बाडमेर, फर्जी तरीके से पेंशन उठाने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

बाडमेर, 22 जून। जिले में सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनान्तर्गत फर्जी तरीके से पेंशन उठाने वालों के खिलाफ पुलिस में एफ.आई.आर. दर्ज कराई गई है। 

कोषाधिकारी दिनेश बारहठ ने बताया कि जिले में सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनान्तर्गत वृद्धजन, निःशक्तजन एवं एकलनारी पेंशन भुगतान में जालसाजी के प्रकरण ध्यान में आए है। वर्तमान में सामाजिक सुरक्षा पेंशनर्स की पेंशन राशि उनके बैंक खातों में हस्तान्तरित करने का प्रावधान है। उन्होंने बताया कि कोष कार्यालय की ओर से जांच किए गए प्रकरणों में पाया गया कि धोखाधडी करने वाले व्यक्तियों द्वारा भामाशाह पोर्टल पर पेंशनर्स के पीपीओ के साथ पेंशनर्स के स्वयं के बैंक खातों के स्थान पर अन्य व्यक्तियों के बैंक खातों को जोड दिया गया। इसके पेंशनर्स की पेंशन राशि मूल पेंशनर्स को प्राप्त नहीं होकर अन्य व्यक्तियों के खातों में जमा हो गई, जिसे जालसाज, धोखाधडी करने वाले व्यक्तियों ने बैंक से सांठ गांठ करके आहरित कर लिया गया।

उन्होने बताया कि इस प्रकार के कुल 307 प्रकरणों मंे कुल राशि 7,70,600 रूपए की पेंशन राशि जालसाजी कर हडपना पाया गया है। कोष कार्यालय बाडमेर की ओर से 7,20,350 रूपए की वसूली संबंधित बैंकों के माध्यम से करवाई जा चुकी है एवं शेष राशि की वसूली करने एवं प्रकरण में दोषी व्यक्तियो के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही करने के लिए पुलिस थाना धोरीमना एवं पुलिस थाना गुडामालानी में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करवाई जा चुकी है। उक्त संबंध में कोषाधिकारी बाडमेर द्वारा प्रधान महालेखाकार जयपुर, वित विभाग शासन सचिवालय जयपुर एवं निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग जयपुर तथा निदेशक कोष एवं लेखा जयपुर, जिला कलक्टर बाडमेर, जिला पुलिस अधीक्षक बाडमेर को उक्त प्रकरण की सूचना प्रेषित कर दी गई है। साथ ही जिले के समस्त पेंशन स्वीकृतिकर्ता अधिकारियों को भामाशाह पोर्टल पर सीड किए गए बैंक खातों की व्यक्तिशः जांच करने एवं यदि ऐसे प्रकरण और ध्यान में आते हे तो उसकी सूचना कोष, उप कोष कार्यालयों को दिए जाने के निर्देश दिए गए है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top