edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर,जिले में विषेष योग्यजनों का होगा निःषुल्क पंजीकरण

पंजीकरण के लिए विषेष इंतजाम के जिला कलक्टर मीना ने दिए निर्देष


जैसलमेर, 07 जून। जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने जैसलमेर जिले के विषेष योग्यजनों को चिन्ह्ति एवं पंजीकरण के लिए विभागीय अधिकारियों को विषेष इंतजाम करने के निर्देष दिए है। अटल सेवा केन्द्रों एवं ई-मित्रों पर विषेष योग्यजनो का निःषुल्क पंजीकरण किया जाएगा। जिला कलक्टर ने विषेष योग्यजनांे के पंजीकरण के एवज में किसी तरह की राषि नहीं वसूलने के निर्देष दिए है।

जिला कलक्टर मीना ने बताया कि पण्डित दीनदयाल उपाध्याय विषेष योग्यजन षिविर के प्रथम चरण के तहत् दिव्यागों का चिन्ह्किरण एवं पंजीकरण आगामी 24 सितम्बर तक किया जाएगा। उन्होंनंे इस संबंध मंे सहायक निदेषक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, उप निदेषक महिला एवं बाल विकास, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, नगरीय निकाय के अधिकारी, जिला षिक्षा अधिकारी माध्यमिक एवं प्रारम्भिक के साथ ही विकास अधिकारियों को इस अभियान में विषेष रूप से कार्य करने के निर्देष दिए एवं साथ ही कहा कि कोई भी विषेष योग्यजन पंजीयन से वंचित नहीं रहें।

इसके तहत योग्यजनों के संबंध में आधारभूत जानकारी नाम, पिता का नाम, पता, जन्मतिथि, भामाषाह नामांकन, आधार संख्या, पेंषन भुगतान आदेष तथा वर्तमान में उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं का पंजीयन किया जाएगा। इसके मुताबिक पोर्टल खुलने पर एसएसओ आईडी एवं पासवर्ड डालना होगा। यदि एसएसओं आईडी उपलब्ध नहीं है तो पहले एसएसओ आईडी बनाने के बाद पोर्टल पर लाॅगईन कर पंजीयन किया जा सकता है। सरकार की और से प्रत्येक पंजीयन के लिए ई-मित्र केन्द्र को 30 रूपये की राषि अलग से उपलब्ध कराई जाएगी। ई-मित्र एवं अटल सेवा केन्द्र पर पंजीयन आवेदन पूर्ण रूप से भरने के बाद आवेदक विषेष योग्यजन को पावती रसीद देनी होगीं इस दौरान निःषक्तता प्रमाण पत्र जारी किए जाएगें। इसके साथ ही योग्यजन को किस तरह के कृत्रिम अंग उपकरण की आवष्यकता है, की अभिषंषा की जाएगी। जिनको कृत्रिम हाथ, पैर, पोलियों सुधार, आॅपरेषन की जरूरत है उनको चिन्ह्ति कर जिला अस्पताल में आॅपरेषन करवाने के साथ कृत्रिम हाथ, पैर के लिए भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति जयपुर से सम्पर्क कर उपकरण उपलब्ध कराए जाएगंें। उन्होंनें बताया कि तृतीय चरण 13 दिसंबर से प्रारम्भ होकर 31 मार्च तक चलेगा। इस दौरान प्रमाणित विषेष योग्यजनों को जिला मुख्यालय पर षिविर आयोजित कर कृत्रिम अंग, सहायक उपकरण एवं अन्य योजनाओं यथा पेंषन, पालनहार, आस्था कार्ड बस व रेल पास से लाभान्वित किया जाएगा।

कौनसे विभाग की क्या जिम्मेदारी रहेगी

विषेष योग्यजन चिन्ह्किरण एवं पंजीकरण के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग को 0 से 3 एवं 3 से 6 वर्ष की आयु के बालक-बालिका, गर्भवती, धात्री, किषोरी बालिका, षिक्षा विभाग को 6 से 18 वर्ष तक की आयु के विद्यालय आने वाले विद्यार्थी, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग को ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले विषेष योग्यजन, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को पीएचसी सेवा क्षेत्र में रहने वाले विषेष योग्यजन, नगरीय विकास विभाग को शहरी क्षेत्र में निवासरत विषेष योग्यजन का चिन्ह्किरण एवं पंजीकरण करने के निर्देष दिए।

इनका हो सकेगा पंजीयन
दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम 2016 के अन्तर्गत सूचीबद्व दिव्यागों का पंजीकरण हो सकेगा। इसके तहत अंधता, अल्प दृष्टि, कुष्ठ रोग मुक्त, श्रवण बाधित, चलन निःषक्तता, बौनापन, बौद्विक अक्षमता, मानसिक रोगी, स्वलीनता, प्रमस्तिष्क घात, मांसपेषीय दुर्विकास, क्रोनिक न्यूरोलोजिकल कण्डीषन, स्पेसिपिक लर्निग डिसेबलीटी, मल्टीपल स्कलेरोसीस, वाक् एवं भाषा निःषक्तता, थैलेसीमिया, हीमोफीलिया, अधिरक्तस्त्राव, सीकल सैल डिजिज, बहु निःषक्तता, तेजाब हमला पीडित, पार्किसंस रोग शामिल है।

