edvertise

edvertise
barmer



अजमेर मुख्यमंत्राी शहरी जन कल्याण योजना:ः शहरी जन कल्याण शिविर

सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी जन-जन तक पहुंचायें - श्री भड़ाना

कोटड़ा क्षेत्रा में पाईप लाईनों के लिए सात लाख रूपये मंजूर


अजमेर, 11 मई। जिले के प्रभारी मंत्राी तथा सामान्य प्रशासन, राज्य मोटर गैराज एवं सम्पदा विभाग मंत्राी श्री हेम सिंह भड़ाना ने कहा है कि मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में सरकार ने आमजन की समस्याओं का समाधान करने तथा उनके कल्याण के लिए अनेक योजनाएं चला रखी है। उन योजनाओं को अधिकारी जन - जन तक पहुंचायें ताकि आम जन उनका लाभ उठा सकें।

जिला प्रभारी मंत्राी गुरूवार को अजमेर के विश्राम स्थली पर आयोजित मुख्यमंत्राी शहरी जन कल्याण योजना के तहत शहरी जन कल्याण शिविर में उपस्थित जन समुदाय को संबोधित कर रहे थे। वार्ड़ संख्या एक, दो एवं छप्पन के लिए आयोजित इस शिविर में जिला प्रभारी सचिव श्री मुकेश शर्मा भी उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि सरकार शहरी क्षेत्रा के निवासियों की समस्याओं का समाधान करने के लिए इन शिविरों का आयोजन कर रही है। इसका अधिक से अधिक लाभ उठाकर अपनी समस्याओं का समाधान करें। उन्होंने बताया कि 10 मई से आरंभ हुए ये शिविर आगामी 10 जुलाई तक चलेंगे। ये शिविर प्रत्येक वार्ड अनुसार लगाये जायेंगे।

जिला प्रभारी मंत्राी ने बताया कि इन शिविरों में नियमन, पट्टे जारी करने एवं अपनी भूमि का स्वामित्व प्राप्त करने संबंधी अनेक महत्वपूर्ण कार्यो को सम्पादित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस शिविर में यदि कोई नागरिक अपना कार्य नहीं करवा पाया है तो वह आगामी वार्ड के शिविरों में भी अपना आवेदन दे सकेगा।

कोटड़ा क्षेत्रा में पाईप लाईनों के लिए 7 लाख रूपये मंजूर -

जिला प्रभारी मंत्राी श्री भड़ाना ने कोटड़ा क्षेत्रा के सुन्दर नगर, तेजा चैक में पेयजल समस्या से निजात के लिए पाईप लाईनों के लिए सात लाख रूपये की राशि मौके पर ही मंजूर की।

लाभान्वितों को मिले पट्टे एवं राहत -

जिला प्रभारी मंत्राी श्री हेम सिंह भड़ाना एवं जिला प्रभारी सचिव श्री मुकेश शर्मा ने शिविर के दौरान मौके पर ही लोगों को आवासीय भूखण्डों के पट्टे, खाद्य सुरक्षा, जन्म प्रमाण पत्रा सहित पैंशन के कागजात लाभान्वितों को वितरित किये।

इस मौके पर नगर निगम के महापोर श्री धर्मेन्द्र गहलोत ने कहा कि इन शिविरों में प्रशासन संवेदनशीलता के साथ कार्य कर रहा है, जिसमें कई लोगों को पुराने पट्टे सहित अनेक लाभ मिलें है। जिनसे उन्हें राहत मिली है। उन्होंने वार्ड संख्या 56 में मोती विहार, अम्बेडकर काॅलोनी एवं वन विहार काॅलोनी में भू नियमन किये जाने की आवश्यकता प्रतिपादित की।

इस मौके पर नगर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शिवशंकर हेड़ा ने बताया कि ये शिविर वार्ड संख्या एक, दो एवं छप्पन के लिए आयोजित किया गया है। मुख्यमंत्राी जी की भावना के अनुरूप इन शिविरों में लोगों को राहत प्रदान करने के अनेक कार्य संपादित किये जा रहे हैं, उनका सभी लाभ उठायें।

