edvertise

edvertise
barmer



अजमेर, पत्राकार काॅलोनी में बनेगा सामुदायिक भवन

अजमेर विकास प्राधिकरण द्वारा 37 लाख रूपये की लागत से फुटपाथ टाइल्स कार्य का शुभारम्भ

अजमेर, 22 जून। कोटड़ा स्थित पत्राकार काॅलोनी में शीघ्र ही शहर की सबसे विकसित काॅलोनियों में से एक होगी। अजमेर विकास प्राधिकरण एवं जिला प्रशासन द्वारा यहां शीघ्र ही सामुदायिक भवन का निर्माण करवाया जाएगा। काॅलोनी मंे आज 37 लाख रूपये की लागत से फुटपाथ पर इन्टरलाॅक टाइल्स कार्य का शुभारम्भ किया गया। अब तक काॅलोनी में 85 लाख रूपये के विकास कार्य करवाएं जा चुके है।

रिमझिम वर्षा के बीच आज पत्राकार काॅलोनी में शिक्षा राज्य मंत्राी श्री वासुदेव देवनानी, अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शिवशंकर हेडा, जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल, अजमेर जिला पत्राकार संघ के अध्यक्ष एवं दैनिक नवज्योति के प्रधान सम्पादक श्री दीनबंधु चैधरी, अजयमेरू प्रेस क्लब के अध्यक्ष , दैनिक भास्कर के स्थानीय सम्पादक डाॅ. रमेश अग्रवाल, पत्राकार काॅलोनी विकास समिति के अध्यक्ष श्री सुरेश कासलीवाल एवं पार्षद श्री महेन्द्र जैन मित्तल आदि ने इन्टरलाॅकिंग कार्य का शुभारम्भ किया।

इस अवसर पर शिक्षा राज्य मंत्राी श्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि अजमेर स्मार्ट सिटी बनने जा रहा है। स्मार्ट सिटी में काॅलोनियां किस तरह की हों, इसकी मिसाल पत्राकार काॅलोनी से दी जा सकती है। काॅलोनी विकास समिति द्वारा किए गए प्रयासों का ही परिणाम है कि यह काॅलोनी अब शहर की सबसे विकसित काॅलोनियों में शामिल हो गई है। काॅलोनी में सुरक्षा द्वार एवं सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए दस लाख रूपये खर्च किए जाएंगे।

अजमेर प्राधिकरण अध्यक्ष श्री शिवशंकर हेड़ा ने कहा कि प्राधिकरण द्वारा विकसित की गई यह आवासीय काॅलोनी आज सुन्दरतम काॅलोनियों में से एक है । यहां शेष रहे विकास कार्य भी शीघ्र करवाएं जाएंगे। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने कहा कि पत्राकार काॅलोनी में सामुदायिक भवन तैयार करवाया जाएगा। काॅलोनी के पार्क को भी विकसित किया जा रहा है। अजमेर जिला पत्राकार संघ के अध्यक्ष श्री दीनबंधु चैधरी एवं अजयमेरू पे्रस क्लब के अध्यक्ष डाॅ. रमेश अग्रवाल ने भी काॅलोनी में कराए गए कार्यों को प्रेरणास्पद एवं प्रशंसनीय बताया।

कोटडा पत्राकार काॅलोनी विकास समिति के अध्यक्ष श्री सुरेश कासलीवाल ने बताया कि काॅलोनी में अब तक 85 लाख रूपये के कार्य करवाए जा चुके है। फुटपाथ पर इन्टरलोकिंग टाइल लगाने के कार्य के पश्चात यहां सभी सड़कें इस सुविधा से युक्त हो जाएगी। इसके बाद दोनों ओर पेड़ लगाने का कार्य किया जाएगा ताकि काॅलोनी का सौन्दर्य बनाये रखा जा सकें। उन्होंने जिला कलक्टर से काॅलोनी में सामुदायित भवन व कन्वेंशन सेंटर बनाने का आग्रह करते हुए बताया कि काॅलोनी में प्रवेश द्वार के साथ मुख्य मंत्राी जल स्वावलम्बन योजना के तहत पुराने कुएं की सफाई का कार्य भी करवाया गया है।

