भरतपुर में रेल ब सड़क यातायात फिर ठप्प आंदोलन कारियों ने पेयजल सप्लाई भी रोकी
भरतपुर 24 जून। राजस्थान में भरतपुर और धौलपुर जिलों के जाटों को पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के तहत आरक्षण देने की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के तहत आज सुबह बांदीकुई-आगरा रेल मार्ग पर हेलक तथा पपरेरा स्टेशनों के बीच रेलमार्ग को क्षतिग्रस्त कर दिए जाने का समाचार प्राप्त हुआ है। शुक्रबार देर सायं सरकार तथा आंदोलन कारियों के बीच बिफल रही वार्ता के बाद शनिबार को दिन निकलते ही आंदोलनकारियों ने मोर्चा सभालते हुए कस्बा कुम्हेर के बाजारों को बंद करा जोरदार प्रदर्शन भी किया। आंदोलन के तहत हालांकि शुक्रबार शाम को रेलमार्ग पर यातायात सुचारू कर दिया गया था लेकिन शनिबार सुबह हेलक तथा पपरेरा रेलबे स्टेशनों के बीच आंदोलनकारियों के फिर से ट्रेक पर बैठ जाने तथा उसे क्षतिग्रस्त कर दिए जाने के बाद रेलबे प्रशासन ने इस मार्ग पर ट्रेनों का संचालन रोक दिया है। राष्ट्रीय राजमार्ग परआंदोलनकारियों के नदबई के लुलहारा गांव पर लगाये गए जाम से इस मार्ग पर सड़क परिवहन ठप्प पड़ा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आंदोलन के चलते शनिबार सुबह से ही जिले के अनेक कस्बो में पेयजल की किल्लत पैदा हो जाने के समाचार भी प्राप्त हो रहे है। लोगो ने बताया कि आंदोलनकारियों ने कुम्हेर क्षेत्र में पानी की सप्लाई करने बाले टेंकरो को पानी सप्लाई के काम से रोक दिया है। जाट समुदाय के लोगों ने जिले के सड़क मार्ग पर एक दर्जन से अधिक स्थानों पर जाम लगा रखा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आंदोलन के चलते भरतपुर को जोड़ने वाले मार्गों पर सड़क और रेलमार्ग पूरी तरह जाम है। राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम के अलाबा पड़ोसी राज्यो के परिवहन निगमो की बसों और निजी बसों को वैकल्पिक मार्गों से निकाला जा रहा है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top