edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर राष्ट्रीय धरोहर सोनार दुर्ग के संरक्षण के लिए विषेष प्रयास करने की जरूरत-जिला कलक्टर

दुर्ग के संरक्षण एवं समस्या समाधान पर विस्तार से समीक्षा


जैसलमेर, 06 जुलाई। जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने कहा कि जैसलमेर का सोनार दुर्ग राष्ट्रीय धरोहर है एवं इसके संरक्षण व संवर्धन के लिए विषेष प्रयास करने की जरूरत है। उन्होंनंे आयुक्त नगर परिषद को निर्देष दिये कि वे दुर्ग के संरक्षण एवं वहां की समस्याओं के समाधान के लिए मौके पर जाकर एक चेकलिस्ट तैयार करें एवं उसके बाद आवष्यक कार्यवाही सुनिष्चित करावें। उन्होंनंे दुर्ग की सीवरेज सिस्टम, पेयजल आपूर्ति व्यवस्था एवं अन्य बिन्दुओं पर विस्तार से समीक्षा की एवं कहा कि इसमें सुधार लाने के लिए विषेष कार्य योजना बनाई जावें।

जिला कलक्टर मीना ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में सोनार दुर्ग के संरक्षण एवं उनकी समस्रूाआंे के समाधान के संबंध में आयोजित बैठक के दौरान यह उद्गार व्यक्त किए। बैठक में नगर परिषद सभापति श्रीमती कविता खत्री, नगर विकास न्यास के अध्यक्ष डाॅ जितेन्द्र सिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी, उप अधीक्षक पुलिस नरेन्द्र कुमार दवे, दुर्ग के वार्ड पार्षद अरविन्द व्यास के साथ ही अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थें। जिला कलक्टर ने आयुक्त नगर परिषद को निर्देष दिये कि दुर्ग के अन्दर एक भी पषु विचरण नहीं करें इसके लिए 3 सुरक्षा गार्डो को लगाकर 8-8 घण्टे की ड्यूटी दे दें ताकि वे इस व्यवस्था को सुचारू रूप से लागू करा सकें। उन्होंनें दुर्ग में नियमित रूप से विषेष सफाई व्यवस्था करानें एवं उसको स्वच्छ एवं सुन्दर बनाएं रखने के लिए पुख्ता प्रबंध करने के निर्देष दिये।

उन्होंनें आयुक्त को निर्देष दिए कि वे दुर्ग में जो भी अतिक्रमण है उसको चिन्ह्ति कर उसको हटाने की कार्यवाही करावें एवं उसको लिए दुर्ग के वार्ड पार्षद के साथ ही अन्य दुर्ग वासियों का पूरा सहयोग लें। बैठक के दौरान पार्षद व्यास ने बताया कि दुर्ग के उपर पानी की जो टंकी बनी है उसकी हालत अच्छी नहीं है एवं उसको गिराकर नई टंकी बनाने की जरूरत है। इस संबंध में जिला कलक्टर ने आयुक्त व अधीक्षण अभियंता जलदाय को निर्देष दिये कि वे आज ही इसका मौका देखकर हेरीटेज लूक देते हुए पानी की टंकी की कार्य योजना बनावें एवं विषेष वाहक भारतीय पुरातत्व विभाग दिल्ली में भेजकर इसके निर्माण की अनुमति प्राप्त करें।

जिला कलक्टर ने पार्षद की मांग पर रूडीप के अभियंता को निर्देष दिये कि जिन 25 घरों का सीवरेज मोरी में जा रहा है जिससे पानी का रिसाव दीवार में हो रहा है उसकी आयुक्त नगर परिषद के साथ आज ही मौका देखकर इन घरों के सीवरेज सिस्टम के स्थाई समाधान के लिए कार्य योजना बनाकर आवष्यक कार्यवाही करने के निर्देष दिये। उन्होंनें यह भी हिदायत दी कि दुर्ग में किसी भी प्रकार का पानी सीपेज नहीं हो इसके लिए भी पुख्ता प्रबंध करें वहीं जो भी सीवरेज के होदी के ढक्कन नहीं है उनको तत्काल ही लगाने की कार्यवाही कर दें।