इस अवसर पर अतिथियों ने पौधारोपण किया। पूरे काॅलोनी में छायादार पेड़ लगाये जायेंगे। कार्यक्रम में लाॅयन्स क्लब अजमेर उमंग के श्री राजेन्द्र गांधी, श्रीमती आभा गांधी, श्रीमती इन्दु टांक एवं श्री अशोक टांक सहित काॅलोनी के निवासी उपस्थित थे।





साईकिल रैली का आयोजन 24 को

अजमेर 22 जून। अजमेर शहर मंे विकास कार्यो की जानकारी आमजन को देने के लिए छात्रा-छात्राओं द्वारा एक साईकिल रैली का आयोजन 24 जून को किया जाएगा।

जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक प्रथम ने बताया कि यह रैली 24 जून को प्रातः साढे 7 बजे आनासागर चैपाटी से प्रारम्भ होकर सावित्राी स्कूल, अम्बेडकर सर्किल होते हुए पटेल मैदान में सम्पन्न होगी। रैली में एनसीसी, एनएसएस, स्काउट एवं खेलकूद के छात्रा-छात्राएं प्राथमिकता से भाग लेगी। रैली में लगभग 12 विद्यालयों के छात्रा-छात्राएं भाग लेंगे।




निबंध प्रतियोगिता का आयोजन
जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक प्रथम ने बताया कि अजमेर शहर में विकास कार्यो की आमजन को सूचना एवं जागृति के लिए अजमेर शहर के राजकीय एवं निजी विद्यालयों में 23 जून शुक्रवार को प्रातः 10 बजे “कैसा हो मेरा शहर“ विषयक निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। प्रतियोगिता में कनिष्ठ वर्ग में कक्षा 6 से 8 तथा वरिष्ठ वर्ग में कक्षा 9 से 12 की छात्रा-छात्राएं भाग लेगी। निबन्ध लेखन की अधिकतम सीमा डेढ़ घण्टा रहेगी।




जिला कलक्टर की रात्रि चैपाल शुक्रवार को देवाता में
अजमेर 22 जून। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार 23 जून को जवाजा पंचायत समिति के देवाता में रात्रि चैपाल का आयोजन किया जाएगा। मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद श्री निकया गोहाएन ने समस्त जिलास्तरीय अधिकारियों को सांय पांच बजे तक अपने अपने विभाग की योजनाओं के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए।




राजस्व अधिकारियों की बैठक अब 29 को
अजमेर, 22 जून। जिले के समस्त राजस्व अधिकारियों की 26 जून को होन ेवाली बैठक अब 29 जून गुरूवार को पूर्ण निर्धारित एजेण्डा एवं समय अनुूसार कलेक्ट्रेट सभागर में आयोजित की जाएगी। अतिरिक्त जिला कलक्टर ने यह जानकारी दी।




जीएसटी पर कार्यशाला आयोजित
अजमेर, 22 जून। जिला कोषाधिकारी द्वारा गुरूवार को जवाहर रंगमंच पर जीएसटी के संबंध में कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कोषाधिकारी श्री मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि इस कार्यशाला में अजमेर के समस्त आहरण एवं वितरण अधिकारियों ने भाग लिया। कार्यशाला में एक जुलाई से लागू होने वाले जीएसटी के संबंध में प्रतिभागियों को विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की गई। जीएसटी नियमों में आहरण एवं वितरण अधिकारी की भूमिका के बारे में चर्चा की गई। साथ ही वित्त विभाग के समेकित वित्त प्रबंधन तंत्रा (आईएफएमएस) का कार्यालयों में अधिकतम उपयोग करने के लिए प्रशिक्षित किया गया।