प्रारंभ में जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने शिविरों की विस्तार से जानकारी दी तथा बताया कि इन शिविरों में 29 चिन्हित कार्यो के साथ साथ श्रम कार्ड, शौचालय निर्माण बनवाने जैसे कार्यो की भी स्वीकृति दी जा रही है। इन शिविरों में नगर निगम एवं एडीए सहित 12 अन्य विभागों के कार्यो को सम्पादित करवाया जा रहा है।

इससे पूर्व जिला प्रभारी मंत्राी, जिला प्रभारी सचिव एवं जिला कलक्टर ने प्रत्येक विभाग के काउण्टर पर जाकर किये जा रहे कार्यो की जानकारी प्राप्त की तथा आवश्यक दिशा निर्देश भी दियें।

इस मौके पर नगर निगम के आयुक्त श्री हिमांशु गुप्ता, एडीए सचिव श्री उज्ज्वल राठौड़ सहित समस्त अधिकारीगण तथा श्री बी.पी. सारस्वत एवं श्री अरविन्द यादव भी उपस्थित थे।




सरकारी जमीन पर कब्जा करने वालों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर

जिला स्तरीय जनसुनवाई तथा जन अभियोग व सतर्कता समिति की बैठक सम्पन्न

अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री किशोर कुमार ने दिए प्रशासन को निर्देश

अजमेर 11 मई । अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री किशोर कुमार ने अजमेर के कल्याणीपुरा क्षेत्रा में सरकारी जमीन पर कब्जा करने वाले भूमाफियाओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जिले में विभिन्न क्षेत्रों में अतिक्रमण हटाने, बच्चों से पीड़ित माता-पिता को भरण पोषण का अधिकार दिलाने तथा पीड़ितजन को राहत प्रदान करने के निर्देश दिए।

जिला स्तरीय जन अभियोग एवं सतर्कता समिति की बैठक तथा जनसुनवाई आज कलेक्ट्रेट स्थित अटल सेवा केन्द्र में सम्पन्न हुई। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री किशोर कुमार ने कहा कि जनसुनवाई का उद्देश्य आम आदमी को राहत प्रदान करना तथा समय पर समस्या समाधान करना है। अधिकारी संवेदनशील होकर इन परिवेदनाओं का निस्तारण करें तथा आमजन को राहत प्रदान करें।

सतर्कता समिति की बैठक में अजमेर के कल्याणीपुरा क्षेत्रा में रहने वाले उगम सिंह रावत ने परिवाद दायर किया कि वार्ड संख्या 39 में भूमाफिया सरकारी जमीन पर कब्जा कर रहे है तथा भोले भाले गरीब लोगों को फंसाकर भूखण्ड बेच रहे है। अतिरिक्त जिला कलक्टर ने मण्डल वन अधिकारी, उपखण्ड अधिकारी एवं अजमेर विकास प्राधिकरण के अधिकारियों से जानकारी ली तो पता चला कि भूमाफियाओं ने वन सीमा को पीछे कर वन क्षेत्रा में भी प्लाॅट काट दिए। उन्होंने इस मामले की गम्भीरता से जांच कर दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने तथा सरकारी जमीन को पुनः नियंत्राण में लेने के निर्देश दिए।

अतिरिक्त जिला कलक्टर ने नेहरू नगर किरानीपुरा क्षेत्रा में पहाड़ी पर कब्जा करने के परिवाद पर अजमेर विकास प्राधिकरण एवं उपखण्ड अधिकारी को नियमानुसार कार्यवाही के निर्देश दिए। इसी तरह भगवानपुरा सहकारी समिति में गबन के प्रकरण में पुलिस प्रशासन एवं सैन्ट्रल काॅपरेटिव बैंक के अधिकारियों को दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए गए। इसी प्रकार रूपनगढ़ में ले आउट प्लान में परिवर्तन, विजयनगर में पट्टा आंवटन, अजमेर पुलिस लाइन क्षेत्रा में सरकारी जमीन पर दुकान का निर्माण, खाद्य सुरक्षा योजना में गरीब परिवार को गेंहू दिलाने, चारागाह भूमि से अतिक्रमण हटाने, सड़क का डामरीकरण आदि प्रकरणों में संबंधित अधिकारियों को कार्यवाही के निर्देश दिए गए।

