edvertise

edvertise
barmer



जालोर शहर में 7 हजार से अधिक लोग सुरक्षित स्थानों पर पहंुचें, नही हुई कोई जन हानि
जालोर 29 जुलाई - अतिवृष्टि व बाढ से उत्पन्न स्थिति तथा जवाईबांध से पानी छोडे जाने की चेतावनी के अन्तर्गत जिला प्रशासन द्वारा पूर्णतया सजगता बरते जाने के कारण शुक्रवार की देरी रात्रि तक जवाई नदी से प्रभावित होने वाले लगभग 7 हजार से अधिक लोग सुरक्षित स्थानों पर पहुंचें वही जालोर नगर में निर्धारित सहायता केन्द्रो पर 720 लोगों को ठहराया जाकर उनके लिए चाय व भोजन आदि का आवश्यक प्रबंध भी किया गया।

शुक्रवार की सांयकाल लगभग 6 बजे निकटवर्ती जवाई बांध के अभियन्ताओं द्वारा जिला प्रशासन को सूचना मिली की बांध में पानी की विशेष आवक को ध्यान में रखते हुए लगभग 9 गेट खोले जा रहे है इसलिए आवश्यक प्रबंधन किये जाये जिस पर जिला कलेक्टर एल.एन. सोनी ने तत्परता दिखाते हुए जिले में हाई अर्लट जारी किया वही जिले के सभी सभी उपखण्ड अधिकारियों, तहसीलदारों, विकास अधिकारियों तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जवाई नदी के किनारे बसे ग्रामों की निचली बस्तियों को शीघ्र खाली करवाकर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुचाया जायें। कलेक्टर ने इसके अतिरिक्त सोशल मीडिया व अन्य साधनों के द्वारा तत्काल सूचना दिये जाने के निर्देश देने के साथ ही उन्होनें स्वयं वायस मेसेज व वीडियो के द्वारा लोगों को सुरक्षित स्थानों तथा निर्धारित सहायता केन्द्रो पर जाने का आग्रह किया ।

जालोर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह ने भी तत्काल मामलें की गंभीरता को समझते हुए अपने अधीनस्थ तहसीलदार ममता लहुआ सहित अन्य राजस्व अधिकारियों तथा जालोर नगर परिषद के आयुक्त त्रिकमदान चारण ने अपने कार्मिको के माध्यम से जालोर के डूब क्षेत्रा यथा निचली बस्तियाॅ रूपनगर, एफसीआई काॅलोनी, रेल्वे स्टेशन, शिवाजी नगर व सामतीपुरा तथा लेटा आदि क्षेत्रों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए ध्वनि प्रसारण यन्त्रा के माध्यम से सूचना दी गई वही कार्मिकों को भी समझाईश के लिए भिजवाया गया। प्रशासन द्वारा रोडवेज की 2 बसे व निजी 2 बसों सहित विभिन्न सरकारी वाहनों आदि के माध्यम से भी लोगों को निर्धारित सहायता केन्द्रो पर लाया गया। जालोर नगर में नगर परिषद के सभा स्थल, राजेन्द्र नगर विद्यालय, प्रताप चैक की बालिका विद्यालय, देवासी छात्रावास एवं जैन बोर्डिग सहित विभिन्न सहायता केन्द्रों पर लगभग 720 लोग देर रात्रि में ही पहुचवायें गये जबकि लगभग 7 हजार से अधिक लोग अपने-अपने परिजनों के घरों पर चले गये। सहायता केन्द्रो पर रूके लोगों के लिए शनिवार को प्रातः चाय, नास्ता व भोजन आदि की भी व्यवस्था की गई है तथा आवश्यकता अनुसार यह निरन्तर जारी रहेगी। हाई अर्लट व चेतानवनी का असर यह हुआ कि रात्रि में वेग से पानी आने के बावजूद कोई जन हानि नही हुई।

जिला कलक्टर एल.एन. सोनी ने जिलेवासियों से आग्रह किया है कि निरन्तर वर्षा होने के कारण जिले की विभिन्न नदियों व नालों आदि में पानी चल रहा है इसलिए चलते पानी में वाहन आदि नही डालने के साथ ही अपने बच्चों का भी विशेष ध्यान रखें कि वे तालाब व पोखरों आदि में नहाने नही जायें।

----000---

रेल यात्रियों के लिए जिला प्रशासन ने की खाद्य सामग्री की व्यवस्था
जालोर 29 जुलाई - शनिवार को जिला प्रशासन को सूचना मिली कि जोधपुर जाने वाली सवारी गाडी जागनाथ हाल्ट व मादलपुरा के पास पटरियोें के नीचे पानी आने व अन्य तकनीकी कारणों से रूकी हुई है तथा यात्रियों के लिए भोजन व पानी की तत्काल जरूरत है जिसपर जिला कलेक्टर के निर्देश पर जालोर तहसीलदार मय जाब्ते के खाद्य सामग्री व पानी की बोतलेे लेकर पहुची तथा लगभग 350 यात्रिओं को बिस्किट व पानी के बोतले दी गई।

