edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर  अधिकारी रहेंगे सतर्क एवं चौकस, प्रतिनियुक्ति पर लगे कार्मिकांे की बनेगी सूचियां
-नवनियुक्त जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने प्रशासनिक कार्यशैली मंे सुधार एवं आमजन को राहत पहुंचाने की दिशा मंे नवीन कार्य योजना को अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है। जिला कलक्टर नकाते ने विभागीय अधिकारियांे को स्पष्ट निर्देश दिए कि अगर उन्हांेने काम का टालने की कोशिश की और आमजन को राहत पहुंचाने मंे किसी तरह की कौताही बरती तो वे इसका परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहे।

बाड़मेर,11 मई। नवनियुक्त जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने जिले मंे प्रशासनिक अधिकारियांे की कार्यशैली मंे सुधार एवं जन कल्याणकारी योजनाआंे की दिशा मंे महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए विभागीय अधिकारियांे को अलर्ट एवं एक्टिव रहने के निर्देश दिए है। उन्हांेने जिला स्तरीय जन सुनवाई के दौरान उपस्थित अधिकारियांे एवं वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए ब्लाक स्तरीय अधिकारियांे को स्पष्ट कहा कि टीम भावना से अच्छा कार्य करें।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि जिला स्तरीय जन सुनवाई मंे जिला स्तरीय अधिकारी को आवश्यक रूप से उपस्थित रहना है। जबकि पंचायत समिति स्तर पर होने वाली जन सुनवाई मंे अधिशाषी अभियंता एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहेंगे। उन्हांेने के लिए विभागीय प्रमुख की जिम्मेदारी तय करने एवं आदेशांे की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। साथ ही रात्रि चौपाल के दौरान जिला स्तरीय अधिकारी अनुपस्थित रहता है तो उसको जिला कलक्टर से अनुमति लेनी होगी। जिला कलक्टर ने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, शिक्षा एवं चिकित्सा विभाग के अधिकारियांे को अपने अधीनस्थ कार्मिकांे को पाबंद करने के निर्देश दिए कि वे कार्यस्थल पर आवश्यक रूप से उपस्थित रहे। उन्हांेने कहा कि संपर्क पोर्टल पर दर्ज होने वाले प्रकरणांे को प्राथमिकता से निस्तारण किया जाए। इसकी नियमित रूप से समीक्षा की जाएगी। उन्हांेने कहा कि अगर किसी प्रकरण मंे नियमानुसार राहत नहीं दे सकते तो उसका स्पष्ट उल्लेख किया जाए।

उन्हांेने कहा कि किसी भी अधिकारी से उसका स्पष्टीकरण नहीं सुना जाएगा, बेहतर होगा कि संबंधित अधिकारी एक्टिव रहते हुए टीम भावना से बेहतरीन कार्य करके दिखाए। जिला कलक्टर नकाते ने विकास अधिकारियांे को ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग की सरपंचांे एवं ग्रामसेवकांे से संबंधित टांका निर्माण, मनरेगा कार्याें एवं शौचालय तथा आवास निर्माण संबंधित शिकायतांे मंे प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने कहा कि उपखंड एवं विकास अधिकारी इस तरह के मामलांे की नियमित रूप से मोनेटरिंग करते हुए यह सुनिश्चित करें कि कोई भी प्रकरण लंबित नहीं रहे। अगर किसी विकास अधिकारी के क्षेत्र से संबंधित अधिक शिकायतें जिला स्तर पर पहुंची तो यह माना जाएगा कि स्थानीय स्तर पर अधिकारी आमजन की समस्याआंे की सुनवाई नहीं कर रहे है। जिला कलक्टर नकाते ने कहा कि जो अधिकारी एवं कार्मिक काम नहीं कर रहे है उनको चार्जशीट दी जाए।

जिला कलक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को प्रतिनियुक्ति पर लगे कार्मिकांे, चिकित्साधिकारियांे एवं विशेषज्ञांे की सूची मय कार्यस्थल के उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि प्रतिनियुक्ति पर कार्यरत कार्मिकांे की प्रतिनियुक्ति किसके आदेश पर की गई है, इसका विवरण भी उपलब्ध कराया जाए। उन्हांेने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रांे मंे कार्यरत चिकित्सकांे को पाबंद किया जाए कि ओपीडी मंे आने वाले समस्त मरीजांे का उपचार करना सुनिश्चित करें। उन्हांेने राजकीय चिकित्सालय एवं ग्रामीण क्षेत्र के चिकित्सालयों मंे सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्हांेने विद्यालयांे मंे शिक्षकांे की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि नगर परिषद एवं यूआईटी ज्यादातर लोगांे को नियमानुसार अभियानांे से लाभांवित करें। उन्हांेने शहर मंे अतिक्रमण हटाने के लिए एक विशेष टीम गठित करने एवं शिकायत मिलने पर एक सप्ताह की अवधि के भीतर कार्रवाई करने को कहा। जिला कलक्टर नकाते ने समस्त अधिकारियांे को अपनी विभागीय योजनाआंे का प्रजेन्टेशन भी तैयार करने के निर्देश दिए।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top