edvertise

edvertise
barmer



 
जैसलमेर बायो मेडीकल वेस्ट का निस्तारण नहीं करने वाले अस्पताल होगें जब्त
जैसलमेर, 17 जुलाई। जिला मुख्यालय पर निजी चिकित्सालयों द्वारा उनका बायो मेडीकल वेस्ट नियमानुसार निस्तारित नहीं करने पर उनके विरुद्ध नोटिस तथा जब्तगी की कार्यवाही की जाएगी। जिले में पानी, बिजली, सडक, स्वास्थ्य आदि आवष्यक सेवाओं की साप्ताहिक समीक्षा के दौरान सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने इस आषय के निर्देष दिये।

इस मौके पर जिला कलक्टर ने बताया कि बारिष के बाद शहर में गन्दगी हो जाती है जिसे अविलम्ब साफ किया जायें एवं जिला अस्पताल एवं सार्वजनिक स्थानों पर साफ-सफाई चाक चैबन्द रखी जाए। इस दौरान नगरपरिषद आयुक्त ने बताया कि जिला मुख्यालय पर श्रीजवाहिर चिकित्सालय समेत निजी अस्पतालों की जल निकासी व्यवस्था दुरस्त नहीं है तथा न ही उचित तरीके से वहां बायो मेडीकल वेस्ट का नियमानुसार खड्डा बना कर निस्तारण किया जाता है। इस पर जिला कलक्टर मीना ने माहेष्वरी अस्पताल समेत सभी निजी चिकित्सालयों में नियमानुसार बायो मेडीकल वेस्ट का निस्तारण नहीं करने के लिए नगरपरिषद को नोटिस जारी करने तथा जब्तगी की कार्यवाही अमल में लाने के निर्देष दिये। बैठक में बताया गया कि श्रीजवाहिर जिला चिकित्सालय में वर्षा के दौरान जल निकासी की पुख्ता व्यवस्था नहीं है तथा यहां से गुजरने वाली सीवरेज लाईन से शहर भर का गंदा पानी एकत्र हो जाता है। इसलिए उन्होंनंे यहां पांच होर्स पाॅवर का मंडपंप लगाकर नगर परिषद को स्थाई जल निकासी व्यवस्था करने की हिदायत दी ताकि वर्षा के दौरान जिला चिकित्सालय साफ-सुथरा रहें एवं यहां गंदगी एवं मच्छर नहीं पनप पाएं।

इस दौरान जिला कलक्टर ने जिले में स्वास्थ्य सेवाओं की विस्तृत समीक्षा की। उन्होंनें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी व प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को निर्देष दिये कि वर्षाकाल में सर्पदंष की घटनाओं में बढोतरी हो जाती है इसलिए जिले के सभी चिकित्सा संस्थानों में पर्याप्त मात्रा में सर्पदंष के इंजेक्षन उपलब्ध रखे जाएं। उन्होंने पुराने राजश्री के भुगतान के जो मामले है उसकी संपूण सूचना सहित सूची उपलब्ध करावें एवं इस कार्य में वे व्यक्तिगत रूचि लेकर संबंधित के बैंक खाते मंगवाकर एक सप्ताह में भुगतान करवा के शून्य की स्थिति में लावें। उन्होंनंे इसको सर्वोच्च प्राथमिकता से लेने के निर्देष दिए। उन्होंनंे पानी के सेम्पल जांच प्रभावी ढंग से करने के साथ ही वर्षा काल में जल जनित बीमारियों के उपचार की समुचित व्यवस्था सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर करने के निर्देष दिए। उन्होंनंे प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को निर्देष दिए कि वे जिला अस्पताल में मरीजों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करावें वहीं वार्डो व शौचालयों की सफाई व्यवस्था में और अधिक सुधार लावंे।

