मुस्लिमों ने गाय को लड्डू खिलाकर खोला रोजा, ईद पर उसी के दूध की खाई खीर


ईद की पूर्व संध्या पर रविवार को हनुमानगढ़ जिले के नवां गांव के मुस्लिम समुदाय ने साम्प्रदायिक सौहार्द का अनूठा उदाहरण पेश किया.

देशभर में गाय को लेकर मचे बवाल के बीच हनुमानगढ़ जिले के नवां गांव के सरपंच खुशी मोहम्मद के नेतृत्व में मुस्लिम समाज के लोगों ने रोजे खोलने से पहले गाय को माला पहनाकर गुड़, लड्डू, रोटी और हरा चारा खिलाया और इसके बाद रोजे खोले.

मुस्लिमों ने गाय को लड्डू खिलाकर खोला रोजा, ईद पर उसी के दूध की खाई खीर

इस दौरान सरपंच खुशी मोहम्मद ने कहा कि गाय के नाम पर राजनीति बंद होनी चाहिए. उन्होंने गाय को सर्वश्रेष्ठ बताते हुए कहा कि गाय का दूध से लेकर उसका हर उत्पाद काम आता है और इसलिए उन्होंने रोजे खोलने से पहले गाय को खाना खिलाया है. इस मौके पर मौजूद मुस्लिम समाज के युवाओं ने भी गाय के नाम पर राजनीति बंद करने की बात कही.

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष वली मोहम्मद ने कहा कि अगर केन्द्र सरकार गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करती है या सरकार गाय के संरक्षण के लिए कोई योजना बनाती है तो मुस्लिम समुदाय सरकार का समर्थन करेगा.

उन्होंने कहा कि ईद के अवसर पर नवा गांव में मुस्लिम समुदाय ने गाय के ही दूध की खीर बनाकर और सभी धर्मों के लोगों को खीर खिलाई.

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top