जनसुनवाई के दौरान 2 बुजुर्ग व्यक्तियों ने अपने-अपने बेटों और बहुओं के खिलाफ प्रताड़ना, भरण पोषण नहीं करने तथा सम्पत्ती पर कब्जा करने जैसी शिकायतें दी। अतिरिक्त जिला कलक्टर ने उपखण्ड अधिकारी अजमेर को यह प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही के निर्देश दिए। जनसुनवाई में सड़क, पानी, बिजली, अतिक्रमण, परिलाभ नहीं मिलने आदि से संबंधित भी कई परिवाद प्राप्त हुए। इन सभी प्रकरणों को राजस्थान सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज कर कार्यवही के निर्देश दिए गए।

बैठक में अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक श्री देवेन्द्र कुमार विश्नोई, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री संजय माथुर, उपखण्ड अधिकारी भावना शर्मा, कृषि विभाग के उपनिदेशक श्री वी.के.शर्मा सहित अन्य विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।




शहरी जन कल्याण शिविर

40 साल बाद मिला पट्टा

अजमेर 11 मई । यादराम सूटवाल को 1977 में खरीदे गए भूखण्ड का पट्टा लगभग 40 साल बाद शहरी जन कल्याण शिविर के माध्यम से प्रदान किया तो उसकी आंखे खुशी से भर आई।

रेलवे के कर्मचारी यादराम सूटवाल ने धौलाभाटा में 5 जनवरी 1977 को भूखण्ड खरीदा। आज घर में तीसरी पीढ़ी भी रह रही है। पट्टा बनाने की तमन्ना गुरूवार को पूर्ण हुई। घर बनाने के 20 साल बाद भी उन्होंने एक बार पट्टा बनवाने का पुनः प्रयास किया। वकील एवं प्रोपर्टी सलाहकार से मिलकर फाइल बनाई और उसे संबंधित विभाग में जमा करवाया। पट्टे के इंतजार में श्री यादराम 2011 में सेवानिवृत्त हो गए। सेवानिवृत्ति के पश्चात भी उन्होंने पट्टे की कार्यवाही जारी रखी।

श्री यादराम ने 10 दिसम्बर 2012 को लगे शिविर में पट्टे के लिए पुनः फाइल लगायी। फाइल पर कार्यवाही होती रही। डिमांड नोट के आधार पर निर्धारित समयावधि में राशि जमा करवायी गई। राशि जमा करवाने के पश्चात श्री यादराम सूटवाल को प्रभारी मंत्राी श्री हेम सिंह भडाना, प्रभारी सचिव श्री मुकेश शर्मा, नगर निगम के महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत, अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शिव शंकर हेड़ा, जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने पट्टा वितरण किया। श्री यादराम केे 53 वर्षीय मानसिक विकलांग भाई एवं 10 वर्षीय बहुविकलांग पोती की पीड़ा को यह पट्टा शायद कुछ कम कर सके।




अवध किशोर को बुढ़ापे में जगी पट्टे की उम्मीद
अजमेर 11 मई । केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल से सेवानिवृत्त अवध किशोर प्रसाद को शहरी जन कल्याण शिविर के माध्यम से पट्टा प्राप्त होने की उम्मीद गुरूवार को जगी।

शहरी जन कल्याण शिविर के अन्तर्गत गुरूवार को पुरानी विश्राम स्थली में 3 वार्डों का शिविर लगाया गया। शिविर में अवध किशोर प्रसाद को पट्टा जारी करने के लिए डिमांड नोट प्रभारी मंत्राी श्री हेम सिंह भडाना एवं प्रभारी सचिव श्री मुकेश शर्मा के द्वारा प्रदान किया गया। श्री प्रसाद ने कृपाल नगर गुलाब बाड़ी में 2002 में घर बनाने के लिए प्लाॅट खरीदा। बैंक से लोन लेकर घर बनाने के लिए जदोजहद की लेकिन पट्टा नहीं होने के कारण लोन नहीं मिल सका। पट्टे के लिए दौड़ भाग करके थके हारे प्रसाद को सेवानिवृत्ति के पश्चात मिलने वाले लाभ ही एक मात्रा उम्मीद की किरण के रूप में दिखायी दे रहे थे। सेवानिवृत्ति के समय मिले परिलाभों और जीवन भर की पूंजी को जोड़कर उन्होंने आश्रय के लिए 2009 में घर बनाया।