उन्होंनें नगर परिषद को निर्देष दिये कि वे शहर में बारीष के मौसम के दौरान सफाई व्यवस्था में सुधार लावें वहीं किसी भी सूरत में नाले का गंदा पानी ओवरफ्लों न हों उनके पुख्ता प्रबंध करावें। वहीं आवारा पषुओं की धरपकड कर उन्हें गौषालाओं में भिजवानंे एवं साथ ही जो व्यक्ति शहर में पषु रखते है उनको भी समझाईष करें कि अपने पषुओं को खुला नहीं छोडें। जिला मुख्यालय पर नगर परिषद द्वारा पेयजल आपूर्ति व्यवस्था में जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने सुधार के निर्देष दिये।

उन्होंनें विद्युत विभाग के अधिकारी को निर्देष दिये कि वे वर्षा काल के दौरान बिजली आपूर्ति नियमित रखी जाएं तथा वर्षा से बिजली तंत्र क्षतिग्रस्त होने पर उसकी बहालगी तुरन्त करना सुनिष्चित करने के निर्देष दिये। उन्होंनें डीजल संचालित नलकूपों को सौर उर्जा पर आधारित करने के लिए बजट घोषणा के क्रियान्वयन कार्य को अविलम्ब रूप से चालू करने को कहा। साथ ही खराब हैण्डपंपों व नलकूपों को सूचना पर तत्काल ठीक करने को कहा।

जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग से रामदेवरा जाने वाले पैदल यात्रियों के पथ निर्माण की प्रगति की जानकारी ली एवं इससे आगामी भादवा मेले से पूर्व इसे पूर्ण करने को कहा। साथ ही बनाएं गए पैदल पथ में बडे पत्थर तथा कंकरों को हटाकर इसे सुगम्य बनानें के निर्देष दिए। उन्होंनंे पीडब्ल्यूडी अधिकारी से गौरव पथ के निर्माण की जानकारी ली एवं जिला कलक्टर ने शेष गौरव पथ के निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देष दिये।

इससे पूर्व अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी ने गत सप्ताह के दौरान विभिन्न विभागीय सेवाओं की प्रगति से अवगत कराया तथा बकाया कार्यो की जानकारी दी। बैठक में पानी, बिजली, सडक, स्वास्थ्य आदि विभागों से जुडें जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थें।

-----000-----



 नोख  में जिला कलक्टर आज करेगें रात्रि चैपाल
जैसलमेर, 17 जुलाई। जिला मुख्यालय से दुरस्थ स्थित ग्रामपंचायत नोख में मंगलवार 18 जुलाई को जिला स्तरीय रात्रि चैपाल आयोजित की जाएगी। इसमें जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना पंचायत मुख्यालय नोख के अटल सेवा केन्द्र में ग्रामीणों की समस्याओं की मौके पर सुनवाई करेगें।

इस चैपाल के दौरान पानी, बिजली, सड़क, स्वास्थ्य, पषु चिकित्सा आदि विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी भाग लेगें। जिला कलक्टर ने इस ग्रामपंचायत के समस्त ग्रामीणजनों से आग्रह किया है कि वे रात्रि चैपाल के दौरान अधिकाधिक संख्या में उपस्थित होकर अपनी समस्याओं का समाधान कराएॅं।


जिला क्रीड़ा परिषद की बैठक बुधवार को
जैसलमेर, 17 जुलाई। जिला क्रीड़ा परिषद जैसलमेर की बैठक 19 जुलाई बुधवार को दोपहर 12ः00 बजेः कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना की अध्यक्षता में त्रैमासिक बैठक आयोजित की जाएगी।

यह जानकारी जिला खेल अधिकारी एवं पदेन सचिव जिला क्रीड़ा परिषद जैसलमेर लक्ष्मणसिंह तंवर ने दी। उन्होंने संबंधित विभागीय अधिकारियों को बैठक में नियत समय पर उपस्थित होने का आग्रह किया है।

