edvertise

edvertise
barmer

अजीब दहशत, सोते समय काटे जा रहे महिलाओं के बाल


जोधपुर। राजस्थान के कई जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में इन दिनों अजीब दहशत फैली हुई है। यहां रात में घर के बाहर सो रही महिलाओं और लड़कियों के बाल काटे जा रहे हैं। माना जा रहा है कि ऐसा तंत्र-मंत्र करने के लिए किया जा रहा है।

रविवार को जोधपुर - जैसलमेर बाइपास पर स्थित चौखा में रात साढ़े आठ बजे घर में एक महिला के बाल कट गए। पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया है। कि पुखराज माली की पत्नी सुमन रविवार रात को घर में काम कर रही थी। उसकी देवरानी व परिवार के अन्य सदस्य मकान की पहली मंजिल पर मौजूद थे। दूध गर्म करने के बाद सुमन ने जैसे ही गैस बंद की, बेहोश होकर रसोई में ही गिर गई। देवरानी ने सुमन को नीचे गिरे हुए देखा। जब सिर पर नजर गई तो बाल कटे हुए दिखे। जब सुमन से इसके बारे में पूछा तो बोली, बिल्ली दूध पीकर चली गई। पुलिस को दी रिपोर्ट में देवरानी ने भी स्वीकारा कि उसने बिल्ली को देखा था। राजीव गांधी थाना पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ परिवाद दर्ज कर जांच शुरू की है।

जोधपुर, बीकानेर के गांवों मे अजीब दहशत, सोते समय काटे जा रहे महिलाओं के बाल
इन घटनाओं के बाद से यहां ग्रामीणों में इतना खौफ है कि लोग घर पर तंत्र-मंत्र करवा रहे हैं। इसके बाद से लोग रात में पहरा लगा रहे हैं। लेकिन अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि आखिर, महिलाओं के बाल और नाखुन काटने वाले शख्‍स का मकसद क्‍या है।

सोती हुई महिलाओं के रात में बाल काटने और शरीर पर त्रिशूल के निशान बनने के मामले में पुलिस अधीक्षक के भोपों के खिलाफ कार्रवाई व उन पर नजर रखने के निर्देश के बाद गांवों में कई भोपे भूमिगत हो गए हैं। पुलिस ने कई पुजारियों व भोपों को बुलाकर सख्त हिदायत दी है। वहीं, पिछले दिनों कुछ महिलाओं के खुद ही बाल काटने के खुलासे से अब लोगों में भय कम हो रहा है और घटनाएं भी थमने लगी है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top