घर बनने के बाद भी उन्होंने पट्टे के लिए अपनी दौड़ भाग जारी रखी। कृषि भूमि का पट्टा लेने के लिए उन्होंने 2013 में फाइल लगायी। इस पर कार्यवाही का इंतजार करते-करते उनकी धर्मपत्नी श्रीमती मीना देवी पट्टे के दर्शन करने की तमन्ना दिल मे लिए ही इस फानी दुनिया से कूच कर गई। शहरी जन कल्याण शिविर आयोजन की पूर्व तैयारी के समय अजमेर विकास प्राधिकरण के अधिकारियों ने घर जाकर श्री प्रसाद से सम्पर्क किया तो उन्हें विश्वास नहीं हुआ की जिस पट्टे के इंतजार में बरसो बरस बीत गए वह सहज ही मिलने वाला है। एडीए के पटवारी श्री विजय कुमार ने भूमि का नाप किया और फाइल सरपट दौड़ी। गुरूवार को वह दिन भी आया जब श्री अवध किशोर प्रसाद को डिमांड नोट लेने के लिए आने को कहा गया। वे सुबह से ही इसके लिए तैयार होकर नियत समय पर शिविर स्थल पहुंच गए। शिविर में प्रभारी मंत्राी, प्रभारी सचिव, नगर निगम के महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत, अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शिव शंकर हेड़ा, जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने श्री प्रसाद को डिमांड नोट का पत्रा प्रदान किया। डिमांड नोट की निर्धारित राशि जमा कराने पर इन्हें पट्टा उपलब्ध करवा दिया जाएगा।




अरांई में उपकोष कार्यालय सृजित
अजमेर 11 मई । मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे की बजट घोषणा वर्ष 2017-18 के तहत जिले के अरांई तहसील में नवीन उपकोष कार्यालय सृजित करने की स्वीकृति प्रदान की गई है।

निदेशक कोष एवं लेखा श्री पंकज पाटनी द्वारा जारी आदेशों की जानकारी देते हुए जिला कोषाधिकारी श्री मनोज शर्मा ने बताया कि प्रदेश की 10 नव सृजित तहसील मुख्यालयों पर यह स्वतंत्रा उप कोष कार्यालय स्थापित होंगे। जिनमें अजमेर जिले की अरांई तहसील में यह कार्यालय स्थापित होगा। उप कोष कार्यालय में सहायक लेखाधिकारी प्रथम , कनिष्ठ लेखाकार, क्लर्क ग्रेड द्वितीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के एक-एक पद की स्वीकृति प्रदान की गई है।




चिकित्सालय में मरीजों के लिए वाॅटर कूलर मय एक्वा गाॅर्ड भेंट
अजमेर 11 मई । जीव सेवा समिति द्वारा स्वामी हृदयरामजी एवं सिद्ध भाउ जी प्रेरणा से स्व. श्रीमती सीता आसवानी की पुण्य स्मृति में उनके पुत्रा श्री नरेश आसवानी और पुत्राी श्रीमती श्वेता छबलानी ने शुक्रवार को जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय के मुख्य ओपीडी के बाहर वाॅटर कूलर मय एक्वा गाॅर्ड भेंट किया। लगभग 60 हजार रूपए लागत के इस वाॅटर कूलर का उद्घाटन अप्रवासी भारतीय एवं दानदाता श्री एच.आर.आसनानी ने किया।

चिकित्सालय अधीक्षक डाॅ. विनय मल्हौत्रा ने बताया कि यह कूलर 150 लीटर प्रति घण्टे के हिसाब से 24 घण्टे में 3600 लीटर पानी को ठण्डा करता है तथा इसके साथ लगा हुआ एक्वा गाॅर्ड 170 लीटर प्रति घण्टे के हिसाब से 24 घण्टे में 4 हजार लीटर पानी फिल्टर करता है। उन्होंने बताया कि इस भीषण गर्मी में मरीजों को शुद्ध एवं शीतल पेयजल मिलेगा जो पुण्य का कार्य है। इस मौके पर पूर्व अधीक्षक डाॅ. पी.सी.वर्मा, डाॅ.विक्रान्त शर्मा, सहायक अभियंता श्री अशोक रंगनानी तथा जीव सेवा समिति के श्री माधो बचानी, श्री देश बजाज, श्री हरीश नानकानी एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।a

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top