उन्होंनें निर्देष दिये कि दुर्ग के उपर किसी भी प्रकार का वाहन नहीं जाए इसके लिए भी पुख्ता प्रबंध किए जावें एवं इस संबंध में उप अधीक्षक पुलिस को कहा कि वे नगर परिषद का सहयोग लेकर यह सुनिष्चत करें कि मात्र 2-3 टैक्सी ही दषहरा चैक के आगे के मैदान में एक समय में खडी रहें एवं अन्य किसी प्रकार की टैक्सी या चारपहिया वाहन उस चैक तक नहीं जाए। उन्होंनें इसके लिए यातायात पुलिस कर्मियांे से पुख्ता प्रबंध कराने एवं इसकी नियमित प्रभावी माॅनेटरिंग करने के निर्देष दिये।

जिला कलक्टर ने अधीक्षण अभियंता विद्युत को निर्देष दिये कि दुर्ग पूर्ण रूप से खुले तारों से रहित हो इसके लिए रूडीप द्वारा दुर्ग के अन्दर अन्डरग्राउण्ड विद्युत केबलिंग के लिए जो डक दिए गए है इस संबंध में अन्डरग्राउण्ड विद्युत केबलिंग के लिए पूरा तकमीना तैयार कर नगर परिषद को प्रस्तुत करें ताकि इस कार्य के लिए बजट नगर परिषद द्वारा विद्युत विभाग को दिया जा सकें। उन्होंनें इस कार्य को प्राथमिकता से करने पर जोर दिया।

नगर परिषद सभापति श्रीमती कविता खत्री ने दुर्ग के अन्दर जो जर्जर मकान है उनको हटाने की कार्यवाही कराने की आवष्यकता जताई। नगर विकास न्यास के अध्यक्ष डाॅ. जितेन्द्रसिंह ने सीवरेज सिस्टम की पूरी जांच करानंे, भारतीय पुरातत्व सवेंक्षण विभाग से अनुमति लेकर नई हेरीटेज लुक की पानी की टंकी बनाने की आवष्यकता जताई। वार्ड पार्षद अरविन्द व्यास ने जिन 25 घरों को सीवरेज सिस्टम से नहीं जोडा है उसको सीवरेज सिस्टम से जोडाने, पानी की टंकी नई बनाने, सीवरेज चैक न हो इसका स्थाई समाधान करानें, नये घरेलू पानी व बिजली के कनेक्षन के लिए एनओसी दिलाने की आवष्यकता जताई।

बैठक में अधीक्षण अभियंता विद्युत सी.एस.मीना, जलदाय जे.पी.जोरवाल, आयुक्त झब्बरसिंह सौलंकी, रूडीप अभियंता संदीप माथुर, सहायक पर्यटन अधिकारी खेमेन्द्रसिंह जाम भी उपस्थित थें।

-----000-----







जिले में जमीन एवं सम्पदाआंे की बाजार दरों का पुनः निर्धारण के लिए

जिलास्तरीय समिति की बैठक 14 जुलाई को
जैसलमेर, 06 जुलाई। जिले के विभिन्न क्षेत्रों में जमीन एवं सम्पदाओं की बाजार दरों का पुनः निर्धारण करने के लिए जिला स्तरीय समिति की बैठक जिला कलक्टर एवं पदेन जिला पंजीयक कैलाष चन्द मीना की अध्यक्षता में 14 जुलाई को दोपहर 3 बजे कलेक्ट्रेट सभागार मंे रखी गई है।

अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी ने बताया कि इस बैठक में जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी, पोकरण विधायक शैतानसिंह राठौड, अध्यक्ष नगर परिषद श्रीमती कविता खत्री, अध्यक्ष नगर पालिका पोकरण आनंदीलाल गुचिया, पंचायत समिति सम प्रधान श्रीमती उषा राठौड, जैसलमेर अमरदीन, सांकडा अमतुल्ला मेहर, उप महानिरीक्षक पंजीयन जोधपुर के साथ ही संबंधित अधिकारियों को आमंत्रित किया गया है। उन्होंनंे उप पंजीयक जैसलमेर, पोकरण, फतेहगढ, भणियाणा, फलसूण्ड, रामगढ, सम, नोख को निर्देषित किया है कि वे डीएलसी दर निर्धारण के लिए जारी परिपत्रों एवं दिषा निर्देषों को ध्यान में रखते हुए अपने-अपने तहसील/नगरीय क्षेत्र की समस्त प्रकार की भूमियों संबंधी प्रस्तावित दरों के प्रस्ताव मय दरों में वृद्वि या कमी के पूर्ण औचित्य तथा आमंत्रित आपत्तियों तथा किए गए निवारण सहित प्रस्ताव तैयार कर 8 प्रतियों में पंजीयन लिपिक के साथ मय पेनड्राइव के 13 जुलाई तक आवष्यक रूप से जिला कलक्टर कार्यालय में भिजवाने की व्यवस्था करेगें।

-----000-----

कृषि संकाय में अध्ययनरत छात्राओं को मिलेगी प्रोत्साहन राषि

आवेदन की अन्तिम तिथि 31 अक्टूबर


जैसलमेर, 06 जुलाई। सहायक निदेषक कृषि विस्तार रणजीत सिंह सरवा ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा कृषि संकाय में अध्ययनरत छात्राओं को प्रोत्साहन राषि प्रदान की जा रही है। उन्होंनें बताया कि कृषि विषय लेकर सीनियर सैकण्डरी(10़2) में अध्ययनरत छात्राओं को प्रोत्साहन राषि 5 हजार रूपये प्रतिवर्ष की दर से 11 वीं एवं 12 वीं कक्षा के लिए, कृषि स्नातक एवं स्नातकोत्तर में अध्ययनरत छात्राओं को 12 हजार रूपये प्रतिवर्ष की दर से क्रमषः 4 व 2 वर्ष के लिए तथा पी.एच.डी में अध्ययनरत छात्राओं को 15 हजार रूपये प्रतिवर्ष 3 वर्ष के लिए दिये जाने का प्रावधान है।

उन्होंनें प्राचार्य राजकीय एसबीके महाविद्यालय, मिश्रीलाल सांवल राजकीय कन्या महाविद्यालय, राजकीय महाविद्यालय पोकरण एवं जिला षिक्षा अधिकारी माध्यमिक को पत्र पे्रषित कर आग्रह किया कि उनके कृषि संकाय में अध्ययनरत छात्राओं की सूची निर्धारित प्रारूप में तैयार कर मय आॅनलाईन आवेदन एवं मूल निवासी प्रमाण पत्र कार्यालय सहायक निदेषक कृषि विस्तार जैसलमेर को भिजवाना सुनिष्चित करें। आवेदन अन्तिम तिथि 31 अक्टूबर 2017 है।

उन्होंनें बताया कि इस योजना के अन्तर्गत प्रोत्साहन राषि का भुगतान केवल राजस्थान की मूल निवासी ऐसी छात्राओं को किया जावेगा जो राजकीय एवं राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त विद्यालयांे, महाविद्यालयों में अध्ययनरत है। गत वर्ष में अनुर्तीण या श्रेणी सुधार के लिए उसी कक्षा में पुनः प्रवेष लेने वाली, सत्र के मध्य षिक्षण संस्थान छोडकर जाने वाली छात्राओं को प्रोत्साहन राषि देय नहीं होगी। प्रोत्साहन राषि के लिए कृषि में अध्ययनरत छात्राओं का आवेदन निर्धारित प्रपत्र में भरकर ई-मित्र के माध्यम से आॅनलाईन कर कार्यालय सहायक निदेषक कृषि विस्तार जैसलमेर को भिजवाना है।

-----000-----

राजकीय कार्यालयों में समय की पाबंदी के लिए निरीक्षण दल गठित

जैसलमेर, 06 जुलाई। जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने एक आदेष जारी कर राजकीय कार्यालयों में समय की पाबंदी को सुनिष्चित करने के लिए निरीक्षण दल गठित किया जिसमें प्रभारी व सहप्रभारी लगाए है। ये निरीक्षण दल जिले में प्रत्येक माह के एक सप्ताह में किसी भी दिन उनके क्षेत्राधिकार में आने वाले विभागों का निरीक्षण करेगें।

