edvertise

edvertise
barmer



  जैसलमेर  जिला कलक्टर मीणा ने स्वर्णनगरी जैसलमेर का किया भ्रमण,

देखी सफाई एवं अन्य व्यवस्थाए

स्वर्णनगरी को स्वच्छ एवं साफ सुथरा बनाये रखने के दिये निर्देष



जैसलमेर, 14 मई। जिला कलक्टर कैलाषचन्द मीणा ने रविवार को पहली बार स्वर्णनगरी जैसलमेर का भ्रमण कर सफाई व्यवस्था के साथ ही अन्य व्यवस्थाओं का बारीकी से जायजा लिया। उन्होने कहा कि पर्यटन की दृष्टि से जिस प्रकार स्वर्णनगरी विख्यात है उसी अनुरूप इस स्वर्णनगरी को स्वच्छ एवं साफ सुथरा बनाये रखकर स्वच्छता के क्षेत्र में इसका नाम रोषन करावे। उन्होंने कहा कि यहां आने वाला हर सैलानी यहां की स्वच्छता को हमेषा अपने याद के रूप में लेकर जावे इसलिए नगरीय निकाय के अधिकारी टीम भावना से कार्य कर इस नगरी को एकदम साफ सुथरा बनावे।

चैराहों का करे सौन्दर्यकरण

जिला कलक्टर मीणा ने हनुमान चैराहा, एस.बी.बी.जे. चैराहा, गडीसर चैराहा, यूनियन चैराहा, अम्बेडकर पार्क चैराहा, ट्रांसपोर्ट चैराहा के साथ ही सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लांट, गजरूप सागर फिल्टर प्लांट, दुर्ग का भ्रमण कर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने आयुक्त नगर परिषद् के साथ ही अभियन्ताओं को निर्देष दिये कि वे इन चैराहों को सुव्यवस्थित ढंग से सुन्दर रूप से विकसित करावें। उन्होंने जोधपुर एवं बाडमेर रोड को पूर्णरूप से स्वच्छ बनाये रखने, जितने भी डिवाईडर है उनको उपर कर, उन पर वृक्षारोपण करने, अम्बेडकर पार्क काॅर्नर का डामरीकरण कराने, सडक के किनारे दोनो तरफ बबूलों की कटाई कराने के निर्देष दिये।

वैण्डर पाॅलिसी को लागू करे

जिला कलक्टर ने बाडमेर चैराहा पर जो पोल खडे थे उनको हटाने, चैराहे पर रिफलेक्टर सही ढंग से लगाने, चैराहो पर लगे बैनरों को हटाने के निर्देष दिये। उन्होंने चैराहो पर लगे यूनिपोल पर मुख्यमंत्री शहरी जन कल्याण षिविर के रंगीन फ्लैक्ष लगाने के निर्देष दिये। उन्होंने स्ट्रीट वैण्डर पाॅलिसी के तहत इस कमेटी की बैठक आयोजित कर वैण्डर का पंजीयन करावें एवं उन्हें निर्धारित स्थान देकर सुव्यवस्थित ढंग से खडा करावें। उन्होंने वैण्डर जोन एवं नाॅन वैण्डर जोन घोषित कराने के भी निर्देष दिये। उन्होंने शहर में डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण व्यवस्था को ओर अधिक प्रभावी बनाने के निर्देष दिये। भ्रमण के दौरान आयुक्त नगर परिषद् झब्बरसिंह चैहान, अधिषाषी अभियन्ता सुभाषचन्द्र अग्रवाल, रूडिफ के अभियन्ता सैनी, सहायक अभियन्ता राजीव कष्यप, कनिष्ठ नीरज बसंल व सफाई निरीक्षक देवेन्द्रमल सिघवी भी साथ में थे।

उन्होंने जोधपुर रोड बाईपास पर जो खाली भूमि पडी है उसको राॅक गार्डन के रूप में विकसित करने के निर्देष दिये। उन्होंने अभियन्ताओं को निर्देष दिये कि नालों का पानी सडको पर नहीं आये इसकी पुख्ती व्यवस्था सुनिष्चित करे।

अधिक से अधिक घरों को सीवरेज से जोडे

उन्होंने जेठवाई रोड पर आर.यू.आई.डी.पी. के सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लांट का अवलोकन किया एवं यहां कि क्षमता की जानकारी ली तो अधिषाषी अभियन्ता रूडिफ सैनी ने बताया कि इस प्लांट की क्षमता 10 एमएलडी है लेकिन अभी तक 2 एमएलडी सीवरेज पानी आ रहा है। जिला कलक्टर ने आयुक्त नगर परिषद् से पूछा कि शहर में कितने परिवार घरेलू सीवरेज कनेक्षन से जुडे है। इस संबंध में आयुक्त ने बताया कि शहर में लगभग 12000 परिवार है जिसमें से मात्र 1200 परिवार ही सीवरेज कनेक्षन से जुडे है। इसको जिला कलक्टर ने गभीरता से लिया एवं निर्देष दिये की वे एक अभियान चलाकर 2 माह में अधिक से अधिक परिवारों को सीवरेज कनेक्षन से जुडवाने की कार्यवाही करे। उन्होंने सफाई निरीक्षक को इसमें विषेष रूचि लेकर लोगों को समझाईष के माध्यम से घरों को सीवरेज कनेक्षन से जुडवावे।

