edvertise

edvertise
barmer



जैसलमेर  गर्मी ऋतु में पेयजल एवं विद्युत आपूर्ति पर विषेष ध्यान देंने की जरूरत-जिला कलक्टर

राजश्री का भुगतान शून्य की स्थिति में लाने के दिये कडे निर्देष

जैसलमेर शहर मे पेयजल आपूर्ति सुचारू करने के दिए कडे निर्देष


जैसलमेर, 15 मई। जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीणा ने जलदाय एवं विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिये कि वे गर्मी की ऋतु में पेयजल एवं विद्युत आपूर्ति व्यवस्था पर विषेष ध्यान दें एवं जहां से भी पानी की समस्या की सूचना मिलें वहां तत्काल टैंकर या पेयजल स्कीम से लोगों एवं पषुधन के लिए पीने के पानी की समय पर उपलब्ध करावें। उन्होंनंे जैसलमेर शहर में समय पर पेयजल आपूर्ति नहीें होने को गंभीरता से लिया एवं कनिष्ठ अभियंता को कडे निर्देष दिए कि वे शहर में किसी भी सूरत में 48 घण्टे के अन्तराल में जलापूर्ति करवाना सुनिष्चित करावें।

फील्ड स्टाॅफ को करें पाबंद

जिला कलक्टर मीणा ने सोमवार को कलेक्टेªट सभागार में आयोजित पानी बिजली की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में यह निर्देष दिये। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर के.एल.स्वामी के साथ ही संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। उन्होंनंे जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे फील्ड स्टाॅफ को पाबंद करें कि समय पर पेयजल स्कीमों से पानी की आपूर्ति कर लोगों को पीने का पानी उपलब्ध करावें। उन्होंनें मांग के अनुरूप टंैकरों से पेयजल परिवहन कराने के साथ ही उसकी प्रभावी माॅनेटरिंग करने के निर्देष दिए। उन्होंनंे जलदाय एवं विद्युत विभाग के अधिकारियों को समन्वय रखते हुए पेयजल एवं विद्युत आपूर्ति की ऐसी व्यवस्था करें कि लोगों को समय पर पानी एवं बिजली की सुविधा मिलती रहें।

शीघ्र करें नलकूपों का विद्युतीकरण

उन्होंनें विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियंता को निर्देष दिये कि वे पेयजल विभाग के आर.ओ.प्लांट एवं अन्य नलकूपों को प्राथमिकता से विद्युतीकरण करवाने की कार्यवाही करावें। उन्होंनें जहां भी विद्युत की समस्या की जानकारी मिलें वहां तत्काल ही कार्यवाही करवाकर विद्युत आपूर्ति को निर्बाध रूप से बनाएं रखें। उन्हांेनंे खराब ट्रांसफाॅर्मर को 72 घण्टे से पूर्व सही कराने की व्यवस्था के भी निर्देष दिए। उन्होंनें शहरी क्षेत्र में जो भी विद्युत पोल काम नहीं आ रहें है उनको हटानें के निर्देष दिए। उन्होंनें नगर परिषद, रूडीप, विद्युत विभाग के अधिकारी संयुक्त रूप से दुर्ग में भ्रमण कर अण्डरग्राउण्ड विद्युत केबलिंग के कार्य का सर्वे कर शीघ्र ही कार्य के टेण्डर जारी करने पर जोर दिया। उन्होंनें यह हिदायत दी कि नियत्रंण कक्ष में जो कर्मचारी लगाएं गए है उन्हें पाबंद करें कि जो भी व्यक्ति पानी, बिजली की समस्या के बारे में उनसे जानकारी लें तो वे सद्व्यवहार के साथ जवाब दें।

राजश्री के बकाया भुगतान को शून्य की स्थिति में लावें

उन्होंनें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी व प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को निर्देष दिये कि पुराने राजश्री के भुगतान के जो मामले है उसकी संपूण सूचना सहित सूची उपलब्ध करावें एवं इस कार्य में वे व्यक्तिगत रूचि लेकर संबंधित के बैंक खाते मंगवाकर एक सप्ताह में भुगतान करवा के शून्य की स्थिति में लावें। उन्होंनंे इसको सर्वोच्च प्राथमिकता से लेने के निर्देष दिए। उन्होंनंे पानी के सेम्पल जांच प्रभावी ढंग से करने के साथ ही गर्मी जनित बीमारियों के उपचार की समुचित व्यवस्था सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर करने के निर्देष दिए। उन्होंनंे प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को निर्देष दिए कि वे जिला अस्पताल में मरीजों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करावें वहीं वार्डो व शौचालयों की सफाई व्यवस्था में और अधिक सुधार लावंे। उन्होंनंे सर्पदंष एवं कुत्ते के काटनें के इंजेक्षन सभी स्वास्थ्य केन्द्रांे पर पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रखें।

शहरी क्षेत्र में उचित हो सफाई व्यवस्था

उन्होंनें आयुक्त नगर परिषद को निर्देष दिये कि वे शहर में सफाई व्यवस्था में सुधार लावें वहीं किसी भी सूरत में नाले का गंदा पानी ओवरफ्लों न हों उनके पुख्ता प्रबंध करावें। उन्होनंे शहर में पाॅलिथीन उपयोग पर प्रतिबंध लगाने के लिए विषेष अभियान चलाकर उसकी धरपकड की कार्यवाही करने एवं संबंधित व्यक्ति के खिलाफ चालान बनाने के निर्देष दिये। उन्होंनंे स्वर्णनगरी को पाॅलिथीन मुक्त बनाने के लिए विषेष कार्य करने एवं जन चेतना कार्यक्रम आयोजित कर नगर वासियो को पाॅलिथीन उपयोग नहीं करने के लिए पे्ररित करने पर बल दिया वहीं आवारा पषुओं की धरपकड कर उन्हें गौषालाओं में भिजवानंे एवं साथ ही जो व्यक्ति शहर में पषु रखते है उनको भी समझाईष करें कि अपने पषुओं को खुला नहीं छोडें।

