edvertise

edvertise
barmer

महिला के आधी उम्र के लड़के से थे रिश्ते, BF के साथ 2 दोस्तों की गई जान

महिला के आधी उम्र के लड़के से थे रिश्ते, BF के साथ 2 दोस्तों की गई जान
गुना/भोपाल.एमपी में गुना के ट्रिपल मर्डर मामले में मुख्य आरोपी पूनम उर्फ पक्का से पुलिस ने हेमंत हत्याकांड मामले में सुराग जुटाने के लिए शनिवार को फिर 2 घंटे पूछताछ की। आरोपी ने इस हत्याकांड की पूरी कहानी पुलिस के सामने उगल दी। गौरतलब है आरोपी महिला के अपने बेटे के नाबालिग दोस्त के साथ अवैध संबंध बन गए थे जिसकी वजह से एक के बाद एक करके 3 मर्डर हुए। बाद में लड़के के साथ उसके 2 दोस्तों की भी जली लाश कई दिनों बाद पुलिस को मिली। कैसे हत्याकांड को दिया अंजाम...




- हेमंत को उसने कैसे फंसाया था और उसके घर से पैसे और जेवर मंगवाने की हरकत का भी उसने खुलासा किया।

- हालांकि, पुलिस को इस मामले में जो सामान जब्त करना था, मिल चुका है। सुनार के पास रखे झुमके भी पुलिस ने जब्त किए हैं।

लाश जलाने का आइडिया दिया

- सूत्रों के अनुसार, आरोपी पूनम के अपने बेटे के दोस्त हेमंत के साथ अवैध संबंध बन गए थे। उसके बाद पूनम ने हेमंत को फंसाया और उसके घर से जेवर और पैसे भी मंगवाने लगी।

- ये बात जब उसके बेटे को पता चली तो उसने अपने एक अन्य दोस्तों के साथ मिलकर हेमंत का कत्ल कर दिया।

- ये बात जब पूनम को पता लगी तो उसने बेटे को लाश जलाने का आइडिया दिया जिससे किसी को इस बारे में पता न चले।

- बाद में उन 2 दोस्तो को भी मारकर जला दिया गया जिन्होंने इस हत्याकांड में आरोपी का साथ दिया था।

महिला ने हेमंत की दोस्ती करा दी

- कैंट पुलिस ने ट्रिपल मर्डर मामले की मुख्य आरोपी से 2 घंटे पूछताछ की, महिला ने बताया कि उसने हत्या को लेकर ही पूरी साजिश रची थी।

- बच्चों को उकसाने में भी उसी की भूमिका थी। यह भी बताया कि अंतर सिंह मीना आर्थिक रूप से संपन्न थे। इस कारण उनकी दौलत पर नजर थी।

- अपने बेटे से साजिश कर महिला ने हेमंत की दोस्ती करा दी। इस कारण उसका घर पर आना-जाना हो गया।

- बस इसी का फायदा उठाकर उसने उससे पैसे ऐंठना और जेवर मंगवाना शुरु कर दिया।

- महिला ने बताया कि हेमंत की हत्या होने के बाद इसका राज खुल न जाए। इसी कारण से उसके दो और दोस्त को ठिकाने लगाया गया था।

रिमांड पूरी, आज किया जाएगा पेश

- महिला की रिमांड पूरी हो चुकी है। उसे आज अदालत में पेश किया जाएगा।

- पुलिस का कहना है कि हेमंत हत्याकांड के सारे सबूत जुटाए जा चुके हैं।




हेमंत से जेवर और पैसे मंगवाती थी

-थाना प्रभारी आशीष सप्रे ने बताया कि महिला हेमंत से जेवर और पैसे मंगवाती थी।

-उसकी मां के झुमके भी उसने ज्वैलर्स राकेश सोनी के यहां 25 हजार रुपए में गिरवी रख दिए थे। इन्हें जब्त किया गया है।

रो पड़ी थी 3 कत्ल की आरोपी

- इससे पहले शुक्रवार को पुलिस को जंगल से मृतक हेमंत के शव के अवशेष और पेट्रोल की खाली बोतल भी मिली थी।

-गुरुवार को आरोपी पूनम उर्फ पक्का को पुलिस ने 3 दिन के रिमांड पर लिया था। उससे हेमंत हत्याकांड मामले में पूछताछ की गई।

-गुरुवार को उससे ज्यादा पूछताछ नहीं हुई, लेकिन शुक्रवार दोपहर उसे पुलिस खेजरा के जंगल (जहां हेमंत के शव की हड्डियां मिली थीं) लेकर गई थी।

-उधर मीडिया भी सूचना लगने पर वहां पहुंच गई। जैसे ही उसने मीडिया को देखा तो वह रोने लगी और बोली कि मुझे नहीं पता कि बेटे और उसके दोस्त ने क्या-क्या हरकत की है।

-हालांकि पुलिस ने पूनम से कहा चुप हो जाओ नाटक न करे।

शव के अवशेष और पेट्रोल की खाली बोतल मिली

-पुलिस का कहना था कि खेजरा के जंगल में महिला ने अपने सामने ही हेमंत के शव को जला दिया था। उसके अवशेष जगह-जगह फेंक दिए थे।

-जांच के दौरान कुछ और अवशेष मिले हैं। इसके अलावा जिस बोतल में पेट्रोल भरकर आरोपी ले गए थे, वह भी झाड़ियों में मिल गई थी।

क्या है पूरा मामला

-18 मई को सिंचाई विभाग के ऑफिस अधीक्षक अंतर सिंह मीना के बेटे हेमंत का अपहरण हो गया था।

-लेकिन उसके दोस्त लोकेश, ऋतिक का शव मिलने के बाद पुलिस को पता चला कि हेमंत की भी हत्या की गई है।

-इसमें जब छानबीन की गई तो पूनम दुबे, उसके बेटे और दोस्त ने तीनों की हत्या के सुराग पुलिस के हाथ लगे।

-हत्या के पीछे वजह हेमंत से रुपए ऐंठना थी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top