बाड़मेर जलदाय विभाग को अंडरटेकिंग के आधार पर विद्युत कनेक्शन देने के निर्देश
- अंतिम छोर पर जलापूर्ति सुनिश्चित करने के लिए प्राथमिकता से अवैध कनेक्शन काटे जाए।
बाड़मेर, 22 मई। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने डिस्काम के अधिकारियांे को जलदाय विभाग के जलस्त्रोतांे पर अंडरटेकिंग के आधार पर विद्युत कनेक्शन जारी करने के निर्देश दिए। ताकि गर्मी के मौसम मंे ग्रामीण इलाकांे मंे जलापूर्ति सुनिश्चित की जा सके। जिला कलक्टर नकाते सोमवार को जिला मुख्यालय पर आयोजित साप्ताहिक बैठक के दौरान बिजली,पानी संबंधित व्यवस्थाआंे की समीक्षा कर रहे थे।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने पेयजल लाइनांे के अंतिम छोर तक जलापूर्ति के लिए अवैध कनेक्शनांे को प्राथमिकता से काटने के निर्देश दिए। उन्हांेने जलाशयांे की नियमित रूप से सफाई करवाने एवं ग्रामीणांे की शिकायतांे का भी प्राथमिकता से निस्तारण कर राहत पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि टैंकरांे के जरिए होने वाली जलापूर्ति के बारे मंे आमजन तक रूटचार्ट पहुंचाया जाए। ताकि उनको टैंकर आने की पूर्व सूचना मिल सके। उन्हांेने जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता नेमाराम परिहार को रूट चार्ट जन प्रतिनिधियांे, उपखंड अधिकारी, तहसीलदार को उपलब्ध करवाने के साथ इसका अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करवाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर नकाते ने पेयजल टैंकरांे की तादाद बढ़ाने एवं ग्रामीणांे तक जलापूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि अगर इसमंे किसी तरह की अनियमितता सामने आई तो संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के साथ संबंधित ठेकेदार को भुगतान नहीं किया जाएगा।

जिला कलक्टर ने रात्रि चौपाल के दौरान आमजन की ओर से प्रस्तुत परिवेदनाआंे का निस्तारण कर वस्तुस्थिति से अवगत कराने के निर्देश दिए। उन्हांेने दुर्घटनाग्रस्त पोल को अतिशीघ्र शिफ्ट करने को कहा। इस दौरान डिस्काम के अधिशाषी अभियंता भेराराम चौधरी ने बताया कि रात्रि चौपाल के दौरान प्रस्तुत की गई एक परिवेदना का निस्तारण करने हुए प्रार्थी को विद्युत कनेक्शन उपलब्ध करा दिया गया है। इस दौरान चौहटन कस्बे मंे पेयजल संकट संबंधित समस्या का निस्तारण करने, डिफाल्टर पेयजल कनेक्शन काटने के निर्देश दिए गए। जिला कलक्टर ने कहा कि बाड़मेर शहर मंे सफाई व्यवस्था मंे सुधार लाने, सीवरेज कनेक्शन करने एवं गौरव पथ का कार्य अतिशीघ्र शुरू किया जाए। उन्हांेने कहा कि झुलते हुए तार भी सही कराए जाए ताकि कोई हादसा नहीं हो। उन्हांेने चिकित्सा विभाग के अधिकारियांे को पुरूष नसबंदी के लिए आमजन को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि अगर शहर मंे सही तरीके से प्रोपर्टी एवं सीवरेज कनेक्शन नहीं किए जाए तो संबंधित फर्म का भुगतान रोक दिया जाए। बैठक के दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता जी.आर.जीनगर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.हेमराज सोनी, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डा.बी.एल.मंसूरिया, पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डा.नारायणसिंह सोलंकी समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

पेयजल परिवहन सत्यापन के लिए कमेटी गठित होगीः जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने जिले मंे टैंकरांे के जरिए होने वाली पेयजल परिवहन का सत्यापन करने के लिए ब्लाक स्तर पर कमेटी गठित करने के निर्देश दिए। इस कमेटी मंे उपखंड अधिकारी, विकास अधिकारी एवं सहायक अभियंता शामिल होंगे। यह रूट चार्ट एवं जीपीएस का मिलान करेंगे कि जलापूर्ति हुई अथवा नहीं।

सर्वे के बारे मंे आमजन तक सूचना पहुंचेः जिला कलक्टर ने दीनदयाल विद्युतीकरण योजना के तहत हो रहे सर्वे के कार्यक्रम के बारे मंे प्रधान, सरपंच, पटवारी, ग्रामसेवक तक सूचना पहुंचाने को कहा, ताकि कोई भी परिवार विद्युत कनेक्शन से वंचित नहीं रहे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top