edvertise

edvertise
barmer



पाली, उत्कर्ष आदर्श विद्यालय में इंफ्रास्ट्रक्यर कार्य प्राथमिकता -जिला कलेक्टर
पाली, 17 मई। जिला कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा ने उत्कृष्ट एवं आदर्श विद्यालयों में ‘इंफ्रास्ट्रक्यर गैप फिलिंग’ कार्यो को योजनाबद्ध रूप से एवं प्राथमिकता के साथ करने के निर्देश दिए है।

जिला कलेक्टर ने बुधवार को शिक्षा विभागाधिकारियों की समीक्षा बैठक में यह निर्देश प्रदान करते हुए कहां कि आदर्श एवं उत्कष्र्ट विद्यालयों में जहां भी आधारभूत कार्य आधे-अधूरे हैं अथवा अभी तक नहीं हुए हंै उनके कार्यो को प्राथमिकता से प्रस्ताव बनाकर तुरंत प्रभाव से शुरू करवाएं। उन्होंने इन विद्यालयों में सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ ग्रीन बोर्डस लगवाना, फर्नीचर्स की पूर्ति, लाईब्रेरी स्थापना तथा उसके बाद ब्राॅड बैंड आदि कार्यो को प्रस्ताव बनाकर क्रियान्वयन करें। उत्कर्ष विद्यालयों में ग्रीन बार्डस स्थापना के साथ ही शौचालय निर्माण, पेयजल, दर्पण व विद्युत कनेक्शन आदि की भी कार्यवाही पूर्ण एवं प्राथमिकता के साथ करवाने की हिदायत दी।

जिला कलेक्टर ने उत्कर्ष विद्यालयों में नरेगा के तहत चारदीवारी बनाने के कार्य का प्रस्ताव देने की हिदायत दी तथा इसके लिए संबंधित प्राचार्य पहल करके प्रस्ताव बनाएंगे तथा कार्यो को कोर्डिनेट करेंगे। जिन विद्यालयों में विद्युत कनेक्शन के डिमांड भेजे हुए है तथा अभी तक पूर्ण नहीं हुए उसके लिए उन्होंने तुरंत अधीक्षण अभियंता (विद्युत) को निर्देश दिए तथा अधीक्षण अभियंता ने बताया कि यह चैबीस घंटे में ही कार्यवाही पूरी करली जाएगी।

एन्वायरमेन्ट क्लियरेंस के तहत विद्यालयी विकास कार्य होंगे-

थ्जला कलेक्टर ने बताया कि माईनिंग एरिया में आने वाले विद्यालयों में एन्वायरमेंट क्लियरेंस के तहत योजना के फंड मंे विकास कार्य करवाएं जाने के प्रावधान है। इन प्रावधानों की उन्हांेने बैठक में ही माईनिंग इंजीनियर को बुलाकर इसकी विस्तृत जानकारी से शिक्षा विभाग अधिकारियों को अवगत करवाया। इस योजना में आदर्श उत्कर्ष व अन्य विद्यालयों में पेयजल व्यवस्था के लिए आरओ प्लांट, वृक्षारोपण, ग्रीन बोर्डस्, कम्प्यूटर व अन्य विकास के प्रस्तावों को तुरंत प्रभाव से स्वीकृत कर कार्य करवाए जाएंगे।

इसके अलावा बैठक में विभिनन विद्यालयों में खेल मैदानों के प्रस्ताव, आईसीटी लैब, भवनों के मरम्मत संबंधी कार्य व अन्य प्रस्तावों पर भी समीक्षा की गई। बैठक में विभिनन जिला शिक्षा अधिकारी व अन्य संबंधित अधिकारियों ने आवश्यक जानकारियां प्रदान की।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top