बाड़मेर। ग्रीष्मकालीन शिविरों से अवकाश का सदपयोग होता है व रोजगार की संभावनाएं भी विकसित होती है: - नकाते


बाड़मेर। राजस्थान राज्य भारत स्काउट जिला मुख्यालय बाड़मेर द्वारा राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय माल गोदाम रोड़ बाड़मेर में 37 दिवसीय अभिरूचि प्रशिक्षण शिविर का समापन बायतू विधायक कैलाश चौधरी के मुख्य अतिथि व जिला कलेक्टर शिवप्रसाद मदान नकाते की अध्यक्षता एवं जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक ओमप्रकाश शर्मा, बीसीसी बाड़मेर एमडी भवंरदान चारण, भाजपा जिला महामंत्री कैलाश कोटड़िया, युवा उद्यमी बालाराम गोदारा, समाजसेवी अक्षयदान बारहठ, निजी विद्यालय संघ के जिलाध्यक्ष बालसिंह राठौड़, गायत्री लाड़ला के विशिष्ट अतिथि में  आयोजित हुआ। 

Image may contain: 5 people, people smiling, people standing and indoor

समारोह को सम्बोधित करते हुए बायतु विधायक और भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष कैलाश चौधरी ने कहा कि ग्रीष्मावकाश में बालक-बालिकाओं, युवक-युवतियों एवं कामकाजी महिलाओं को खाली समय का सदुपयोग करने के उद्देश्य से उनमें श्रम के प्रति निष्ठा, स्वावलम्बन, आत्मविश्वास आदि गुणों के विकास कर रोजगारोन्मुखी बनाने के लिए जिला स्तरीय ग्रीष्मकालीन कौशल विकास एवं अभिरूचि शिविर का आयोजन बेहद सार्थक है। उन्होंने शिविर में बच्चों को रचनात्मक, कलात्मक गतिविधियों के साथ शारीरिक एवं मानसिक विकास को ध्यान में रखते हुए विभिन्न विधाओं के प्रशिक्षण के लिए भारत स्काउट गाईड की पूरी टीम को साधुवाद तथा बच्चों को बहुत-बहुत शुभकानाएं दीं। 

Image may contain: 6 people, people smiling, people standing

इस अवसर पर समारोह की अध्यक्षता करते जिला कलेक्टर शिवप्रसाद मदान नकाते ने कहा कि जो बच्चों ने शिविर में सीखा है वो काबिले तारीफ है, ऐसे शिविरों द्वारा जहां ग्रीष्मकालीन अवकाश का सदपयोग होता है वहीं रोजगार की संभावनाएं भी विकसित होती है। जिला कलक्टर ने सभी प्रशिक्षकों को बधाई देकर कहा कि शिविर की सार्थकता प्रदर्शनी में लगी वस्तुओं में दिखती है जो बालकों के कौशल का संर्वद्धन करती है। ऐसे शिविरों के माध्यम से बच्चे विभिन्न विधाओं में पारंगत होते हैं। बच्चों की प्रतिभा उजागर करने एवं व्यक्तित्व विकास में भी ऐसे शिविर काफी सहायक हैं। वहीं समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम जागृति सोलंकी के निर्देशन में आयोजित जिसमें बच्चो ने  शानदार नृत्यो की प्रस्तुति देकर सभी दर्शकों व अतिथियो का मन मोह लिया। वहीं राजस्थानी, गुजराती, कृथक, सामुहित नृत्य पैेरौड़ी ने जमकर तालिया बटौरी तो वहीं केट वाॅक व रैंप वाॅक आकर्षण का केन्द्र रहा। 

Image may contain: 4 people

वहीं इससे पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा ने सभी अतिथियों का स्वागत भाषण के माध्यम से स्वागत किया। समारोह में अतिथियों द्वारा 37 दिन तक दिये गये प्रशिक्षण के दौरान बनाई गई वस्तुओं कुकिंग एवं सिलाई क्लासों का अवलोकन कर दक्ष प्रशिक्षणों की भूरी-भूरी प्रशंसा की। शिविर के दौरान सराहनीय कार्य करने एवं विभिन्न प्रतियोगिताआंे में प्रथम, द्वितीय आने वाले प्रतिभागियों को पुरूस्कृत किया गया। शिविर में नगर परिषद एवं महेश पब्लिक स्कूल शास़्त्री नगर बाड़मेर का सराहनीय योगदान देने पर जिला कलेक्टर नकाते ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम के अंत में सीओ गाइड़ ज्योति रानी महात्मा ने सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया। वहीं संचालन हरिश जांगिड़ ने किया। इस अवसर पर महेश पनपालियां, सुरेश जाटोल, मदन बारूपाल, विजेन्द्र गोदारा, सुनिल शर्मा, राजेश चौधरी  , धर्मेन्द्र फुलवारियां, तनिषा शेखावत, खगेन्द्र कुमार, गीता बैन, कमला चौधरी , गायत्री चौधरी , अरूणा सोलंकी, अरविंद माली, आशा डागा, जागृति सोलंकी, सविता व्यास, दिपिका व्यास, भावना व्यास, हरिश जाटोल सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Image may contain: 6 people, people smiling

इनका हुआ सम्मान-
शिविर में सराहनीय कार्य करने पर महेश पब्लिक स्कूल के प्रबंधक राजेश चैधरी, तनिषा शेखावत, धर्मेन्द्र फुलवारियां, गायत्री लाड़ला, जागृति सोलंकी, आशा डागा, सविता व्यास, भावना व्यास, दिपिका व्यास का सम्मान किया गया।

ये रहे विजेता-
शिविर के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिता सिलाई में प्रथम अनिता, द्वितीय दरिया व तृतीय उर्वशी, मेहंदी में क्रमशः मोनिका, आरती व दिपिका, ब्यूटी पार्लर पायल, टीना व भारती, डांस में प्रदीप, प्रियंका व ललित, स्पोकन इंग्लिश जानवी खत्री, कसक बादलानी व भावेश शर्मा प्रथम, द्वितीय व तृतीय रही। वहीं कुकिंग, आर्ट एण्ड क्राफ्ट, एंकरिंग, साॅफ्ट टाॅयज, पेंटिग सहित कई प्रकार की प्र्रतियोगिताएं आयोजित हुई, जिसमें विजेता प्रतिभाओं को पुरूस्कार देकर सम्मानित किया गया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top