edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर जिले को टी.बी रोग सेे पूर्णतया मुक्त करने के लिए सभी चिकित्सा अधिकारी करें प्रभावी प्रयास-जिला कलक्टर मीना

रेटिंग वाले सभी बिन्दुओं में शत-प्रतिषत् उपलब्धि अर्जित करने के दिए निर्देष
जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में जिले की स्वास्थ्य सेवाओं पर विस्तार से समीक्षा
जैसलमेर 19 मई। जिला कलक्टर कैलाष चन्द्र मीना ने मरुस्थलीय जैसलमेर जिले को टी.बी.रोग से पूर्णतया मुक्त करने के लिए चिकित्सा अधिकारियों को प्रभावी कार्यवाही करने के लिए सख्त निर्देष प्रदान किए। उन्होंनंे चिकित्सा अधिकारियों को स्वास्थ्य केन्द्रांे में ओपीडी मरीजों में से तीन से चार प्रतिषत संभावित टी.बी रोगियों की प्रतिमाह जांच करने तथा संभावित टी.बी रोगियों की शत्-प्रतिषत् जांच कर उनका निःषुल्क उपचार करने के निर्देष दिए। उन्होंनें इस कार्यक्रम को एक विषेष अभियान के रूप में लेने के निर्देष दिए। उन्होंनें स्वास्थ्य विभाग की महत्वपूर्ण फ्लैगषिप योजनाओं भामाषाह स्वास्थ्य बीमा योजना , मुख्यमंत्री राजश्री योजना , जीवन वाहिनी एकीकृत एम्बूलैंष योजना, जननी सुरक्षा योजना के बेहतरीन ढंग से संचालन कर इसकी प्रभावी माॅनेटरिंग करने के निर्देष दिए।

राजश्री योजना में भुगतान शून्य की स्थिति में लावें

जिला कलक्टर मीना ने मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अन्तर्गत लाभान्वित समस्त लाभार्थियों को प्रोत्साहन राषि का समय पर भुगतान करने के निर्देष दिए एवं कहा कि जो बकाया भुगतान रहा है उनको 30 मई तक अनिवार्य रूप से भुगतान करवाकर शून्य की स्थिति में लावें।

योजनाओं में समय पर हासिल करें उपलब्धि

उन्होंने जिला स्तरीय एवं ब्लाॅक मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे फील्ड क्षेत्र का अधिक से अधिक भ्रमण कर स्वास्थ्य सेवाओं का निरीक्षण करें एवं जहां पर कमी पाई जाती है उसमें सुधार लाने की कार्यवाही करें। उन्होंनंे फील्ड स्टाॅफ को पांबद कर रेटिंग वाले सूचकांक मंे वित्तीय वर्ष चालू होने के साथ ही आषानुरूप उपलब्धि अर्जित करने पर विषेष प्रयास करने पर जोर दिया।उन्होंनंे चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे परिवार कल्याण, जननी सुरक्षा योजना योजना, टीकाकरण, संस्थागत प्रसव इत्यादि में आंवटित लक्ष्यों की पूर्ति प्रतिमाह की कार्य योजना बनाकर अर्जित करने के निर्देष दिए।

जिला कलक्टर मीणा ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की जिला स्तरीय समिति की बैठक में यह निर्देष दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल स्वामी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.एन.आर.नायक, पीएमओं डाॅ.जे.आर.पवांर, उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (प.क.) डाॅ.आर.पी.गर्ग, प्रभारी जिला औषधि भण्डार डाॅ.बी.एल.बुनकर, जिला क्षय अधिकारी डाॅ. बी.के.बारूपाल ,षिक्षा विभाग के दलपतसिंह ,आयुर्वेद विभाग के चिकित्सा अधिकारी डाॅ. अनिरुद्ध गोतम एवं जिले के सामुदायिक एवं प्राथमिक चिकित्सा केन्द्रांे के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी उपस्थित थे।

बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराएं

उन्होंनें चिकित्सा अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे चिकित्सालय में समय पर उपस्थित होकर लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करावंे,ं मरीजो के साथ अच्छा व्यवहार रखा जाए। उन्होंनें चिकित्सालयों में पर्याप्त मात्रा में निःषुल्क दवाईयों की उपलब्धता सुनिष्चित करने एवं मरीजों को इसका पूरा लाभ देने के निर्देष दिए। उन्होंनें उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर प्रतिमाह प्रसूति नियोजन दिवसों का सफल आयोजन करने तथा प्रतिमाह प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस के अवसर पर गर्भवती महिलाओं की जांच व परामर्ष सेवाएं आवष्यक रूप से प्रदान कर लाभान्वित करने के निर्देष दिए।

