edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर
शहर को साफ रखना हम सभी का कर्तव्य-विश्नोई

जीवन का हर पल कुछ सिखाता है, अभिरूचि शिविर का हुआ आगाज



राजस्थान राज्य भारत स्काउट गाइड़ जिला मुख्यालय बाड़मेर द्वारा स्थानीय राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय माल गोदाम रोड़ बाड़मेर में अभिरूचि शिविर का शुभारम्भ नगर परिषद आयुक्त श्रवण कुमार विश्नोई के मुख्य अतिथि, जिला शिक्षा अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा की अध्यक्षता एवं युवा उद्यमी बालाराम गोदारा, धारा संस्थान के निदेशक महेश पनपालियां, महेश पब्लिक स्कूल के निदेशक सुरेश जाटोल के विशिष्ट अतिथि मंे आयोजित हुआ। इस दौरान अतिथियांे का फीता काटकर मां सरस्वती के प्रतिमा के समक्ष द्वीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया गया। इस अवसर पर समारोह के मुख्य अतिथि नगर परिषद आयुक्त श्रवण कुमार विश्नोई ने कहा कि जीवन का हर पल कुछ न कुछ इंसान को सिखाता है अगर इंसान की सीखने की ललख हो तो। उन्होंने कहा कि स्काउट गाइड़ का सराहानीय प्रयास है जिसकी बदौलत ग्रीष्मकालीन छुट्टियों में बच्चांे को रोजगार युक्त भी किया जा रहा है। आप सभी अपने रूचि के मुताबिक विषयांे का चयन कर और उसमंे पूर्ण रूप से दक्ष होंवे। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन को आंदोलन बनाना होगा। तब हमारा देश स्वच्छ होगा। और अपने शहर को साफ सुथरा रखने का हम सभी का कर्तव्य है। स्काउट गाइड़ समाज सेवा का प्रयाय है इसलिए हम सभी को स्वच्छता की अलख जगाते हुए जंहा पर भी गंदगी दिखे हम स्वयं को साफ कर अन्य को भी साफ करने के लिए प्रेरित करना होगा। उन्होंने कहा कि स्काउट नाम ही अपने आप मंे समाज सेवा है स्काउट से जुड़ा हुआ प्रत्येक व्यक्ति राष्ट्र के प्रति समर्पित होकर राष्ट्र के हित में सदैव कार्य करता है और कार्य करने के लिए प्रेरित करता है। इस अवसर पर समारोह की अध्यक्षता करते हुए जिला शिक्षा अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा ने कहा कि आप सभी बच्चंे पूरे मन के साथ अपने-अपने विषय सीखें और अध्यापक भी बच्चों को पूरे मन के साथ सिखायें ताकि ये समय का सदुपयोग कर सकें। उन्होने कहा कि शिविर के माध्यम से जो प्रक्षणार्थियांे को रोजगार युक्त किया जा रहा है ये अपने आप सराहानीय कार्य है इसलिए आप भी सीखें और दूसरों को भी सिखाएं। इस अवसर पर समाजसेवी बालाराम गोदारा व महेश पनपालिया ने भी अपने विचार रखते हुए ऐसे शिविरों का अधिक से अधिक लाभ लेने की बात कही। इस अवसर पर स्काउट गाइड़ की सीओ ज्योति रानी महात्मा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। वहीं धन्यवाद ज्ञापित गीता बेन व्यक्त किया तथा कार्यक्रम का संचालन सीओ ज्योति रानी महात्मा ने किया। इस अवसर पर अनिल रामावत, सुनिल शर्मा, अरूणा सोलंकी, गायत्री चैधरी, आशा डांगरा, धर्मवीर धारीवाल, खगेन्द्र सिंह, धर्मेन्द्र फुलवारियां, दिपीका शर्मा, सरिता, भावना, सोलम सिंह, जागृति सोलंकी, कमला चैधरी सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे।

ये सिखायें जायेंगे टेªड़-सीओ ज्योति रानी महात्मा ने बताया कि 12 मई से 18 जून तक आयोजित होने वाले अभिरूचि शिविर में सिलाई, मेहन्दी, ड्राइंग पेटिंग, केन वर्क, संगीत, कम्प्यूटर, स्पोकन इंग्लिश, साॅफ्टटाॅयज, नृत्य, जुडो कराटे, संस्कृत सम्भाषणम्, टाइ एण्ड ड़ाई, कुकिंग, आर्ट एण्ड क्राफ्ट, पर्सनल्टी डवलपमेंट, सलाद सज्जा, ब्यूटी पार्लर, इलेक्ट्रशियन, एंकरिंग, मोबाइल रिपेयरिंग, कशिदाकारी, एरोबिक्स, साॅफ्ट स्किल, बेस्ट आॅफ वेस्ट सहित कई विषयों में प्रशिक्षण प्रदान कर विद्यार्थियांे का दक्ष बनाया जायेगा।

सीखेंगी हुनर-सीओ महात्मा ने बताया कि अभिरूचि शिविर में महिलाओं व बालिकाओं को आजिविका चलाने के लिए भी विभिन्न प्रशिक्षण देकर दक्ष किया जायेगा। ताकि वे अपने परिवार का भरण-पोषण कर सकें।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top