edvertise

edvertise
barmer





बाड़मेर, कनोड़ा, लाखेटाली एवं भादरेस मंे पानी मंे फंसे सैकड़ांे लोगांे को सुरक्षित निकाला
-जिला कलक्टर की अगुवाई मंे शनिवार शाम तक जारी रहा राहत प्रबंधन अभियान।

बाड़मेर, 29 जुलाई। जिले मंे विभिन्न स्थानांे पर बारिश के पानी मंे फंसे सैकड़ांे लोगांे को जिला प्रशासन एवं पुलिस की राहत टीमांे ने सुरक्षित निकाला। इनको सुरक्षित स्थानांे पर ठहराने के साथ इनके भोजन की समुचित व्यवस्था करवाई गई है। इधर, कवास कस्बे मंे पानी की आवक की आशंका के मददेनजर आमजन से सावधानी बरतने की चेतावनी दी गई है।

बाड़मेर जिले की लाखेटाली मंे जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते एवं पुलिस उप अधीक्षक ओमप्रकाश उज्जवल के निर्देशन मंे लाखेटाली मंे बारिश के पानी मंे फंसे कई परिवारांे को बाहर निकाला गया। इसी तरह सियागो की ढाणी जालीपा मंे अपनी ढाणी मंे पानी से घिरे वेरनाराम, रामदान, देवी, पुनमाराम, केशीदेवी, चेमू, भोमाराम, प्रमिला, उर्मिला समेत 25-30 लोगांे को निकालकर सुरक्षित स्थानांे पर पहुंचाया गया। चापरी भादरेश मंे पानी से घिरे घरांे से भी लोगांे को सुरक्षित स्थानांे पर पहुंचाया गया। इसी तरह बाड़मेर उपखंड अधिकारी चेतन कुमार त्रिपाठी की अगुवाई मंे विशाला ग्राम पंचायत के कनोड़ा मंे फंसे अनोपाराम सुथार के परिवार को सुरक्षित निकाला गया। कनोड़ा निवासी अनोपाराम सुथार के बारिश के पानी मंे फंसने की सूचना मिलने पर उपखंड अधिकारी चेतन कुमार त्रिपाठी, ग्रामीण थानाधिकारी धनापुरी, समाजसेवी भाखरसिंह,कांस्टेबल जीतराम मीणा एवं सरूपसिंह ने इस परिवार को ढाणी से सुरक्षित निकालकर विशाला पहुंचाया। इसी तरह भादरेस मंे पावर प्लांट के समीप फंसे 30-40 लोगांे को भी सुरक्षित निकालकर विद्यालय मंे ठहराया गया। जिला रसद अधिकारी की ओर से इन लोगांे के भोजन की समुचित व्यवस्था करवाई गई। इसी तरह उदयनगर मंे पानी का भराव होने पर बाड़मेर विकास अधिकारी नवलाराम चौधरी के निर्देशन मंे जेसीबी से पानी निकासी करवाई गई। जिला प्रशासन ने कवास के ग्रामीणांे से सुरक्षित स्थानांे पर रहने एवं सावचेती बरतने की अपील की है। साथ ही आपातकालीन स्थिति मंे दूरभाष 02982-222226 पर सूचना देने को कहा गया है।

नवप्रवेशित बालक-बालिकाआंे का अभिनंदन समारोह आयोजित
बाड़मेर, 29 जुलाई। स्थानीय अंतरीदेवी राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय बाड़मेर मंे कक्षा 1 से 12 तक की नव प्रवेशित बालकियांे का अभिनंदन किया गया।

इस अवसर पर राजेश महरवाल ने बालक-बालिकाआंे को ज्यादा से ज्यादा प्रवेश दिलाने तथा पढ़-लिखकर ज्यादा से ज्यादा प्रवेश दिलाने तथा पढ़-लिखकर महान बनने बात कही। उन्हांेने कहा कि गत बार विद्यालय को उत्कृष्ट विद्यालय का खिताब मिला था। इस बार भी अंतरीदेवी विद्य़ालय मंे बारहवीं कक्षा का परिणाम 98.05, दसवीं का 83.05 तथा अष्ठम एवं पंचम बोर्ड का परिणाम शत-प्रतिशत रहा है। इस वर्ष अब तक 200 नवीन प्रवेश विद्यालय मंे हो चुके है और प्रवेश प्रक्रिया जारी है। समारोह मंे प्रत्येक कक्षा के विद्यार्थियांे को बारी-बारी से मंच पर आमंत्रित किया गया। कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत संस्था प्रधान राजेश महरवाल ने सरस्वती मां की तस्वीर के आगे दीप प्रज्जवलित करके की। संस्था प्रधान ने तिलक लगाकर एवं शांति चौधरी एवं शेरसिंह ने बालक-बालिकाआंे का मुंह मीठा करवाया। अलका चौधरी एवं पुष्पा मंगलिया ने मौली बांधकर स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय विकास समिति के सचिव व्याख्याता जे.पी.शारदा ने किया।

अंतरीदेवी विद्यालय मंे बाल संसद का गठन
बाड़मेर, 29 जुलाई। स्थानीय अंतरीदेवी बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय बाड़मेर मंे मतदाता जागरूकता अभियान के तहत बाल संसद का गठन किया गया।

इस दौरान संस्था प्रधान राजेश महरवाल ने मतदान की प्रक्रिया आवश्यकता एवं महत्व के बारे मंे बताते हुए मतदान की बारीकियां समझाई। इस अवसर पर विद्यालय के सचिव व्याख्याता जे.पी.शारदा के निर्देशन मंे वोटिंग पद्वति से चुनाव कराए गए। सभी कक्षाआंे से प्रति कक्षा से दो-दो सदस्य चुने गए। कक्षाआंे से चुने गए प्रतिनिधियांे से बाल संसद मंे राष्ट्रपति पद पर गीता प्रजापत, प्रधानमंत्री पद पर जयश्री छंगाणी, खेलकूद मंत्री नमीता एवं सदस्य गैरो, भानू, अनुशासन मंत्री जनक बारहठ, सदस्य रिषिता एवं जयश्री पी तथा स्वच्छता एवं स्वास्थ्य मंत्री निकिता शर्मा तथा सदस्य ऋतु एवं जयश्री, पेयजल एवं प्रतियोगिता मंत्री गोमती एवं सदस्य माया एवं देवी को चुना गया। मतदाता जागरूकता अभियान के अन्तर्गत प्रभारी कमला खेमानी ने बताया कि वाद विवाद प्रतियोगिता के पक्ष मंे जयश्री छंगाणी प्रथम, निकिता शर्मा द्वितीय तथा विपक्ष मंे भावना कुमारी प्रथम, रितिका द्वितीय रहे। चित्रकला प्रभारी पुष्पा मंगलिया ने बताया कि चित्रकला प्रतियोगिता मंे पल्लवी जांगिड़ प्रथम, रीकू कंवर द्वितीय एवं डिम्पल सोढ़ा तृतीय रहे। निबंध प्रभारी कमला खेमानी ने बताया कि प्रथम दिव्या राजपुरोहित, द्वितीय सिमरन पुरोहित तथा तृतीय हीना बालवानी रही। इस अभियान के बारे मंे उषा रामावत, विनिता आचार्य, अलका चौधरी ने विचार व्यक्त किए। अंत मंे राजेश महरवाल ने सबको शुभकामनाएं दी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top