वृक्षारोपण की कार्ययोजना बनावे

जिला कलक्टर ने अधिषाषी अभियन्ता रूडिफ को निर्देष दिये कि वे सीवरेज ट्रीटमेन्ट प्लांट के नक्षे में प्लान के बाद जो भूमि बच जाती है उस पर इस सीवरेज पानी का उपयोग करने के लिए वृक्षारोपण की कार्य योजना बनाकर प्रस्तुत करे। उन्होंने यह भी सख्त निर्देष दिये कि जो कार्य अभी भी उनके द्वारा किया जाना है उनको तीव्रगति से करवाना सुनिष्चित करे।

शुद्व पेयजल की हो आपूर्ति

उन्होंने गजरूप सागर फिल्टर प्लांट का भी अवलोकन किया एवं वहां से जैसलमेर शहर के लिए हो रही पेयजल आपूर्ति एवं फिल्टर व्यवस्था की जानकारी कनिष्ठ अभियन्ता से ली। उन्होंने पानी को अच्छी तरह से फिल्टर कर सप्लाई करने तथा प्लांट के भवन का रंगरोगन कराकर उसको साफ सुथरा रखने के निर्देष दिये।

डम्पिंग यार्ड में ही कचरा डाले

जिला कलक्टर ने आयुक्त को निर्देष दिये कि शहर का कचरा डम्पिंग यार्ड में ही ठेकेदार डाले उसकी प्रभावी मोनिटरिंग करे। भ्रमण के दौरान ठेकेदार को टैªक्टर गलत जगह पर कचरा डालने वाला ही था कि उसको रोका एवं कडे निर्देष दिये कि वे कचरा बडाबाग डम्पिंग यार्ड में ही डालेगा। उन्होंने कचरा डम्पिंग यार्ड में नहीं डालने पर ठेकेदार से पेनल्टी वसूल करने के निर्देष दिये।

पाॅलीथीन मुक्त बनाये स्वर्णनगरी को

उन्होंने एस.बी.बी.जे. चैराहा के पास जो नगर परिषद् का जर्जर भवन है उसको गिराकर इस जगह को बगीचे के रूप में विकसित करने के निर्देष दिये। उन्होंने शहर को पाॅलीथीन उपयोग से मुक्ति दिलाने के लिए कडे कदम उठाने के निर्देष दिये ताकि यह शहर पूर्ण रूप से पाॅलीथीन मुक्त दिखे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देष दिये कि भ्रमण के दौरान जो दिषा-निर्देष प्रदान किये है उसकी सात दिवस में पालना सुनिष्चित करावें।

------------- 000000 ----------

बिना अनुमति के मुख्यालय परित्याग नहीं करेगें जिला स्तरीय अधिकारी



जैसलमेर, 14 मई। जिला कलक्टर कैलाषचन्द मीणा ने एक आदेष जारी कर सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देषित किया है कि वे 30 जून तक उनकी अनुमति के बिना मुख्यालय परित्याग नहीं करेगें। उन्होंने यह भी हिदायत दी कि बिना अनुमति के मुख्यालय परित्याग करेगें तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाई जावेगी। अतिआवष्यक कार्य होने पर जिला स्तरीय अधिकारी जिला कलक्टर की अनुमति लेकर ही मुख्यालय परित्याग करेगें।


शहर में मैरिज गार्डन हाॅल का कराये सर्वे,

बिना लाईसेंस के मैरिज गार्डन हाॅल को करे सीज

जैसलमेर, 14 मई। जिला कलक्टर कैलाषचन्द मीणा ने आयुक्त नगर परिषद् जैसलमेर, अधिषाषी अधिकारी नगर पालिका पोकरण व सचिव नगर विकास न्यास को निर्देष दिये है कि वे शहरी क्षेत्र में मैरिज गार्डन हाॅल का सर्वे करावें एवं बिना लाईसेंस के चल रहे इस प्रकार के मैरिज हाॅल गार्डन को सीज करने की कार्यवाही करे। उन्होंने इस कार्य को सात दिवस में गंभीरता के साथ करने के निर्देष दिये।

जिला कलक्टर मीणा ने नगरीय निकाय के अधिकारियों को निर्देष दिये कि वे यह सुनिष्चित कर ले कि उनके शहरी क्षेत्र में बिना लाईसेंस के एक भी मैरिज गार्डन हाॅल संचालित न हो। उन्होंने इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता से गंभीरता के साथ करने के कडे निर्देष प्रदान किये।

------------- 000000 ----------

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top