edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर.भारत पाकिस्तान के बीच डी आई जी स्तर की फ्लेग मीटिंग आयोजित  सरक्रीक इलाके में मछुआरों की घुशपेठ पे उठाये सवाल भारत ने 
पश्चिमी सीमा पर पाक रंैजर्स और सीमा सुरक्षा बल अधिकारियों के बीच डीआईजी स्तर की बैठक बुधवार को सौहार्दपूर्ण वातावरण में आयोजित की गयी । त्रैमासिक बैठक होने का प्रावधान है लेकिन इस बार करीब एक साल बाद यह बैठक हो रही है। आतंकी हमलों, सीज फायर के उल्लंघन की घटनाओं के बीच यह बैठक अहम मानी जा रही थी । बैठक में राजस्थान और गुजरात में तैनात डीआइजी स्तर के अधिकारी शामिल हुए । बैठक सुबह 10 से शाम 2 बजे तक मुनाबाव के कान्फ्रेंस हॉल में चली । सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियो ने पाक रेंजर और अधिकारियो का गर्मजोशी से स्वागत किया ,मुख्य रूप से पाकिस्तान के जीरो प्वाइंट पर प्रस्तावित रेलवे स्टेशन के विस्तार पर चर्चा हुई । गौरतलब है कि भारत ने इस विस्तार पर ऐतराज जताया है।बैठक में संयुक्त गस्त ,तारबंदी के पास पशुओ विचरण ,फ्लड लाइट ,आँधियो दौरान घुशपेठ पर कड़ी नजर रखने जैसे मुद्दों पर वार्ता हुई ,




भारतीय समय सुबह 1000 बजे से 2020 बजे के बीच भारतीय सीमा चौकी मुनाबाओ के कांफ्रेंस हॉल में सीमा सुरक्षा बल और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच त्रैमासिक बॉर्डर मीटिंग का आयोजन किया गया। इस मीटिंग में सीमा सुरक्षा बल की ओर से श्री आई. के. मेहता, उप महानिरीक्षक सेक्टर मुख्यालय सीमा सुरक्षा बल भुज की अध्यक्षता में कुल 13 सदस्यों ने भाग लिया जिसमें सर्वे ऑफ इंडिया एवं नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के सदस्य भी शामिल हुए। वहीं पाकिस्तान की तरफ से ब्रिगेडियर नादिर हुस्सैन, DDG पाकिस्तान रेंजर्स(सिंध) की अध्यक्षता में कुल 14 सदस्यों ने इस मीटिंग में शिरकत की।त्रैमासिक बॉर्डर मीटिंग सौहार्द्रपूर्ण माहौल में संपन्न हुआ जिसमें अवैध-घुसपैठ, गैर इरादतन सीमा उल्लंघन, सीमा स्तम्भ की मरम्मत और रख- रखाव तथा गुजरात क्रीक इलाके में मछुआरों का एक दूसरे देश के सीमा क्षेत्र में गैर कानूनी प्रवेश आदि मुद्दों पर चर्चा हुई तथा सहमति बानी।

नहीं हुआ है मिठाइयों का आदान प्रदान

भारत पाकिस्तान के बीच इन बैठकों और पर्व के मौके पर मिठाइयों का आदान प्रदान होता है लेकिन पिछले लंबे समय से यह बंद है। तनाव के चलते दोनों ही देश अभी दूरी बनाए हुए है।

-पाक चाह रहा है लेकिन हम यथास्थिति की बात करेंगे

डीआईजी स्तर की बैठक करीब 8-9 माह बाद आयोजित हुई जीरो प्वाइंट स्टेशन को पाक बढाना चाह रहा है, लेकिन भारत उसे यथास्थिति में रखने की बात कर रहा है। इसको लेकर वार्ता की गयी ।- प्रतुल्ल गौतम, डीआईजी बीएसएफ बाड़मेर

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top