edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर,संयुक्त निदेशक ने जताया आभार,कहा सजगता से टली बड़ी घटना

- गौ वंश परिवहन के दौरान पर्याप्त सुरक्षा एवं सहयोग का भरोसा दिलाया।


बाड़मेर, 13 जून। तमिलनाडू पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक ने बाड़मेर मंे जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की ओर से मिले बेहतरीन व्यवस्थाआंे एवं सहयोग के लिए आभार जताया। उन्हांेने बताया कि बाड़मेर जिला एवं पुलिस प्रशासन के बेहतरीन तालमेल एवं समय पर आवश्यक कदम उठाने तथा सजगता के कारण बड़ी घटना होने से टल गई। इधर, जिला एवं पुलिस प्रशासन ने तमिलनाडू तक गौ वंश परिवहन के दौरान पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था एवं सहयोग का भरोसा दिलाया।

तमिलनाडू के पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक ने जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते एवं पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला का सहयोग के लिए आभार जताया। उन्हांेने लिखित मंे बाड़मेर प्रवास के दौरान मिले सहयोग एवं बेहतरीन व्यवस्थाआंे के लिए प्रशंसा पत्र भी सौंपा। इसमंे संयुक्त निदेशक ने बताया कि प्रशासन की सजगता की वजह से एक बड़ी घटना होने से टल गई। उन्हांेने बताया कि घटना के तत्काल बाद उपखंड अधिकारी एवं तहसीलदार तथा पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर गायांे को सुरक्षित गौशाला मंे पहुंचाने के साथ उनके चारे-पानी के लिए समुचित व्यवस्था की। कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित करते हुए एफआईआर की प्रतिलिपि एवं ट्रकांे की मरम्मत करवाकर उपलब्ध करवाया। परिवहन टीम के लिए समुचित इंतजाम किए गए। उन्हांेने बाड़मेर जिले मंे जिला एवं पुलिस प्रशासन के सहयोग की प्रशंसा करते हुए आभार जताया है। इधर, जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि गायांे के परिवहन के लिए संबंधित जिला एवं पुलिस प्रशासन की ओर से समुचित सहयोग उपलब्ध कराया जाएगा। इस दौरान पुलिस जाब्ता इन ट्रकांे के साथ रहेगा। इसके लिए संबंधित जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक से बातचीत की गई है। वहीं गुजरात अन्य प्रदेशांे मंे भी सहयोग के लिए उच्च स्तर से बातचीत हुई है। उन्हांेने बताया कि बाड़मेर जिला मुख्यालय पर गायांे के चारे-पानी की समुचित व्यवस्था की गई। वहीं गायांे को परिवहन करने वाले दल के ठहराव एवं अन्य कानूनी पहलूआंे से जुड़ी समस्त मदद उपलब्ध कराई गई है। इसके अलावा परिवहन मंे प्रयुक्त होने वाले ट्रकांे की भी मरम्मत करवाई गई। परिवहन के दौरान इनको किसी तरह की दिक्कत नहीं हो, इसके लिए समुचित पुख्ता इंतजाम किए गए है। समाचार लिखे जाने तक परिवहन के लिए गोपाल गौशाला से गायांे को ट्रकों मंे चढ़ाया जा रहा है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top