क्या होगी पंजीयन की प्रक्रिया

विषेष योग्यजन निकटतम ई-मित्र, अटल सेवा केन्द्र पर प्रातः 10 बजे से सांय 6 बजे तक जाकर निःषुल्क पंजीयन करा सकते है। इसके अलावा स्वयं के कम्प्यूटर, मोबाईल से पर भी पंजीयन कर सकते है।

------0000-----

पं0 दीनदयाल उपाध्याय विषेष योग्य जन षिविर -2017
जैसलमेर, 7 जून । माननीय मुख्यमंत्री महोदया के निर्देषानुसार विषेष योग्य जनों के सषक्तिकरण एवं कल्याण के लिए उन्हें चिन्हित करने का विषेष अभियान चलाकर उन्हें लाभान्वित किया जायेगा, इसके लिए जिले में 3 चरणों में पं0 दीनदयाल उपाध्याय विषेष योग्य जन षिविर -2017 षिविरों का आयोजन किया जायेगा।

सहायक निदेषक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग हिम्मतसिंह कविया ने बताया कि भारत सरकार द्वारा दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम 2016 लागू कर दिया है। उक्त अधिनियम अन्तर्गत निःषक्तता की 21 श्रेणियो अधिसूचित की गई है। उन्होंने बताया कि पूर्व में निःषक्तता की 7 श्रेणी थी जिसे बढाकर अब 21 कर दिया गया है। उक्त अधिसूचित श्रेणी के सभी दिव्यांग जनों को निःषक्तता प्रमाण पत्र जारी करने, यूडीआईडी कार्ड जारी करने उन्हें सरकारी सुविधाओं का लाभ प्रदान कराने तथा इनका डाटा बेस तैयार किये जाने के उदेष्य से इन षिविरो का आयोजन किया जा रहा है।

षिविरों के प्रथम चरण में चिन्हीकरण एवं पंजीयनः- 01 जून से 24 सितम्बर 2017 तक विषेष योग्य जनों को ई-मित्र/अटल सेवा केन्द्र पर निःषुल्क पंजीयन किया जायेगा । ई-मित्र केन्द्रो/अटल सेवा केन्द्र को इसका भुगतान राज्य सरकार द्वारा किया जायेगा। ,इसी प्रकार द्वितीय चरण में निःषक्कता प्रमाणीकरणः- 25 सितम्बर से 12 दिसम्बर 2017 तक विधानसभावार कैम्प आयोजित कर विषेष योग्य जनों को निःषक्तता प्रमाण पत्र, यूडीआईडी कार्ड कार्ड, बस पास , रेल पास, विभिन्न योजनाओ , अंग/उपकरण के आवेदन तैयार किए जायेेंगे।

षिविरों के तृृतीय चरण अन्तर्गत कृृृत्रिम अंग/सहायक उपकरण वितरण षिविर:- 13 दिसम्बर 2017 से 31 मार्च 2017 विधानसभावार कैम्प आयोजित कर लाभान्वित किया जायेगा । दिव्यांग जनो से अपील है कि ई-मित्र केन्द्र पर अपने दस्तावेज साथ ले जाकर अपना पंजीयन आवष्यक रूप से करवा ले यदि उनके पूर्व में निःषक्तता प्रमाण पत्र जारी किया हुआ है तो भी उन्हे अपना पंजीयन कराया जाना जरूरी है।

सभी जनप्रतिनिधियों ,कर्मचारियों ,षिक्षक गणों, पटवारियों ,ग्राम सेवको, सहायक ग्राम सेवको, एनएनम, आंगनवाडी कार्यकता, सहाययिका ,आषा सहयोगिनी से अपील है कि आप अपना सहयोग करते हुए अपने -अपने क्षेत्र में निवासरत किसी भी आयु के दिव्यांगजन को चिन्हित करते हुए उनका पंजीयन कराने में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करावें तथा उनकी मदद करावें । राज्य सरकार की मंषा के अनुकूल इन षिविरों का लाभ प्रत्येक दिव्यांग जन पहुॅंचाया जा सके ।

------0000-----

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक की बैठक 13 जून को

बाडमेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी की अध्यक्षता में होगी बैठक

जैसलमेर, 07 जून। भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय के आदेषों की अनुपालना में नवगठित जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति(दिषा) की बैठक बाडमेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चैधरी की अध्यक्षता में 13 जून, मंगलवार को प्रातः 11 बजे कलेक्ट्रेट सभागार में रखी गई है।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण ने बताया कि इस बैठक में गत बैठक में दिए गए निर्णयों की अनुपालना के साथ ही भारत सरकार की ग्रामीण विकास योजनाओं की प्रगति पर विस्तार से समीक्षा की जाएगी। उन्होंनें बताया कि बैठक में सांसद जोधपुर गजेन्द्रसिंह शेखावत, जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल, जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी, पोकरण विधायक शैतानसिंह राठौड, सभापति नगर परिषद जैसलमेर श्रीमती कविता खत्री, अध्यक्ष नगर विकास न्यास डाॅ.जितेन्द्रसिंह, अध्यक्ष नगर पालिका पोकरण आनन्दीलाल गुचिया, पंचायत समिति जैसलमेर के प्रधान अमरदीन, सांकडा अमतुल्ला मेहर, सम श्रीमती उषा सुरेन्द्रसिंह राठौड के साथ ही समिति सदस्यांे एवं संबंधित जिलाधिकारियों को आमंत्रित किया गया है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top