edvertise

edvertise
barmer

सवाई माधोपुर महिला की हत्या का पर्दाफास 
जयपुर 16 जुलाई । पुलिस अधीक्षक जिला सवाई माधोपुर श्री मामन सिंह ने बताया कि 13 जुलाई को मीणा चौथ का बरवाडा के धर्मशाला कमरा न0 3 मे एक महिला के मृत मिलने एंव साथ आये युवक के धर्मशाला मे नही मिलने पर थाना चौथ का बरवाडा पुलिस को सूचित किया गया एंव मौके का एफएसएल टीम की मोजूदगी मे घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण किया गया ।

मृतिका की पहिचान एंव आरोपी की धरपकड हेतु दिये गये निर्देशो के क्रम मे मृतिका की पहचान हेतु धर्मशाला के रजिस्टर सें प्राप्त नाम पता व मोबाईल न0 की जानकारी की गई तो दिये गये पते की सकूनत एसएचओ तालेडा जिला बून्दी से की गई तो दिये गये पते का कोई भी व्यक्ति और महिला का थाना क्षेत्र मे नही होना स्पष्ट जाहिर किया जिससे हत्या की प्रबल आांका गहरा गइ, जिस पर थाना चौथ का बरवाडा पर मुकदमा न0 136/17 धारा 302 आईपीसी मे दर्ज करा अनुसंधान थानाधिकारी थाना चोथ का बरवाडा से शुरू कराया गया ।

आरोपीयान की तलास हेतु विशेष टीम अति0 पुलिस अधीक्षक सवाई माधोपुर श्री दशरथ सिह के निर्देशन एंव वृताधिकारी वृत ग्रामीण सवाई माधोपुर श्री सम्पत सिह के नेतृत्व मे का0 अपराध सहायक श्री जितेन्द्र सिह, थानाधिकारी थाना चौथ का बरवाडा श्री रामवीर सिह, एएसआई श्री मुरारी लाल , हैड कानि0 श्री जुगल किोर , कानि0 बत्तीलाल , प्रदीप , मुके गुर्जर , महेन्द्र , सुरे की टीम आरोपीयान की धरपकड हेतु बनाई गई ।

मृतका की शिनाख्त नही हो पाये जाने के कारण मामला अतिगम्भीर और पेचीदा हो गया । मृतिका की शिनाख्त हेतु समस्त जिलो मे प्रेस नोट जारी किया गया । जिले की सीमाओ से लगने वाले एंव हाडौती क्षेत्र के जिलों के पुलिस अधीक्षकां से मृतिका की िनाख्त हेतु व्यक्तिः सम्पर्क किया गया, जिस पर पुलिस अधीक्षक बारां श्री डी0डी0सिह द्वारा मृतका की पहचान को अल्प समय मे सुनिचित करा दिया गया जिस पर मृतका का पोस्टमार्टम उसके परिजनो को बुलवाया जाकर मेडिकल बोर्ड से कराया गया ।

दौराने पोस्टमार्टम परिजनो से पूछताछ एंव मृतका के स्थानीय पुलिस थाने से सदिग्ध चरित्र के व्यक्तियो के बारे मे पूछताछ की तो, विनोद राव नामक युवक का मृतिका के सम्पर्क मे होना सामने आया जिसकी सायबर टीम की मदद से कोटा मे लोकेन होना ताईद हुआ एंव आरोपी के फरार हो जाने की सम्भावनाओ के चलते सदिग्ध की धरपकड हेतु पुलिस अधीक्षक कोटा शहर श्री अंशुमान सिह भौमिया को निवेदन किया जिन्होने प्रकरण को अति गम्भीरता से लेते हुये अपनी टीम के द्वारा सदिग्ध को कोटा शहर से धर दबोचा एंव पुलिस टीम चौथ का बरवाडा को सुपुर्द किया ।

आरोपी से अनुसंधान किया गया तो बताया की ‘‘ मै पहले से ही शादीशुदा हूॅ एंव मृतिका माया से पिछले 18 माह से सम्पर्क मे था मृतिका माया मेरे साथ रहने का एंव साथ रखने का कह रही थी मैने योजना बना कर माया को मारनें के लिये कोटा से ही जहर की गोलिया लेकर साथ मे रखी एंव माया को मन्दिर घूमाने के बहाने चौथ का बरवाडा लेकर आया एंव योजना के तहत की पहिचान उजागर नही हो इसलिये धर्माला मे गलत नाम पता एंव मोबाईल न0 लिखाये एंव माया के पेट र्दद की शिकायत जो हमेशा होती थी मे मेडिसन के बहाने जहर की टेबलेट उसे दे दी एंव उसको बेहो कर एंव कमरे से मृतिका के द्वारा की गई उल्टीयो को साफ कर एंव यह सुनिचित कर की माया की टेबलेट से मृत्यु हो गयी है कमरे से उसके कपडे एंव मोबाईल उठाकर बाहर से गेट बन्द कर चला गया ‘‘ इस पर आरोपी को प्रकरण मे गिरफतार किया गया है ।

प्रकरण मे श्री अंशुमान सिह भौमिया, पुलिस अधीक्षक कोटा शहर व उनकी टीम के विशेष प्रयासो से आरोपी की गिरफतारी एंव शपुलिस अधीक्षक बारा श्री डीडी सिह एंव उनकी टीम के प्रयासो से मृतका की अल्प समय मे मात्र हुलिये से पहिचान होने पर जिला पुलिस टीम द्वारा महज दो दिन मे ब्लाइन्ड मर्डर का खुलासा करते हुये आरोपी विनोद रावल (राव)पुत्र बंजरग जाति रावल (राव) उम्र 35 साल नि0 ग्रांम बोरदा थाना मांगरौल जिला बारां को बापर्दा गिरफतार किया है। प्रकरण में अनुसंधान जारी है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top