edvertise

edvertise
barmer



  अजमेर संरक्षण अर्थात योग के साथ आहार नियंत्राण - श्री देवनानी

अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्रा के 30 स्थानों पर योग शिविर जारी, दूसरे दिन और बढ़ी संख्या

आमजन ने जाने योग के विभिन्न आसन और प्राणायाम के लाभ

अजमेर, 15 जून। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्राी श्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि वर्तमान जीवनशैली और खानपान के इस युग में स्वास्थ्य संरक्षण के लिए प्रत्येक व्यक्ति को पूरी गम्भीरता से नियमों का पालन करना होगा। स्वास्थ्य संरक्षण के लिए सर्वाधिक आवश्यक है योग और आहार नियंत्राण। प्रतिदिन व्यायाम के साथ ही उचित मात्रा में पौष्टिक भोजन लेने वाला व्यक्ति ही स्वस्थ एवं दीर्घायु होगा।

श्री देवनानी ने कहा कि अजमेर स्मार्ट सिटी बनने जा रहा है। स्मार्ट सिटी की पहचान सिर्फ सड़कों, भवनों या बेहतर संसाधनों से ही नहीं होती बल्कि इसके लिए नागरिकों का स्मार्ट व्यक्तित्व एवं उनका स्वस्थ होना भी अतिआवश्यक है। हम अजमेर के नागरिक योग को जीवन में अपनाएं और अपने आसपास के लोगों को भी इसके लिए प्रेरित कर स्मार्ट बने।

शिक्षा राज्यमंत्राी श्री देवनानी ने आज शहर के विभिन्न वार्डों में पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित योग शिविरों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान में आपाधापी की जीवनशैली और अनियमित, अनियंत्रित और पौष्टिकता से रहित खानपान मनुष्य के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डाल रहा है। इस कारण भारत में रोगियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। आज मधुमेह, हृदय रोग सहित कई गम्भीर बीमारियां पैर फैला रही है। यहां तक कि छोटे बच्चे और युवा भी बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्राचीन भारतीय जीवनशैली स्वस्थ और पुष्टिकर है। योग और पौष्टिक खानपान मनुष्य को इन गम्भीर रोगो से बचा सकता है। पं.दीनदयाल उपाध्याय का जीवन संदेश भी हम भारतीयों को एकात्म मानववाद, एकाग्रता, योग और ऋतुओं के अनुसार पौष्टिक खानपान का संदेश देता है। लम्बे समय तक स्वस्थ रहने के लिए हमें सख्ती के साथ स्वास्थ्य नियमों का पालन करना होगा।

शिविर संयोजक महापौर धर्मेन्द्र गहलोत ने बताया कि शिविर के दूसरे दिन सभी जगह योग करने वाले लोगों की संख्या में और अधिक वृद्धि हुई। खास बात यह रही कि महिलाओं और बच्चों ने भी इसमें पूरी भागीदारी निभाई। श्री गहलोत ने बताया कि सभी जगह योग के पश्चात शिविरार्थियों को पौष्टिक अल्पाहार के रूप में अंकुरित अनाज का वितरण भी किया गया।

शिविर सह संयोजक सोमरतन आर्य व सुभाष काबरा ने बताया कि वार्ड 50, 51, 52 व 11 के शिविरों में शिक्षा राज्य मंत्राी प्रो. देवनानी, वार्ड 02 में महापौर धर्मेन्द्र गहलोत, वार्ड 59, 60 में पूर्व यूआईटी अध्यक्ष धर्मेश जैन, वार्ड 50 में पूर्व मंत्राी श्रीकिशन सोनगरा, वार्ड 51, 52 में अध्यक्ष अरविन्द यादव, वार्ड 54, 55, 56, 57 में जयकिशन पारवानी, वार्ड 6, 7, 8, 12, 52, 53 में रमेश सोनी, वार्ड 5 में तुलसी सोनी, वार्ड 4 में सीताराम शर्मा, वार्ड 1, 2, 3, 4 में सोमरतन आर्य, वार्ड 45, 46, 47, 48, 49 में सुभाष काबरा, अजयसर व चामुण्डा मेला ग्राउण्ड पर शमशेर सिंह तथा विनीत पारीक, राजकुमार ललवानी, योगेश शर्मा, महेन्द्र जादम, कुन्दन सिंह नरूका, दीपक शर्मा, धर्मराज गौतम, प्रकाश बंसल, राजू धावा, रश्मि शर्मा, श्वेता शर्मा, सुलोचना शुक्ला, पार्षद महेन्द्र जैन मित्तल, ज्ञानचंद सारस्वत, राजेन्द्र पंवार, कुन्दन वैष्णव, धर्मपाल जाटव, अनिल नरवाल, राजू साहू, भारती श्रीवास्तव, जे.के.शर्मा, सुखदेव रावत, राजेन्द्र सिंह राठौड़, श्यामसुन्दर पंवार, अनिष मोयल, भागीरथ जोशी, के.के. त्रिपाठी, धर्मेन्द्र शर्मा, नीरज जैन, दीपेन्द्र लालवानी, प्रकाश मेहरा, वीरेन्द्र वालिया, चन्दे्रश सांखला, बलराम हरलानी, धर्मेन्द्र सिंह चैहान पंचम, सुरेश गोयल, रोशन महाराज, महेन्द्र सिंह रावत, दरियाव सिंह, गंगाराम सैनी, रामसिंह, संदीप तंवर, गोविन्द बंसल, अंचित परिहार, रमेश चैहान, बंटी साहू, शक्ति सिंह कच्छावा, रोहित मकवानी, गौरव मीरवानी, रमेश कौशल आदि सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top