edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को, विविध कार्यक्रमों का आयोजन होगा

जैसलमेर 12 जून। जिले भर में 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। इस मौके पर जिले से लेकर पंचायत स्तर तक योगाभ्यास के अलावा विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। जिलास्तरीय कार्यक्रम 21 जून को पूनमसिंह स्टेडियम में आयोजित किया जाएगा। इससे पूर्व जिला मुख्यालय पर 18 जून को अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम का पूर्वाभ्यास किया जाएगा। जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने सोमवार को इस संबंध में बैठक लेकर तैयारियों को अन्तिम रूप दिया।

इस मौके पर मीना ने बताया कि 21 जून को शहीद पूनमसिंह स्टेडियम में जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित होने के अलावा उसी दिन जिले के सभी ब्लाॅकों में ब्लाॅक स्तरीय कार्यक्रम आयोजित होंगें। उन्होंनंे बताया कि पोकरण, भणियाणा, मोहनगढ तथा रामगढ में भी ब्लाॅक स्तरीय कार्यक्रम आयोजित होंगें। उन्होंनंे बताया कि ब्लाॅक स्तरीय कार्यक्रम के लिए विकास अधिकारी को प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। जिला कलक्टर ने बताया कि संयुक्त राष्ट्र संघ ने अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस घोषित किया है। यह हमारे लिए गर्व का विषय है। उन्होंनंे बताया कि योग के आयोजन से स्वस्थ्य पूर्ण जीवन जीने की प्रेरणा मिलती है साथ ही निरोगी भी रहा जा सकता है। जिला कलक्टर मीना ने जिले में जिला स्तरीय , ब्लाॅक तथा पंचायत स्तरीय योग दिवस की तैयारी के संबंध में सभी संबंधित विभागों को निर्देष दिये कि वे अभी से आयोजन स्थल, योग षिक्षक की व्यवस्था के साथ - साथ जो भी तैयारी करनी है उसको पूर्ण कर दे।

जिला कलक्टर मीना ने बताया कि सम्पूर्ण कार्यक्रम के आॅवर आॅल इन्चार्ज अतिरिक्त जिला कलक्टर होगें। वहीं जिला स्तरीय आयोजन के लिए जिला आयुर्वेद अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। वहीं सांय कालीन कार्यक्रम के लिए जिला षिक्षा अधिकारी(माध्यमिक) को नोडल अधिकारी बनाया गया है। उन्होंने इससे संबंधित जिन विभागो का सहयोग एवं कार्य सौंपने है उसके भी आदेष जारी कराने के निर्देष दिये।

उन्होेंने आयुक्त नगरपरिषद को निर्देष दिये कि योग दिवस से पूर्व शहीद पूनमसिंह स्टेडियम की सप्लाई व्यवस्था के साथ ही अन्य जो बैठक स्टेज, माईक इत्यादि की व्यवस्था करने ही है वे उच्च स्तरीय की करावे। उन्होनंे पेयजल की उचित व्यवस्था के लिए जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिये। उन्होेने कहा कि सभी विभाग येाग दिवस को अपनी सहभागिता दर्ज कराऐगे। उन्होंने ब्लाॅक एवं ग्राम पंचायत स्तर पर किये जाने वाले योग दिवस कार्यक्रम की भी पूरी तैयारी करने के निर्देष दिये।

जिला कलक्टर ने जिला स्तरीय योग दिवस का कार्यक्रम भव्य कराने के साथ ही सभी के सहयोग से अच्छी संख्या में लोगो की भागीदारी सुनिष्चित करने पर जोर दिया। उन्होेने रोटरी, लाॅयन्स क्लब का भी इसमें पूरा सहयोग लेने पर जोर दिया। उन्होंने योग दिवस के संबंध में जो भी प्रचार सामग्री छपवानी है उसका प्रकाषन भी समय पर करने के निर्देष दिये। उन्हांेने अधिकारियों को निर्देष दिये कि जो कार्य एवं दायित्व योग दिवस के संबंध में उनको सौंपे गये है उनको समय पर जिम्मेदार के साथ सम्पन्न करावे। उन्होेंने जनप्रतिनिधियों को भी इसमें सहयोग लेने की बात कही।

इससे पूर्व अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी ने अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर जिला स्तरीय कार्यक्रम के साथ ही उपखंड स्तर व ब्लाॅक स्तर पर किये जाने वाले कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने विभागों द्वारा योग दिवस के बारे मे सुपुर्द दायित्वों से भी अवगत कराया ।

मुख्य कार्यक्रम

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर 18 जून,2017 से प्रातः 6 बजे से 8 बजे तक प्रतिदिन प्रभात फेरी का आयोजन किया जाएगा। 19 जून को प्रातः 8 बजे से 9 बजे तक साईकिल रैली का आयोजन होगा । इसी प्रकार 20 जून को प्रातः 8 बजे से 9 बजे तक नुक्कड सभाएं आयोजित होगी। वहीं 21 जून को प्रातः 7 बजे से 8 बजे तक अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आम नागरिक सामूहिक योगाभ्यास करेगें। इसी दिन दोपहर 11 बजे से 1 बजे तक योग विषयक सेमिनार, तथा कार्यषाला का आयोजन होगा तथा योग विषयक व्याख्यान निबंध प्रतियोगिता का आयोजन होगा सांय 7 बजे से 9 बजे तक योग विषयक सांस्कृति कार्यक्रम होगें।