उन्होंने बताया कि जीएसटी के अन्तर्गत डीडीओ द्वारा स्त्रोत पर कर कटौति की जाएगी। सेवा एवं कर योग्य वस्तु की आपूर्ति का अनुबन्ध मूल्य 2.50 लाख से अधिक होने पर टीडीएस कटौति की जाएगी। राज्यों के मध्य आपूर्ति होने पर आईजीएसटी के द्वारा कटौति की जाएगी। कटौतिकर्ता द्वारा आॅनलाइन पंजीयन जीएसटी की वैबसाइट पर करवाया जा सकता है। पंजीयन प्रमाण पत्रा समस्त दस्तावेज पूर्ण होने पर तीन कार्य दिवस में जारी किया जाता है।

उन्होंने बताया कि कटौतिकर्ता के द्वारा महिने के अन्त में सम्पूर्ण टीडीएस को सरकार के पास जमा कराना होगा। जमा नहीं कराने की स्थिति में नियमानुसार ब्याज देना होगा। नियमानुसार जुर्माने का प्रावधान भी रखा गया है। आॅनलाइन भुगतान चालान के द्वारा किया जा सकेगा।

उन्होंने बताया कि डीडीओ ठेकेदारों, विक्रेताओं एवं आपूतिकर्ताओं के चालान से टीडीएस की रकम की कटौति करेंगे। बिल के भुगतान के समय इस कटौति को विशिष्ट हैड में जमा करेंगे। डीडीओ कटौति के माध्यम से जमा राशि के निस्तारण के लिए जिम्मेदार होंगे। जीएसटी पोर्टल पर पंजीयन की प्रक्रिया 25 जून से खुली रहेगी।

उन्होंने बताया कि ट्रेजरी में प्रस्तुत किये जाने वाले समस्त प्रकार के बिलों पर आहरण एवं वितरण अधिकारी, बिल लिपिक एवं लेखाकार के द्वारा किये जाने वाले हस्ताक्षरों के नीचे सम्बन्धित अधिकारी अथवा कर्मचारी अपना नाम, पदनाम, तिथि आदि आवश्यक रूप से अंकित किये जाने चाहिए। इससे शासन में पारदर्शिता एवं जवाबदेही सुनिश्चित हो सकेगी। हस्ताक्षर के नीचे दिनांक, नाम व पदनाम की सील भी प्रयोग की जानी चाहिए। कोषागार नियमावली-2012 के नियम-143 के अनुसार प्रत्येक आहरण एवं वितरण अधिकारी द्वारा कोषालय से बिल एवं चैक के लेन-देन के लिए जी.ए. 59ए में बिल पारागमन पंजिका का संधारण किया जाएगा। इसकी पालना सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी डीडीओ की होगी। प्रत्येक बिल लेन-देन का स्पष्ट अंकन इसमें हो तथा आहरण एवं वितरण अधिकारी के ही हस्ताक्षर मय मोहर के करवाये जावें।

उन्होंने बताया कि बिल लेन-देन के लिये अधिकृत कार्मिक व लिंक कार्मिक के फोटो व हस्ताक्षर प्रमाणित करके पारागमन पंजिका के प्रथम पृष्ठ पर चिपकाए जाए। रजिस्टर पर पृष्ठ संख्या का अंकन प्रमाणित किया हुआ होना चाहिए।

उन्होंने बताया कि प्रमुख प्रशिक्षणकर्ता वरिष्ठ लेखाधिकारी श्री गंगाधर, अतिरिक्त कोषाधिकारी श्री हेमन्त कुमार गुप्ता, श्री शिवनारायण सोनगरा, श्री प्रेम जटिया एवं सुश्री शिल्पा मोदी ने प्रतिभागियों को जीएसटी के अन्तर्गत टीडीएस कटौति, आॅनलाईन यात्रा बिल एवं एम्पलाॅई आईडी में परिवर्तन के प्रावधानों की जानकारी दी। वाणिज्य कर विभाग की प्रतिनिधि कविता चंडक एवं शारदा यादव तथा सेवाकर विभाग के श्री राजेश ने जीएसटी के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी प्रदान की। कार्यशाला में 350 से अधिक प्रतिभागियों की शंकाओं का समाधान प्रभावी तरीके से किया गया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top