edvertise

edvertise
barmer

बाड़मेर। पानी की समस्या से जूझ रहे हैं थारवासी 

बाड़मेर। गर्मी के शुरुआती दौर में ही पानी की समस्या से जूझे रहे थार के लोग , पानी की किल्लत को लेकर त्राहि त्राहि मची हुई है। जिलामुख्यालय के अधिकांश इलाकों में जलापूर्ति समय पर नहीं हो रही है। शहर के कई इलाकों में पानी सप्लाई सुचारू रूप से नहीं हो रही है। 


जबकि जिले के प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने समीक्षा बैठक में समीक्षा करते हुए संबंधित विभागीय अधिकारियों को गर्मी के मौसम को ध्यान में रखते हुए सभी इलाकों में जलापूर्ति के लिए भी समुचित तैयारियां सुनिश्चित करने के साथ अंतिम छोर तक पानी पहुंचाने व अधिकारियों मोनेटरिंग करने के निर्देश जारी किये थे लेकिन फिर भी संबंधित विभाग गहरी निंद्रा में सौ रहा है। जिसके चलते शहर के अधिकांश इलाकों में पानी का भयंकर सकट गहरा गया है। जिले के प्रभारी मंत्री अंतिम छोर तक पानी पहुंचाने की बात तो करते है मगर जमीनी हकीकत ये है की जिलामुख्यालय के अधिकांश इलाकों में नियमित जलापूर्ति नहीं होने से लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं दुसरी ओर मटकी भर पानी के लिये महिलाएं इधर- उधर पानी के जुगाड़ में भटकने को मजबूर हो रही है तथा निजी टैंकरो से पानी डलवाना उनके लिये महंगा पड़ पर रहा है, चार सौ से पांच सौ रूपये प्रति टैंकर पैसे वसूलने से गरीब लोग मंहगा पानी डलवाले में असमर्थ है, ऐसी स्थिति में गरीब लोग बुरी तरह से परेशान है। पानी की किल्लत के चलते लोगों में जलदाय विभाग के प्रति रोष देखने को मिल रहा है। गौरतलब है कि अगर शहर में पानी की भयंकर किल्लत चल रही है तो ऐसे में गाँवो के क्या हालात होंगे जिसका हम अंदाजा लगा सकते है। मंत्री जी अगर गर्मी के शुरुआती दौर में ये स्थति है तो आगे क्या हालात होंगे ? ये ही स्थति रही तो आखिर कैसे पहुंचेगा अंतिम छोर तक पानी ?

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top