जिला कलक्टर मीना द्वारा जारी आदेष के अनुसार उपखण्ड जैसलमेर/पोकरण/फतेहगढ/भणियाणा के लिए संबंधित उपखण्ड अधिकारी को प्रभारी व तहसीलदार को सहप्रभारी नियुक्त किया है। ये अधिकारीगण अपने-अपने क्षेत्र में सप्ताह के दौरान एक दिन अपने क्षेत्राधिकार में आने वाले समस्त राजकीय विभागों के कार्यालयों का निरीक्षण करेगें एवं उसकी रिपोर्ट उसी दिन ई-मेल कउ.रंप.तर/दपबण्पद निर्धारित प्रपत्र में कार्यालय जिला कलक्टर जैसलमेर को पे्रषित करेगें।

-----000-----









लाईफ लाईन प्रोजेक्ट एक्सपे्रस टेªन 25 सितम्बर से 16 अक्टूबर

तक जैसलमेर रेलवे स्टेषन पर रहेगी


जैसलमेर, 06 जुलाई। जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने एक आदेष जारी कर बताया कि बजाज फाइनेन्स के द्वारा ग्रामीण जनता एवं विकलांगो के लिए लाईफ-लाईन प्रोजेक्ट एक्सपे्रस ट्रेन 25 सितम्बर से 16 अक्टूबर तक जैसलमेर के रेलवे स्टेषन पर आगमन एवं प्रवास रहेगा। सर्जिकल एवं मेडिकल सुविधाओं से युक्त इस विषेष रेल में जिले के गरीबों एवं जरूरतमदों एवं निःषक्तजनों का निःषुल्क उपचार किया जाएगा।

जिला कलक्टर द्वारा जारी आदेष के अनुसार विषेष रेल के आगमन पर फाउण्डेषन के आने वाले व्यक्तियों के साथ समन्वय के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को लाईजन आॅफिसर एवं सहायक निदेषक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग को सहायक लाईजन आॅफिसर नियुक्त किया है। ये अधिकारी अपने-अपने स्तर पर स्वयंसेवी संस्थाओं से सम्पर्क कर आवष्यक व्यवस्थाएं सुनिष्चित करेगें एवं जरूरतमंद व्यक्तियों का निःषुल्क उपचार के लिए प्रेरित करेगें। इस रेल के प्रवास के दौरान शान्ति व्यवस्था के लिए पुलिस द्वारा पुख्ता प्रबंध किया जाएगा।

आदेष के अनुसार मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद, उपखण्ड अधिकारियों को निर्देष दिये कि वे इस विषेष रेल के बारे में ग्रामीण क्षेत्रों में सरपंच एवं ग्राम सेवकों तथा पटवारी गण के माध्यम से प्रचार-प्रसार कर जरूरत मंद व्यक्तियों को इससे लाभान्वित करवायेगें। उन्होंनंे सहायक निदेषक सूचना एवं जन सम्पर्क को निर्देष दिये कि वे इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करें ताकि जरूरतमंद इसका पूरा लाभ ले सकें।

-----000-----

जिला सैनिक कल्याण अधिकारी सुनेगें षिविर में भूतपूर्व सैनिकों/विधवाओं/आश्रितों की समस्या
जैसलमेर, 06 जुलाई। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल भोजराजसिंह राठौड 13 जुलाई को राजथाई, 20 जुलाई को पारेवर, 27 जुलाई को धायसर में षिविर आयोजित कर भूतपूर्व गौरव सैनिकों/विधवाओं/आश्रितों की समस्याएं सुनेगें एवं उनका समाधान करवाएगें।

उन्होंनंे इसके लिए सभी भूतपूर्व गौरव सैनिकों/विधवाओं/आश्रितों से कहा कि वे पूर्व सैनिक पहचान पत्र, डिस्चार्ज बुक व पीपीओ, राषन कार्ड, बैंक डायरी की छायाप्रति व पेंषन स्लीपे साथ में लावें।

-----000-----

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top