edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर .तीन माह बाद राजूदास का हुआ अंतिम संस्कार, सैकड़ो लोग हुए शामिल


परिवार का पेट भरने की जुगाड़ में सात समन्दर पार गए राजूदास की तीन माह पूर्व सऊदी अरब में मौत के बाद शनिवार को उसका शव काश्मीर गांव पहुंचा। यहां पर पिछले तीन माह में राजूदास के घर ही नहीं पूरे गांव में शोक छाया हुआ था तथा हर आंख नम थी। काश्मीर गांव पहुंची तो परिजन ने अपना दर्द बताते हुए कहा कि 75 दिन से हम भटक रहे हैं, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हो रही है। कोई भी हमारी पैरवी नहीं कर रहा है।  प इसके चलते प्रशासन और जनप्रतिनिधि हरकत में आए।


तीन माह बाद राजूदास का हुआ अंतिम संस्कार, सैकड़ो लोग हुए शामिल
राजूदार का हुआ अंतिम संस्कार

राजूदास के परिजन के पास गुरुवार को सूचना पहुंचते ही वे उसके शव को लेने के लिए जयपुर रवाना हो गए थे। शुक्रवार को राजूदास का शव जयपुर पहुंच गया। वहां एम्बुलेंस से शव को रवाना किया गया है जो शनिवार को काश्मीर गांव पहुंचा। जहां पर उसका अंतिम संस्कार हुआ।




यूं चला घटनाक्रम

19 फरवरी को हुई मौत

20 फरवरी को पता चला परिजन को

18 मई को परिजन को जयपुर एयरपोर्ट से शव आने की मिली सूचना

18 मई को राजूदास का शव सऊदी अरब से रवाना हुआ

19 मई को पहुंचा जयपुर एयरपोर्ट

20 मई को राजूदास का शव पहुंचा काश्मीर गांव, जहां अंतिम संस्कार हुआ।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top