-जैसलमेर शहर मे 48 घण्टे  में पेयजल आपूर्ति के निर्देष

जैसलमेर, 12 जून। जिला मुख्यालय पर नगर परिषद द्वारा पेयजल आपूर्ति व्यवस्था में जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना ने सुधार के निर्देष दिये। उन्होंनें जैसलमेर शहर में पेयजल आपूर्ति के अन्तराल को कम कर इसे 48 घण्टे में लाने को कहा है ताकि लोगों को पेयजल की किल्लत का सामना नहीं करना पडें। सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार साप्ताहिक बैठक में मीना ने जिले में पानी, बिजली, सडक, चिकित्सा आदि आवष्यक सेवाओं की विस्तृत समीक्षा की।

इस मौके पर जिला कलक्टर ने कहा कि आगामी डेढ माह के दौरान पानी तथा बिजली से संबंधित अधिकारी संवेदनषीलता के साथ कार्य कर लोगों को राहत पंहुचावें। उन्होंनें कहा कि किसी भी माध्यम से सूचना अथवा षिकायत मिलने पर उसका त्वरित समाधान कर संबंधित को राहत पंहुचाना सर्वोपरि प्राथमिकता होनी चाहिए। उन्होंनें बताया कि यह समय सर्वाधिक चुनौती पूर्ण है तथा इस पर अधिकारियों के खरा उतरना चाहिए। उन्होंनें जिला मुख्यालय पर सभी आवासीय क्षेत्रों में निर्धारित अंतराल के अनुसार नियमित रूप से पेयजल आपूर्ति करने की हिदायत दी। उन्होंनंे जिला मुख्यालय पर किसी भी स्थिति में पेयजल की किल्लत नहीं होने के लिए नगर परिषद को पाबंद किया है।

इस मौके पर जिला कलक्टर ने कहा कि जलदाय एवं विद्युत विभाग के अधिकारी यह सुनिष्चित करें कि गर्मी की ऋतु में पेयजल एवं विद्युत आपूर्ति व्यवस्था पर विषेष ध्यान दें एवं जहां से भी पानी की समस्या की सूचना मिलें वहां तत्काल टैंकर या पेयजल स्कीम से लोगों एवं पषुधन के लिए पीने के पानी की समय पर व्यवस्था करें। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी के साथ ही संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

उन्होंनंे जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे फील्ड स्टाॅफ को पाबंद करें कि समय पर पेयजल स्कीमों से पानी की आपूर्ति कर लोगों को पीने का पानी उपलब्ध करावें। उन्होंनें कहा कि टैंकरों से पेयजल परिवहन की भी पूरी कार्य योजना तैयार कर मांग के अनुरूप पेयजल परिवहन की व्यवस्था सुनिष्चित करावें। उन्होंनंे खराब हैण्डपंप की सूचना मिलते ही टीम भेजकर हैण्डपंप दुरस्त करानें के निर्देष दिए। उन्होंनें विद्युत विभाग के अधिकारी को निर्देष दिये कि वे आंधी से क्षतिग्रस्त बिजली तंत्र तुरन्त बहाल करना सुनिष्चित करें। साथ ही पेयजल स्त्रोतो एवं अन्य नलकूपों पर अबाध बिजली आपूर्ति की जाये। जिला कलक्टर ने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग को उनके बकाया सभी कार्य टयूबवेल, हैण्डपंप, पाईपलाईन आदि 15 जुलाई तक हर हाल में पूर्ण करने के निर्देष दिए। साथ ही वर्तमान में चल रहे पेयजल परिवहन के कार्य की पुख्ता मोनेटरिंग के निर्देष दिये।

जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग से रामदेवरा जाने वाले पैदल यात्रियों के पथ निर्माण की प्रगति की जानकारी ली एवं इससे आगामी भादवा मेले से पूर्व इसे पूर्ण करने को कहा। साथ ही बनाएं गए पैदल पथ में बडे पत्थर तथा कंकरों को हटाकर इसे सुगम्य बनानें के निर्देष दिए। उन्होंनंे पीडब्ल्यूडी अधिकारी से गौरव पथ के निर्माण की जानकारी ली एवं जिला कलक्टर ने शेष गौरव पथ के निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देष दिये।

बैठक में जिला कलक्टर ने जिले में मौसमी बीमारियों की जानकारी ली तथा उन्होंनें वर्तमान में पड रही भीषण गर्मी से बचाव के भी निर्देष दिए। उन्होंनें पषुपालन विभाग को निर्देष दिए कि वे अपने सूचना तन्त्र को मजबूत करें एवं यह सुनिष्चित करें कि कहीं पर भी पषुओं में बीमारी फैलती है तो सबसे पहले उनके स्टाॅफ से उन्हें जानकारी मिलें।

-----000-----

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top