edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर जिला स्तरीय लेपटाप वितरण समारोह आज

बाड़मेर, 03 मई। जिला स्तरीय लेपटाप वितरण समारोह गुरूवार को प्रातः 10 बजे भगवान महावीर टाउन हाल मंे रखा गया है। इस दौरान वर्ष 2015-16 मंे मैरिट मंे आने वाले 100 विद्यार्थियांे को लेपटाप वितरित किए जाएंगे।

जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक ओमप्रकाश शर्मा ने बताया कि जिला स्तरीय समारोह के मुख्य अतिथि राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी होंगे। समारोह की अध्यक्षता बाड़मेर जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी करेंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप मंे संसदीय सचिव लादूराम विश्नोई, विधायक मानवेन्द्रसिंह, तरूणराय कागा, कैलाश चौधरी, हमीरसिंह भायल, मेवाराम जैन, जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल, यूआईटी चैयरमैन डा.प्रियंका चौधरी, जिला कलक्टर सुधीर शर्मा, पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला होंगे। उन्हांेने बताया कि कक्षा आठवीं मंे 87.50 प्रतिशत, दसवीं कक्षा मंे 88.17 प्रतिशत, कक्षा बारहवीं विज्ञान वर्ग मंे 80 प्रतिशत, वाणिज्य मंे 78 तथा कला मंे 83 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियांे को इस कार्यक्रम मंे उपस्थित होने को कहा गया है। उन्हांेने बताया कि शेष विद्यार्थियांे को 5 से 10 मई तक राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गांधी चौक बाड़मेर मंे प्रातः 10 से सांय 5 बजे तक लेपटाप प्राप्त कर सकते है। छात्र-छात्राआंे को लेपटाप प्राप्त करने के लिए शाला दर्पण से जनरेट की हुई रसीद दो प्रति मंे फोटो लगाकर मय अंकतालिका की प्रमाणित प्रतिलिपि के साथ संस्था प्रधान से प्रमाणित करवाकर साथ लानी होगी।

सांसद आदर्श ग्राम योजना की बैठक आज
बाड़मेर, 03 मई। सांसद आदर्श ग्राम योजना मंे चयनित ग्राम पंचायत बायतू भोपजी के विकास के संबंध मंे समीक्षा बैठक बाड़मेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी की अध्यक्षता मंे 4 मई को सांय 5 बजे जिला कलक्टर कार्यालय मंे रखी गई है।

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने बताया कि इस दौरान गत बैठक मंे दिए गए निर्देशांे की पालना, नवीनतम स्थिति एवं अन्य आवश्यक बिन्दूआंे पर विचार-विमर्श किया जाएगा। उन्हांेने संबंधित अधिकारियांे को आवश्यक सूचनाआंे के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए है।

जिला कलक्टर की मई माह में आयोजित होने वाली

रात्रि चौपालांेे का कार्यक्रम घोषित


बाड़मेर, 03 मई। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा की मई माह मंे आयोजित होने वाली रात्रि चौपालांे का कार्यक्रम घोषित किया गया है। रात्रि चौपालांे मंे संबंधित विभागीय अधिकारियांे को उपस्थित होने के निर्देश दिए गए है।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार बाटाडू एवं भीमड़ा कलस्टर की रात्रि चौपाल 5 मई को ग्राम पंचायत बाटाडू, 9 मई को कगाउ एवं खुड़ासा कलस्टर के लिए कगाउ ग्राम पंचायत मुख्यालय, 12 मई को गडरारोड़ एवं बांडासर कलस्टर के लिए गडरारोड़ ग्राम पंचायत मुख्यालय, 19 मई को छाछरलाई कला एवं सरवड़ी कलस्टर के लिए छाछरलाई कला ग्राम पंचायत मुख्यालय, 23 मई को राणीगांव एवं उंडखा कलस्टर के लिए उंडखा ग्राम पंचायत मुख्यालय, 26 मई को रतनपुरा एवं डेडावास कलस्टर के लिए रतनपुरा ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रात्रि चौपाल का आयोजन होगा। जिला कलक्टर शर्मा ने बताया कि प्रत्येक रात्रि चौपाल मंे संबंधित ग्राम पंचायत के ग्रामीणांे की समस्याआंे एवं अभियोगांे का मौके पर ही निपटाने के लिए ग्रामीण विकास विभाग, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, डिस्काम, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, सार्वजनिक निर्माण विभाग, पशु पालन, कृषि विभाग, शिक्षा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, रसद विभाग के साथ संबंधित उपखंड अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, विकास अधिकारी एवं भू अभिलेख निरीक्षक, पटवारी एवं ग्रामसेवकांे को आवश्यक रूप से उपस्थित होने के निर्देश दिए गए हैं। संबंधित तहसीलदार एवं विकास अधिकारियांे को चौपाल कार्यक्रम का अधिकाधिक प्रचार एवं प्रसार करने के निर्देश दिए गए है। ताकि इसका लाभ क्षेत्र के प्रत्येक ग्रामीण को मौके पर मिल सके। उन्हांेने बताया कि चौपाल मंे प्रत्येक ग्रामवार समस्याआंे पर चर्चा की जाएगी। चौपाल की समाप्ति पर खुली चौपाल मंे जन सुनवाई आयोजित होगी।

