edvertise

edvertise
barmer

शादी करने यूपी गया था, वरमाला के बाद दुल्हन ने दिया जहर, लाश लेकर लौटी बारात


धौलपुर। बसेड़ी इलाके के गांव एकटा से यूपी के रायबरेली जिले में दुल्हन ब्याहने गए दूल्हे और उसके परिजनों के साथ दुल्हन के परिजनों ने भोजन में जहर खिलाकर एक लाख 30 हजार की नगदी लूटकर फरार हो गए। वारदात के कुछ समय बाद जहर के कारण दूल्हे की मौत हो गई। वहीं उसके साथ गए अन्य परिजनों को रायबरेली से लाकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ये है पूरा घटनाक्रम...

शादी करने यूपी गया था, वरमाला के बाद दुल्हन ने दिया जहर, लाश लेकर लौटी बारात


- घटना से गांव एकटा में मृतक के घर कोहराम मचा हुआ है। पूरा गांव वारदात के कारण शोक में डूबा हुआ है।

- गांव एकटा निवासी पप्पू पुत्र रामेश्वर गोस्वामी बड़े भाई लटूरी, जीजा पूरन, हरिज्ञान पुत्र रामप्रकाश, संतोषी पुत्र देवीप्रसाद शर्मा 3 जून की शाम को बोलेरो गाड़ी लेकर दुल्हन ब्याहने के लिए थे।

- 4 जून को सुबह सभी लोग रायबरेली के गांव बीसलपुर पहुंचे। जहां पर दुल्हन के दिनेश, भाई सूरज और मां ने सभी का स्वागत सत्कार किया।

- बाद में सभी लोग पड़ोस में मौजूद हनुमान जी के मंदिर पर पहुंचे।

- जहां पर पहले से मौजूद पंडित ने दुल्हन और दूल्हे को माला डलवाकर शादी संपन्न करा दी।

- इसके बाद दुल्हन के परिजनों द्वारा सभी को नाश्ता कराया गया। नाश्ते में जहर मिला होने के कारण थोड़ी देर बाद ही सभी लोग बेहोश होते चले गए।

- बाद में दुल्हन और उसके परिजन दूल्हा पप्पू गोस्वामी, भाई लटूरी और साथ में गए अन्य

बारातियों से करीब एक लाख 30 हजार की नगदी लूटकर फरार हो गए।

खेत में पड़ा छोड़कर हुए फरार, सुबह आया होश तब लौटे धौलपुर

- दुल्हन व्याहने साथ में गए संतोष पुत्र देवीप्रसाद शर्मा ने बताया कि नाश्ते के बाद उन पर बेहोशी हावी हो गई।

- अचेत होते ही दुल्हन और उसके परिजन उन्हें मंदिर से उठाकर दूर खेतों में फेंककर फरार हो गए।

- सुबह चार बजे होश आया तो उन्हें वारदात होने का आभास हुआ। उसने पप्पू को जगाया, लेकिन वह नहीं जागा।

- उसकी नाड़ी देखी तो गायब थी। मामला समझते देर नहीं लगी। सभी लोग पप्पू के शव के साथ धौलपुर लौट आए और परिजनों को घटना की जानकारी दी।

- गांव में जैसे ही वारदात के बारे में जानकारी हुई तो कोहराम मच गया। मृतक पप्पू के घर रो-रोकर परिजनों का बुरा हाल है।

नाश्ते के आलूबड़ा में खिलाया जहर

- दूल्हा पप्पू और बारात के पहुंचने पर दुल्हन के परिजनों ने खूब आव भगत और खातिरदारी के साथ स्वागत किया।

- स्वागत के बाद सभी ने पड़ोस में मौजूद हनुमान जी के मंदिर पहुंचकर हवन वेदी बनाकर दुल्हन और दूल्हे को विधिविधान से सात फेरे लगवाए।

- बाद में वरमाला कार्यक्रम की फोटोग्राफी की गई। बाराती संतोष शर्मा ने बताया कि दूल्हा-दुल्हन की जोड़ी के साथ आशीर्वाद कार्यक्रम की फोटोग्राफी की गई। जिसमें सभी ने हंसी खुशी दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद दिया।

- सभी वैवाहिक रस्मों से निव्रत होकर नाश्ते की बारी आई तो आलूबडा और ठंडाई का नाता सभी को दिया गया। लेकिन नाश्ते में जहर है यह किसी को भी पता नहीं लगा।




पूर्व में गांव आ चुकी है दुल्हन

गांव के लोगों ने बताया कि दुल्हन और उसके परिजन पूर्व में गांव भी आ चुके हैं। पप्पू की शादी के लिए और उसे जाल में फंसाने के लिए एक लाख 30 हजार में शादी का मामला तय हुआ था। चूंकि पप्पू की शादी आसपास से नहीं हो रही थी। इस वजह से रायबरेली से दुल्हन की मां को रकम चुकाकर शादी करना तय हुआ। गांव एकटा के लोगों ने बताया कि पूर्व में कई बार दुल्हन और उसके परिजन एकटा आ चुके थे और दोनों पक्षों की मर्जी से शादी के लिए सौदा तय हुआ था। उसके बाद इस तरह की घटना को क्यू अंजाम दिया गया। यह बात किसी के गले नहीं उतर रही है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top