शेष गौरव पथ के निर्माण कार्य चालू करें

उन्होंनंे पीडब्ल्यूडी अधिकारी से द्वितीय चरण के गौरव पथ के निर्माण की जानकारी ली तो बताया कि 31 में से 20 गौरव पथ का निर्माण कार्य चालू है एवं उसमे से 10 कार्य पूर्ण हो गए है। जिला कलक्टर ने शेष गौरव पथ के निर्माण कार्य तथा जैसलमेर शहर के शहरी गौरव पथ का निर्माण कार्य शीघ्र चालू कराने के निर्देष दिये। उन्होंनंे रामदेवरा में पैदल आने वाले यात्रियों के लिए बनाएं जा रहें पैदल मार्ग के कार्य को 30 जून तक पूर्ण कराने के निर्देष दिए।

सूचना तन्त्र को विकसित करें

उन्होंनें उप निदेषक पषुपालन को निर्देष दिए कि वे अपने सूचना तन्त्र को मजबूत करें एवं यह सुनिष्चित करें कि कहीं पर भी पषुाओं में बीमारी फैलती है तो सबसे पहले उनके स्टाॅफ से उन्हें जानकारी मिलें।

ये थे उपस्थित

बैठक में अधीक्षण अभियंता पीडब्ल्यूडी सुनील कालानी, विद्युत एम.आर.जाट, अधिषाषी अभियंता जलदाय पराग स्वामी, एस.डी.सोनी, रूडीप के सैनी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.एन.आर.नायक, पीएमओं डाॅ. जे.आर.पंवार, उप निदेषक पषुपालन चावडा, जिला आयुर्वेद अधिकारी डाॅ.अनिरूध गौतम, आयुक्त नगर परिषद झब्बरसिंह चैहान, के साथ ही अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थें एवं विभागीय गतिविधियों पर प्रकाष डाला।

-----000----

अवैध षराब के धंधे में लिप्त परिवारो का प्रभावी ढंग से सर्वे कर उनको

अन्य स्वरोजगार से जोडने के लिए विषेष प्रयास करें- जिला कलक्टर

जैसलमेर, 15 मई। जिला कलक्टर कैलाष चन्द मीणा ने सहायक निदेषक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग को निर्देष दिए कि वे अवैध षराब में लिप्त चिन्हित किए गए लोगों को नवजीवन योजना से जोडकर उन्हें इस धंधे से मुक्ति दिलावें एवं अन्य स्वरोजगार से जोडने के लिए विषेष प्रयास करें । उन्होनें कहा कि इस योजना की सार्थकता तभी सिद्व होगी जब इस व्यवसाय से जुडे लोग अन्य व्यवसाय कर अपना स्वरोजगार प्राप्त करेगंे।

जिला कलक्टर मीणा ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित नवजीवन योजना की जिला स्तरीय बैठक में यह निर्देष दिए । बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी नारायणसिंह चारण, उप अधीक्षक पुलिस नरेन्द्र कुमार दवे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा0ॅ एन0आर0नायक , श्रम कल्याण अधिकारी भवानीप्रताप चारण, जिला षिक्षा अधिकारी बंषीलाल रोत, आयुक्त नगर परिषद झब्बरसिंह चैहान के साथ स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी चुतर्भुज पालीवाल उपस्थित थें।

जिला कलक्टर मीणा ने कहा कि अधिकारी एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी सेवा भावना से कार्य कर इस धंधे में लिप्त परिवारों का पुनर्वास करने के साथ ही ऐसी बस्तीओं में आधारभूत सुविधाओं को विकसित करावें। उन्होंनंे ऐसे परिवारों के ड्राप आउट बच्चों को विद्यालय षिक्षा से जोडने के लिए विषेष प्रयास करने के निर्देष दिए। उन्होंनें स्वंयसेवी संस्थाओं के पदाधिकारियों को निर्देष दिए कि वे इस योजना के अन्तर्गत प्रचार-प्रसार के लिए नुक्कड-नाटक एवं नारा लेखन का कार्य करावें एवं ऐसी बस्तीयों में ऐसा वातावरण बनावें कि लोग स्वयं आगे आकर इस धंधे को छोडें एवं स्वरोजगार के रूप में अन्य व्यवसाय से जुडें।

उन्होंनंे सहायक निदेषक को निर्देष दिए कि वे जैसलमेर क्षेत्र में ऐसे परिवारों का सहीं ढंग से सर्वे कराने की व्यवस्था करावें साथ ही सर्वे होने के बाद चिह्न्ति किए गए लोगो को आरएसएलडीसी से प्रषिक्षण दिलाने, श्रमिक कल्याण की योजनाओं से जोडने के लिए विषेष कार्य करावें,

सहायक निदेषक हिम्मतसिंह कविया ने योजना के अन्तर्गत अब तक की गई गतिविधियों के बारे में बैठक में विस्तार से प्रकाष डाला एवं संस्थाओं को कहा कि वे योजना के प्रचार-प्रसार के लिए नुक्कड नाटक एवं नारा लेखन का कार्य करावें।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top