edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर .नेताओं ने सीएम से समझौता किया जसवंत समर्थकों ने नहीं, अब फेसबुक पर मचा तूफान
नेताओं ने सीएम से समझौता किया जसवंत समर्थकों ने नहीं, अब फेसबुक पर मचा तूफान

जयपुर में भले ही मुख्यमंत्री और जसवंतसिंह के साथ रहे नेताओं ने समझौता कर लिया हों लेकिन फेसबुक पर स्वाभिमान के टीम के नाम से विरोध शुरू हो गया है। समझौते में शामिल लोगों की आलोचनाओं के साथ ही स्वाभिमान की लड़ाई को जारी रखने को लेकर कमेंट किए जा रहे है। इन लोगों का कहना है कि समझौता तो नेताओं ने किया है आम वोटर्स को पूछा ही नहीं गया है।




जिन नेताओं ने समझौता किया है उनके अपने स्वार्थ है। इसके अलाव उन्होंने इस मामले में जसवंत पुत्र मानवेन्द्रसिंह को शामिल नहीं करने को लेकर भी नाराजगी शुरू कर दी है। एक युवक ने तो टीम स्वाभिमान के नाम से मोबाइल नंबर लेने शुरू कर दिए है जिसमें करीब 300 लोगों ने अपने मोबाइल नंबर डाल लिए है।




क्या हुआ समझौता-

जयपुर में विगत दिनों जसवंतसिंह के साथ रहे बीस के करीब लोग मुख्यमंत्री से मिलने गए थे और इन्होंने वहां पर पिछले चुनावों के बाद हुए बैर को भूलने और फिर पार्टी से जुडऩे के मुद्दे पर बात की है। इसके बाद हाल ही में हुए मुख्यमंत्री के दौरे में भी कुछ नेता मिलने पहुंचे थे। इस कारण यहां जसवंत समर्थकों में रोष है।




मानवेन्द्र की चुप्पी बरकरार-

जसवंत पुत्र मानवेन्द्र की चुप्पी इस मामले में बरकरार है। वे चुनावों के वक्त भी खुलकर सामने नहीं आए थे और अब भी खुलकर कुछ भी नहीं कर रहे है। इस समझौते के बाद मानवेन्द्र दिल्ली में ही है। एेसे में उनकी प्रतिक्रिया भी पूरी तरह से पता नहीं चली है।



0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top