---000--

अध्ययनरत निर्धन परिवारों के विद्यार्थियों को

इंजीनियरिंग व मेडिकल में निःषुल्क कोचिंग

जैसलमेर, 17 जुलाई। जिला प्रषासन द्वारा सरकारी विद्यालयों में पढने वाले विद्यार्थियों के लिए कोचिंग निःषुल्क कोचिंग उपलब्ध करवाना प्रस्तावित है। इसके लिए पूर्व में एक प्रवेष परीक्षा आयोजित की जाएगी जो कि 23 जुलाई को अमर शहीद सागर मल गोपा विद्यालय में आयोजित की जाएगी।

अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी ने बताया कि जिले के सरकारी विद्यालयांे में अध्ययनरत ऐसे विद्यार्थी जिन्होंनें 70 प्रतिषत से अधिक अंक बोर्ड परीक्षाओं में अर्जित किये है उनके लिए जिला स्तर पर इस प्रवेष परीक्षा का आयोजन 23 जुलाई को किया जाएगा। उन्होंनें बताया कि इसके लिए कार्य योजना तैयार की गई है जिसमें राजकीय विद्यालयांे में अध्ययनरत जिन विद्यार्थियों ने 2017 बोर्ड परीक्षाओं में 70 प्रतिषत से अधिक अंक अर्जित किए है वे मेडिकल व इंजिनियरिंग प्रवेष परीक्षाओं के लिए कोचिंग संस्थानों में निःषुल्क तैयारी के लिए अध्ययन करना चाहते है वे 19 जुलाई तक जिला षिक्षा अधिकारी(माध्यमिक) के कार्यालय में सम्पर्क कर फार्म प्राप्त कर 20 जुलाई को जमा करवा सकते है।

----000----

श्री बारूपाल को श्रद्वाजंलि अर्पित
जैसलमेर, 17 जुलाई। कोष कार्यालय जैसलमेर में सहायक कोषाधिकारी के पद पर कार्यरत मोहनलाल का शनिवार को हदय गति रूकने से आकस्मिक निधन होने पर सोमवार को कोष कार्यालय में राजस्थान एकाउण्ट एसोसिएषन एवं कोष कार्यालय तथा कलेक्ट्रेट के पदाधिकारियों/ कार्मिकों द्वारा 2 मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्वाजंलि देकर उनके छायाचित्र पर माल्यापर्ण किया एवं ईष्वर से दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए प्रार्थना की गई।

श्रद्वाजंलि सभा के अवसर पर कोषाधिकारी जसराज चैहान ने श्रद्वांजलि अर्पित करते हुए श्री मोहनलाल को कर्तव्यनिष्ठ हसमुख स्वभाव के धनी बताते हुए उनके सहयोगात्मक व्यवहार की मुक्त कंठों से प्रषंसा की। अतिरिक्त कोषाधिकारी देवकिषन पंवार ने उन्हें मिलनसार एवं सकारात्मक सोच का व्यक्तित्व बताते हुए कहा कि वे कोषालय की नींव थें। राजस्थान एसोसिएषन के अध्यक्ष श्यामलाल पंवार ने उनके निधन पर लेखा संवर्ग की अपूर्णीय क्षति बताते हुए उनके कार्यषैली की प्रषंसा की। वरिष्ठ लेखा कर्मी हरीवल्लभ ओझा ने कहा कि मोहनलाल जी की सबसे बडी विषेषता यह की हर व्यक्ति को संतोषजनक प्रत्युत्तर देकर उसकी पीडा का निवारण करते थे।

सहायक लेखाधिकारी आनन्द जगाणी ने उन्हें श्रद्वाजंलि देते हुए कहा कि वे अपने साथियों के साथ मित्रवर व्यवहार व उनकी कार्यशैली सदैव प्रेरणा देती रहेगी। इस श्रद्वांजलि के अवसर पर लेखाकर्मी राधेष्याम भाटिया, नवल नागौरी, जयप्रकाष व्यास, देवकिषन भाटी, ओमप्रकाष केला, भभूताराम, नेमीचंद नागौरी, षिवदान, वर्षा पंवार, रमण भारती, बंषीलाल प्रजापत, विक्रम भाटी, खुदाबक्ष, खेताराम जयपाल ने श्रद्वाजंलि अर्पित की।




0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top