edvertise

edvertise
barmer

सांवराद (नागौर)। आनंदपाल के अंतिम संस्कार पर फैसला नहीं, समाज के लोगों का धरना जारी


सांवराद (नागौर)। गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के शव के अंतिम संस्कार को लेकर कोई निर्णय नहीं हो पाया है। सरकार और समाज के लोगों के बीच वार्ता के बाद भी अंतिम संस्कार पर सहमति नहीं बन पाई है। अानंदपाल का शव नागौर जिले में उसके पैतृक गांव सांवराद स्थित घर में डीप-फ्रिज में रखा हुआ है। परिजन घर में शोकसभा में बैठे हैं वहीं, रावणा राजपूत और राजपूत समाज के लोग घर के पास खेत में टेंट लगाकर धरने पर बैठे हैं। आनंदपाल के परिजनों की मांग है कि पूरे मामले की सीबीआई जांच हो। इसके अलावा छह और मांगे हैं, लेकिन सरकार मांगों पर गौर नहीं कर रही है। राजपूत और रावणा राजपूत समाज के लोग भी परिजनों के साथ हैं। सरकार पर दबाव बनाने के लिए करणी सेना ने प्रदेशभर से समाज के लोगों से 12 जुलाई को सांवराद पहुंचने का आह्वान किया है। - करणी सेना के संयोजक लोकेंद्र सिंह कालवी ने हाल ही डीडवाना में कहा था कि सरकार पर दबाव बनाने के लिए समाज एकजुट होगा।

आनंदपाल के अंतिम संस्कार पर फैसला नहीं, समाज के लोगों का धरना जारी

पुलिस चौकस- मेगा हाइवे से सांवराद जाने वाले रास्ते पर अस्थाई चौकी बनाकर पुलिस हर गतिविधि पर नजर रख रही है। गांव जाने वाले सभी वाहनों की जांच की जा रही है। प्रशासनिक अधिकारियों और सरकार के स्तर पर कई बार बातचीत के बावजूद इस मामले में कोई हल नहीं निकला है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top