहेगा। हैल्प डेस्क पर उपस्थित कार्मिकों द्वारा उपभोक्ताओं की समस्याओं का समाधान किया जाएगा। हैल्प डेस्क के अतिरिक्त जिला रसद अधिकारी कार्यालय से भी सम्पर्क कर समस्या का निराकरण करवाया जा सकता है।







एसपीएल रिपोर्टिंग के लिए अजमेर चुना गया पायलट जिला
अजमेर, 17 जुलाई। आईडीएसपी के नए फाॅर्म एसपीएल की रिपोर्टिंग सिस्टम के लिए भारम सरकार द्वारा अजमेर का चयन पायलट जिले के रूप में किया गया है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. के.के.सोनी ने बताया कि स्वास्थ्य महानिदेशालय, दिल्ली से डाॅ.जयंति सिंह, ईएसआई अधिकारी, निदेशालय से डाॅ. नवीन चारंग, जयोईंट डायरेक्टर एनसीडी,डाॅ. दीपा मीणा,स्टेट ऐपिडिमियोलोजिस्ट, डाॅ.रूचि सिंह,स्टेट माइक्रोबायलाजिस्ट द्वारा आईडीएसपी के नये फाॅर्म एस,पी,एल की रिपोर्टिंग सिस्टम के पायलेट प्रोजेक्ट के लिए भारत सरकार द्वारा राजस्थान मे अजमेर जिले को चुना गया है। इसके तहत नये एसपीएल फाॅर्म की रिपोर्टिंग के लिए सोमवार को जेएलएन मेडिकल काॅलेज का दौरा किया। एसपीएल फाॅर्म मे नई बीमारियो को जोडते हुये इनकी सुदृढ रिपोर्टिंग करने के लिए इस टीम द्वारा जेएलएन मेडिकल काॅलेज के पश्चात उपकेन्द्र तबीजी,पीएचसी सराधना,उपकेन्द्र केसरपुरा का निरीक्षण किया। उन्होंने संबंधित चिकित्सा अधिकारी व एएनएम से नये एस पी एल फाॅर्म के संबंध मे जानकारी दी। साथ ही सुझाव लिये और नये फाॅर्म भरने संबंधी दिशा निर्देश व जानकारी दी। टीम का आगामी दो सप्ताह तक विभिन्न चिकित्सा संस्थानो का दौरा किया जायेगा। टीम द्वारा सुझाव प्राप्त कर पायलट प्रोजेक्ट संबंधी जानकारी दी जाएगी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top