edvertise

edvertise
barmer

बाड़मेर । सात दिवसीय जैन धार्मिक शिक्षण व संस्कार शिविर का हुआ शुभारम्भ
बाड़मेर । श्री अचलगच्छ जैन श्री संघ, बाड़मेर व विद्यापीठ ज्ञान पाठशाला, बाड़मेर के संयुक्त तत्वावधान में मंगलवार को साध्वी श्री भव्यगुणा श्री जी मसा आदिठाणा की पावन निश्रा एवं अचलगच्छ जैन श्री संघ के अध्यक्ष हनुमानदास बोहरा के मुख्य आतिथ्य, स्थानक श्रावक संघ के मंत्री जितेन्द्र बांठिया की अध्यक्षता तथा कैलाश बोहरा व रमेश बोहरा भूणिया के विशिष्ट आतिथ्य में सात दिवसीय जैन धार्मिक शिक्षण एवं संस्कार शिविर का आगाज हुआ ।



संस्कार शिविर संयोजक मुकेश बोहरा अमन ने बताया कि मंगलवार को साधना भवन में प्रारम्भ हुए सात दिवसीय जैन धार्मिक व संस्कार शिविर में जैन धर्म के तकरीबन 125 से अधिक बालक-बालिकाएं ने भाग लिया । शिविर का शुभारम्भ साध्वी भव्यगुणाश्री मसा के मंगलाचरण से हुआ ।

शुभारम्भ अवसर पर साध्वी भव्यगुणाश्री मसा ने कहा कि ग्रीष्मकाल अवकाश में होने वाले संस्कार शिविर बच्चों में संस्कारो का बीजारोपण करते है और बच्चों जीवन जीने का कौशल सिखाते है । वहीं बच्चों में सकारात्मक नजरिये, नव चेतना, सहयोग, समर्पण जैसी भावनाओं का विकास होता है । इस तरह संस्कार शिविर के माध्यम से बच्चों के जीवन में सदगुणों का विकास होता है ।



कार्यक्रम के मुख्य अतिथि हनुमानदास बोहरा ने बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि संघ बच्चों में संस्कार एवं जैन धार्मिक क्रियाओं के संवर्द्धन के लिए हमेशा तत्पर रहने की बात कही । स्थानक श्रावक संघ के मंत्री जितेन्द्र बांठिया ने कहा कि संस्कार शिविर से बच्चों में अच्छी आदतों, नैतिकता एवं अनुशासन विकास होता है ।
वहीं शिविर के प्रथम दिन बच्चों को आत्म शांन्ति प्रदायक प्रार्थना कार्यक्रम, नवकार महामंत्र, मन्दिर विधि, सामायिक सूत्र, प्रतिक्रमण-ज्ञान सहित कई जैन धर्म के मूलभूत सिद्धान्तों व मूल्यों के साथ-साथ नैतिकतापूर्ण जीवन को लेकर संस्कारों का ज्ञान दिया गया ।


सात दिवसीय जैन धार्मिक शिक्षण व संस्कार शिविर का आगाज अवसर पर शिविर संयोजक मुकेश बोहरा अमन, नरेन्द्र श्रीश्रीमाल, हर्षा वड़ेरा, हितेष बोहरा, महावीर छाजेड़ सहित कई गणमान्य नागरिक, महिला-पुरूष एवं शिविरार्थी उपस्थित रहे ।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top