योजनाओं का प्रचार-प्रसार सही ढंग से करें

जिला कलक्टर ने सभी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे 20 मई को आयोजित होने वाली ग्राम सभा में उपस्थित होकर स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों को प्रदान करें ताकि लोग सरकार द्वारा संचालित स्वास्थ्य सेवाओं का भरपूर लाभ लें। उन्होंनें इस कार्यवाही को प्रतिमाह 5 व 20 तारीख को को ग्राम सभा में सभी चिकित्सा अधिकारियों को उपस्थित होकर योजनाओ ंकी जानकारी देने के निर्देष दिए।

शत्-प्रतिषत हो टीकाकरण

उन्होंनंे सभी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे पूर्ण टीकाकरण कार्य में शत्-प्रतिषत बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण करवाना सुनिष्चित करें इस कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं करें। उन्होंनें जैसलमेर शहरी क्षेत्र में भी प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को टीकाकरण के कार्य में गति लाने के निर्देष दिए। उन्होंनें संस्थागत प्रसव में भी बढोतरी लाने के लिए विषेष प्रयास करने के निर्देष दिए। उन्होंनें जननी सुरक्षा योजना मे गर्भवती महिला को योजना का लाभ मिलें इसके लिए उसे 48 घण्टे अस्पताल में रहने के लिए चिकित्सा अधिकारी प्रेरित करें ताकि उसे योजना के लाभ के साथ ही जच्चे-बच्चे की चिकित्सा पर भी पूरा ध्यान दिया जा सकें।

पीसीपीएनडीटी अधिनियम की प्रभावी पालना सुनिष्चित करें

जिला कलक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देष दिए कि वे पीसीपीएनडीटी अधिनियम की प्रभावी पालना सुनिष्चित करें। उन्हांेनें इस संबंध में सोनोग्राफी केन्द्रों का औचक निरीक्षण कर यह सुनिष्चित करें कि कही पर भी लिंग की जांच न हों। उन्होंनंे मुखबिर योजना का ग्रामस्तर पर प्रचार-प्रसार कराने, बालक-बालिका में भेद न हों इसके लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाने, बेटी बचाओं-बेटी पढाओं कार्यक्रम में भी अहम भूमिका अदा करने के निर्देष दिए।

आदर्ष स्वास्थ्य केन्द्रों पर सुविधा उपलब्ध हों

जिला कलक्टर ने निर्देष दिए कि द्वितीय चरण में चयनित आदर्ष प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र फतेहगढ एवं चांधन में निर्धारित मापदण्ड के अनुरूप सभी सुविधाएं अतिषीघ्रं उपलब्ध कराया जाना सुनिष्चित कर लें। उन्होंनें 108 एवं 104 एम्बुलेंस की चिकित्सा अधिकारियों को आवष्यक रूप से प्रभावी निरीक्षण करने के निर्देष दिए।





रामदेवरा चिकित्सालय को माॅडल चिकित्सा केन्द्र बनावें

उन्होंनें चिकित्सा अधिकारी रामदेवरा को निर्देष दिए कि वे पष्चिमी जिले के माने जाने वाले कुम्भ दर्षनीय स्थल रामदेवरा को माॅडल चिकित्सा केन्द्र के रूप में विकसित करने पर विषेष जोर दिया ताकि यहां आने वाले हर दर्षनार्थी को चिकित्सा की अच्छी सुविधा का लाभ मिलंे। उन्होंनें माॅडल चिकित्सालय के रूप में जो भी सुधार किए जाने है उसको तत्काल करने पर विषेष जोर दिया।

सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर हो वृक्षारोपण

उन्होंने समस्त चिकित्सा संस्थानों के चिकित्सा प्रभारियों को निर्देष दिए कि वे चिकित्सा परिसर में जगह के अनुरूप सघन वृक्षारोपण कराने की कार्यवाही करें। उन्होंनें सभी चिकित्सा अधिकारियों को यह भी निर्देष दिए कि वे चिकित्सा परिसर की सफाई व्यवस्था पर विषेष रूप से ध्यान दें एवं योजनाओं के पोस्टर अच्छी तरह से डिस्प्ले करें ताकि लोग आसानी से योजनाओं की जानकारी हासिल कर सकें।

-

राजस्व लोक अदालत अभियान-न्याय आपके द्वार की समीक्षा बैठक शनिवार को

जैसलमेर 19 मई। राजस्व लोक अदालत अभियान-न्याय आपके द्वार षिविरों में किए गए कार्यो की विभागवार समीक्षा के लिए जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीना की अध्यक्षता में शनिवार, 20 मई को कलेक्ट्रेट सभागार में प्रातः 11 बजे रखी गई है।

अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी ने बताया कि संबंधित विभागीय अधिकारीगण आवष्यक रूप से अपने-अपने विभाग से संबंधित प्रगति विवरण की सूचना सहित निर्धारित समय पर उपस्थित होना सुनिष्चित करावें।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top