न्याय आपके द्वार मंे राजस्व समस्याआंे का होगा निस्तारण

बाड़मेर, 03 मई। लोक अदालत अभियान-न्याय आपके द्वार 2017 के तहत 8 मई से 30 जून तक आयोजित होने वाले शिविरों में आमजन की राजस्व संबंधित विभिन्न प्रकार की समस्याओं का निस्तारण किया जाएगा।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने बताया कि राजस्व लोक अदालतों में राजस्थान काश्तकार अधिनियम 1955 की धारा 53, 88,188,183 के तहत दर्ज मुकदमे एवं इजराज के प्रार्थना पत्र, भू-राजस्व अधिनियम 1956 की धारा 136 के अन्तर्गत लम्बित प्रार्थना पत्र एवं नामान्तरकरण तथा धारा-91 की कार्यवाही के संबंध में लंबित अपीलें, विभिन्न तरह के लम्बित वादों व प्रार्थना पत्रों के परिप्रेक्ष्य में अन्य प्रकार के प्रकरणों को आवश्यकतानुसार विचार के लिए रखा जा सकता है। उन्होंने बताया कि शिविर में बंद रास्तों को खुलवाने, संकड़े रास्तों से अतिक्रमण हटाने तथा नए रास्ते दर्ज कराने संबंधित समस्याओं का भी निस्तारण किया जा सकेगा। उन्हांेने बताया कि शिविरों में ग्राम पंचायत के लम्बित सभी नामान्तरकरणों का निस्तारण, पारिवारिक कृषि भूमि के सहमति से विभाजन के नवीन प्रकरण दर्ज कर निस्तारण करना, लम्बित गैर खातेदारी के प्रकरणों में खातेदारी दिया जाना, राजस्व अभिलेखों में लिपिकीय त्रुटियों का शुद्धीकरण, नवीन राजस्व ग्रामों के लिए नोर्म्स के अनुसार प्रस्ताव तैयार किये जाने अािद के कार्य किए जाएंगे। जिला कलक्टर ने अभियान के सुचारू और प्रभावी आयोजन के लिए समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

महिलाएं सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान

मंे सक्रिय भागीदारी निभाएंःअख्तर


बाड़मेर, 03 मई। सड़क हादसों मंे अक्सर किसी व्यक्ति के घायल या मौत होने पर उसके परिवार के साथ विशेषकर महिला सदस्य ज्यादा प्रभावित होती है। कई बार पूरे परिवार के भरण-पोषण की जिम्मेदारी उस पर आ जाती है। इसलिए महिलाआंे को यह प्रण लेना होगा कि वे अपने परिवार में से किसी भी सदस्य पुरूष, बालक या बालिका को बिना सड़क सुरक्षा के नहीं जाने देंगे। खासकर हेलमेट और सीट बेल्ट के प्रयोग के लिए बाध्य करेंगे। महिला मंडल बाड़मेर आगोर की सचिव सराना अख्तर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग एवं विश्व बैंक के सहयोग से चलाए जा रहे ग्राम स्तरीय सड़क सुरक्षा एवं शिक्षा जागरूकता कार्यक्रम के दौरान यह बात कही।

इस दौरान सराना अख्तर ने कहा कि जब भी महिलाएं किसी काम का बीडा उठा लेती है तो उस काम मंे अवश्य सफलता मिलती है। उन्हांेने इस दौरान सभी संभागियों को सड़क सुरक्षा की शपथ दिलाई। साथ ही महिलाएं करंे तैयारी, सड़क सुरक्षा अब हमारी भी जिम्मेदारी नारे लगवाए। इस दौरान संस्थान निदेशक आदिल भाई ने संभागियांे को संबोधित करते हुए अभियान की रूपरेखा के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। उन्हांेने बताया कि प्रत्येक दिन छह टीमों के सहयोग से लगभग 650 से 700 लोगों तक विभिन्न माध्यमांे से सुरक्षित सड़क नियमांे संबंधित जागरूकता संदेश पहुंचाया जा रहा है। साथ ही सड़क सुरक्षा अभियान के तहत किए गए कार्याें की बारीकी से समीक्षा की जा रही है। इस अवसर पर संस्थान प्रबन्धक मुकेश द्विवेदी ने सभी टीम लीडर एवं सदस्यों से अभियान को बेहतर बनाने के लिए सुझाव मांगे। उन्हांेने कहा कि उन सुझावों को लागू किया जा रहा है जिसका परिणाम ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोगों की भागीदारी के रूप में दिखाई दे रहा है। उन्होंने बताया कि गुरूवार को यह अभियान चौहटन तहसील की ग्राम पंचायतों में किया गया है और शुक्रवार से रामसर तहसील में अभियान का आयोजन होगा। उनके मुताबिक इस अभियान में महिला संभागियों की भागीदारी बढाने के साथ विभिन्न गतिविधियों, फिल्म प्रदर्शन, नुक्कड नाटक, प्रदर्शनी को ज्यादा से ज्यादा रोचक बनाने के साथ कार्यक्रम पूर्व प्रचार प्रसार के जरिए ज्यादा से ज्यादा लोगांे तक सड़क सुरक्षा की जानकारी पहुंचाई जा रही है। इस अभियान में टीम लीडर निर्मला व्यास, दशरथ सिंह जाट, मनदीप, जगाराम, फहीम खां एवं ईषराराम के साथ अन्य सड़क सुरक्षा संदर्भ व्यक्ति कमला, भूराराम, बबीता जीवनानी, कंचन कुमारी, सुमन, चन्दा फुलवारियां, गजेन्द्र, महबूब खां, संजीव सैनी, भुट्टा खां, ज्योति सिंह, अन्जु जाट, मदीना, सरस्वती सक्रिय भूमिका निभा रहे है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top