जालोर तहसीलदार ममता लहुआ ने बताया कि जिला कलेक्टर एल.एन.सोनी ने निर्देशित किया कि जोधपुर की तरफ जाने वाली रेल गाडी जागनाथ हाल्ट व मादलपुरा पर काफी समय से रूकी हुई है तथा दोपहर का समय हो जाने के कारण तत्काल खाद्य सामग्री व पानी आदि पहुचायें जिस पर तहसीलदार मय जाब्ते के घटना स्थल पर पहुची तथा 5 बिस्किट के काटूर्न व प्रर्याप्त मात्रा में पानी की बोतलों आदि को यात्रियों को वितरित किया गया। तहसीलदार ने निकटवर्ती लोगों व अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से बच्चों व अन्य लोगों के लिए भोजन आदि की भी व्यवस्था करवाई। तत्पश्चात रेल गाडी गतव्य स्थान के लिए रवाना हो गई ।

----000---

जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षक ने निचली बस्तियों का किया भ्रमण
जालोर 29 जुलाई - जिला कलक्टर एल.एन. सोनी एवं पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने शनिवार को मध्यान्ह में जालोर नगर की निचली बस्तियों का भ्रमण कर जल भराव वाले स्थानों को देखा तथा अधीनस्थ अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दियें।

जिला कलक्टर एल.एन. सोनी एवं पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने शनिवार को मध्यान्ह 3.00 बजे से 5.00 बजे तक जालोर नगर की निचली बस्तियाॅ रूपनगर, एफसीआई व रेल्वे स्टेशन आदि की काॅलोनियों आदि का भ्रमण किया तथा जल भराव वाली गलियों व मौहल्लों आदि में पानी की निकासी करने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया वही मौहल्ले वासियों से आग्रह किया कि जब तक जवाईबांध से पानी छोडा जा रहा है तब तक सुरक्षित स्थानों पर रहे व सतर्कता बरतें।

----000---

कर्मचारियों को रविवार को कार्यालयों में उपस्थित रहने के निर्देश
जालोर 29 जुलाई - जिला मुख्यालय पर स्थित सभी राजकीय कार्यालयों के अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देशित किया गया कि वे 30 जुलाई रविवार को कार्यालय में उपस्थित रहकर बाढ बचाव कार्य करें।

अतिरिक्त जिला कलक्टर नरेश बुनकर ने जिला मुख्यालय के स्थित सभी कार्यालय यथा कलेक्ट्रेट, रसद विभाग, उपखण्ड व तहसील आदि कार्यालय के सभी राजकीय कर्मचारियों को निर्देशित किया कि वे 30 जुलाई रविवार को कार्यालय आकर बाढ बचाव एवं आपदा प्रबंधन आदि कार्य को तत्परता से करें जिसके लिए उन्हें नियमानुसार क्षतिपूर्ति अवकाश देय होगा। उन्होनें यह भी निर्देशित किया आगामी निर्देशों तक कार्यस्थल नही छोडेंगे।

---000---

सीधी भर्ती वाले कर्मचारियों के वेतन बिलों में संशोधन करने के निर्देश
जालोर 29 जुलाई - कोषाधिकारी ने राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिले के वेतन वितरण अधिकारियों को निर्देशित किया कि सीधी भर्ती से नियुक्त जिन कर्मचारियों को गत 1 जुलाई, 2013 या उसके पश्चात् प्रारभ्भिक वेतन पर निर्धारित किया गया है उनकी वेतन वृद्धि स्थगित करते हुए पुनः संशोधित वेतन विपत्रा भिजवायें।

कोषाधिकारी कानाराम प्रजापत ने बताया कि वित्त विभाग के निर्देशानुसार ग्रेड पे-1750, 1900, 2000, 2400, 2800 एवं 4800 में सीधी भर्ती में नियुक्त जिन कर्मचारियों को 1 जुलाई, 2013 या उसके पश्चात् प्रारंभिक वेतन 1 जुलाई 2013 से प्रभावी न्यूनतम वेतन पर निर्धारित किया गया हैं उन्हें 1 जुलाई को देय वेतन वृद्धि स्थगित करते हुए जुलाई 2017 का वेतन देने का निर्णय लिया गया है। जिन-जिन वेतन आहरण अधिकारियों ने कोषालय व उप कोषालयों में वेतन विपत्रा भिजवाये है उन्हे जारी निर्देशों के अनुसार रिवर्ट कर दिया गया है। इसलिए कोष व उपकोष कर्काालय से बिल पुनः प्राप्त करते हुए ऐसे कर्मचारियों को वेतन वृद्धि स्थगित कर पुनः वेतन विपत्रा तैयार कर मय प्रमाण पत्रा अंकित कर भिजवायें ताकि जुलाई माह का वेतन बिल पारित हो सकें।

----000---


0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top