बाड़मेर,करंट से झुलसे उदाराम को सहायता एवं ग्राम सेवकांे को मिलेगी चार्जषीट

-जिला कलक्टर ने जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता को पेयजल परियोजनाआंे की मोनेटरिंग कर ग्रामीणांे की समस्या समाधान के निर्देष दिए।
बाड़मेर,10 जून। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने सनाउ मंे आयोजित जन सुनवाई के दौरान करंट से झुलसे उदाराम को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के निर्देष दिए। उन्हांेने इसके लिए दोषी कार्मिकांे के खिलाफ कार्रवाई करने तथा जिले मंे ढ़ीले विद्युत तारांे को दुरस्त करने को कहा। साथ ही आडिट नहीं कराने के मामले मंे दो ग्रामसेवकांे को चार्जषीट जारी करने के निर्देष दिए। जिला कलक्टर ने आंटिया ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित रात्रि चौपाल के दौरान आमजन की समस्याआंे की सुनवाई करते हुए विभागीय अधिकारियांे आमजन को राहत पहुंचाने के निर्देष दिए।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने शुक्रवार रात्रि मंे आंटिया ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित रात्रि चौपाल के दौरान आमजन की समस्याएं सुनी। उन्हांेने ग्रामीणांे को राजश्री एवं अन्य जन कल्याणकारी योजनाआंे की जानकारी देते हुए आमजन को जागरूक होकर लाभांवित होने की बात कही। इस दौरान ग्रामीणांे ने पेयजल संबंधित समस्याआंे से अवगत कराया। ग्रामीणांे ने सरकारी टैंकरों से होने वाली जलापूर्ति के एवज में भी राषि वसूलने का आरोप लगाया। इस पर जिला कलक्टर ने जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता नेमाराम परिहार को पेयजल परियोजनाआंे की स्वयं मोनेटरिंग करते हुए समस्याआंे का समाधान कर आमजन को राहत पहुंचाने के निर्देष दिए। साथ ही लापरवाही बरतने वाले कार्मिकांे एवं अधिकारियांे को नोटिस जारी करने के निर्देष दिए। ग्रामीणांे ने रात्रि चौपाल के दौरान चिकित्साकर्मियांे की सेवाएं संतोषजनक नहीं होने, पोषाहार वितरण नहीं होने, विद्यालय को माध्यमिक कक्षा मंे क्रमोन्नत करने, मनरेगा कार्याें मंे अनियमितता होने संबंधित परिवेदनाएं प्रस्तुत की। ग्रामीणांे ने बताया कि कई मनरेगा कार्य मौके पर नहीं हुए है जबकि भुगतान उठा लिया गया है। जिला कलक्टर ने मनरेगा कार्याें के मामलांे मंे जांच करवाकर वास्तविक स्थिति से अवगत कराने के निर्देष दिए। इससे पहले सनाउ मंे आयोजित जन सुनवाई के दौरान उदाराम पुत्र कूंपाराम ने ढीले विद्युत तारांे के कारण करंट लगने से झुलसने के कारण आर्थिक सहायता दिलाने की फरियाद की। इस पर जिला कलक्टर ने डिस्काम के अधिकारियांे को पीडि़त को सहायता दिलवाने के निर्देष दिए। जन सुनवाई मंे अतिक्रमण हटवाने, सनाउ मंे पषु चिकित्सालय खोलने, मनरेगा मंे कार्य नहीं होने, खेल मैदान की स्वीकृति जारी करवाने, जलापूर्ति नहीं होने संबंधित परिवेदनाएं प्रस्तुत की गई। जिला कलक्टर नकाते ने विभागीय अधिकारियांे को निष्पक्षता से कार्य कर जन कल्याणकारी योजनाआंे से आमजन को लाभांवित करवाने की बात कही। इस दौरान कमल सिंह ने सरकारी जमीन पर हो रहे अतिक्रमण रुकवाने की शिकायत की, जिस पर जिला कलेक्टर ने उपखंड अधिकारी भागीरथ चौधरी को मौका मुयाअना कर उचित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इसी दौरान ग्रामीणों ने शिकायत कि कापरेटिव सोसाइटी बैंक के व्यवस्थापक ऋण वितरण करने मंे भेदभाव कर रहे है। इस पर जिला कलक्टर ने नियमानुसार ऋण वितरण के निर्देष दिए। इसी तरह ग्रामीणों ने स्थानीय विद्यालयों के विद्यार्थियों की सरकारी छात्रवृत्ति ऑनलाइन जमा नहीं होने की लिखित में शिकायत दी, इस पर जिला कलेक्टर ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से छात्रवृत्ति जमा नहीं होने के बारे मंे सोमवार तक वस्तुस्थिति से अवगत कराने के निर्देष दिए। रात्रि चौपाल एवं जन सुनवाई के दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, उपखंड अधिकारी भागीरथ चौधरी, तहसीलदार कूंपाराम लौहार, विकास अधिकारी राजेन्द्र कुमार समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top