जैसलमेर  सोशल मिडियाॅ पर गलत कमेन्ट्स करना पडा महंगा,वाट्सएप पर धार्मिक भावनाआंे को भडकाने पर एक गिरफतार


पुलिस अधीक्षक की अपील सोशल मिडियाॅ पर गंदे एवं गलत कमेन्ट्स ना करे, अन्यथा की जावेगी कानूनी कार्यवाही

जैसलमेर  पुलिस थाना कोतवाली में वाट्सएप ग्रुप पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहॅूचाने वाले कमेन्ट्स करने पर मुकदमा दर्ज कर अनुंसधान शुरू किया गया तथा उच्चााधिकारियांे को सुचित किया किया गया। मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक जिला जैसलमेर गौरव यादव के निर्देशानुसार पारस सोनी (प्रोबे0) आरपीएस थानाधिकारी पुलिस थाना कोतवाली के नेतृत्व में एक टीम गठित कि गई जिसमें अरूण कुमार उनि, हैड कानि. गुमानसिंह कानि. जगदीशदान, दिनेश चारण एवं तकनिकी सहायता के लिए डीसीआरबी से भीमरावसिंह एवं मुकेश बीरा को शामिल किया गया।

दौराने अनुसंधान टीम द्वारा ग्रुप में आये कमेन्ट्स की जाॅच की गई तथा ग्रुप एडमीन एवं अन्य सदस्यों से पुछताछ की गई । दौराने पुछताछ टीम द्वारा ग्र्रुप मेें से गलत कमेन्ट्स करने वाले मोबाईल नम्बर को चिहिन्त कर उक्त नम्बर के मोबाईल धारक के बारे मंे जानकारी प्राप्त कि गई तो उक्त नम्बर मोती सोलंकी पुत्र रूगाराम सोलंकी निवासी अम्बावाडी शिव, बाडमेर के रूप में पहचान होने पर टीम द्वारा तुरंत उसके पेतृक गाॅव पहूॅच, कार्यवाही करते हुए दस्तयाब किया गया। दौराने पुछताछ चिन्हित नम्बर को दस्तयाब व्यक्ति द्वारा स्वयं का बताने एवं स्वयं द्वारा कमेन्ट्स करने की बात स्वीकार करने पर मोती सोलंकी पुत्र रूगाराम सोलंकी निवासी अम्बावाडी शिव, बाडमेर का आईटी एक्ट के तहत गिरफतार किया गया।

जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा अपील

समस्त जिलेवासियों से अपील की जाती है कि सोशल मिडियाॅ का उपयोग करते वक्त पूर्ण सावधानियाॅ रखे तथा किसी भी व्यक्ति विशेष, जाति, वर्ग, धर्म या किसी विषय को लेकर गंदे या गलत कमेन्टस ना करे जिससे कानून व्यवस्था की स्थिति पैदा हो जाये तथा आपके विरूद्ध कठोर कार्यवाही अमल लाई जाने की नोबत आ जाये। इसलिए ना गलत कमेन्टस करे तथा गलत कमेन्टस करने वाले को समझाऐ। अन्यथा गलत एवं गंदे कमेन्ट्स करने वालों के खिलाफ कठोर कानून कार्यवाही की जावेगी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top