edvertise

edvertise
barmer



अजमेर राजस्व लोक अदालत अभियान: न्याय आपके द्वार 2017

पूजा को मिला पीहर, दादी का आंचल और जमीन का हक


अजमेर 10 मई । कहानी पूरी फिल्मी है। बाप का साया सिर से उठ जाना, मां का दूसरी शादी रचा लेना, दादी और चाचा का पोती को हक देने से इंकार, अदालत, गांव वालों की गवाही, दादी का दिल पसीजना, पोती को उसका हक मिल जाना और गिले शिकवे भूलकर परिवार का फिर से एक हो जाना। राजस्व लोक अदालत के तहत गिरवरपुरा में आयोजित शिविर में जब दादी और पोती का मिलन हुआ तो सभी की आंखों में आंसू थे।

यह कहानी कई साल पहले सावर तहसील के नापाखेड़ा गांव से शुरू हुई । गांव के स्व. देवराज मीणा की पुत्राी पूजा ने उपखण्ड न्यायालय में वाद दायर किया कि उसे उसकी पैतृक जमीन का हक दिलाया जाए। पूजा का कहना है कि उसकी मां सीमा ने करीब 15 साल पूर्व उसके पिता देवराज को छोड़कर भीलवाड़ा के जालमपुरा में रहने वाले केसरलाल फेडवा से ब्याह रचा लिया। इसके कुछ समय बाद पूजा के पिता देवराज की भी मृत्यु हो गई। मां तो छोड़कर गई ही, पिता का साया भी सिर से उठ गया। ऊपरवाले का सितम यहीं पर नहीं रूका, पूजा के चाचा खेमराज और दादी गलकू देवी ने उसे अपना मानने तक से इंकार कर दिया। इस बीच मां की ममता जागी और सीमा मीणा पूजा को अपने साथ जालमपुरा ले गई। पूजा ने वहीं पढ़ाई की और उसका ब्याह भी हो गया।

इस बीच पूजा जैसे ही बालिग हुई और अपने हक को जानने समझने लगी। उसने दादी से स्व. पिता का हिस्सा मांगा। इस बार भी उसे इनकार और तिरस्कार मिला। हालात से हारी पूजा ने पिछले साल उपखण्ड न्यायालय में न्याय की गुहार की। दिन बीतते गए और सरकारी कार्यवाही चलती रही। इस बीच राज्य सरकार का राजस्व लोक अदालत अभियान पूजा के लिए वरदान बनकर सामने आया। प्रशासन ने दोनों पक्षों को बुलाकर समझाईश की तो दादी गलकू और चाचा खेमराज ने पूजा को अपना वारिस मानने से ही इनकार कर दिया। इस बीच गांव वालों को बुलाकर गवाही ली गई तो पता चला कि पूजा देवराज की पुत्राी और गलकू देवी की पोती ही है। उपखण्ड अधिकारी सुरेश कुमार बुनकर ने बताया कि दोनों पक्षों को एक बार पुनः बुलाकर समझाया गया तो आखिरकार दोनों पक्षों में जमी बर्फ पिघल ही गई। दादी और चाचा ने स्वीकार कर लिया कि पूजा उनके ही परिवार का हिस्सा है। पूजा ने भी सहमति दे दी कि उसके पिता का हिस्सा भले ही कागजों में उसके नाम कर दिया जाए लेकिन खेती चाचा ही करते रहे। मैं तो बस इतना चाहती हूं कि मुझे मेरा पीहर मिल जाए और बेटी के रूप में स्वीकार किया जाए। दादी गलकू देवी से भी आखिरकार रहा नहीं गया और उन्होंने भी आंखों में आंसू भरकर पूजा को गले लगा लिया। गिरवरपुरा के सरपंच और ग्रामीणों ने भी परिवार को बधाई और शुभकामनाएं दी।




जिला लोक शिकायत एवं सतर्कता समिति की बैठक 11 को
अजमेर 10 मई । राजस्थान सुनवाई का अधिकार अधिनियम 2012 के तहत द्वितीय अपील प्राधिकारी के रूप में अधिसूचित जिला लोक शिकायत एवं सतर्कता समिति की उपसमिति की बैठक 11 मई को प्रातः 11 बजे कलेक्ट्रेट स्थित अटल सेवा केन्द्र में आयोजित की जाएगी। बैठक में उप समिति द्वारा तहसील, उपखण्ड एवं जिला स्तर के प्रकरणों में द्वितीय अपील प्राधिकारी के रूप में प्रकरणों पर सुनवाई की जाएगी।




राजस्व लोक अदालत अभियान: न्याय आपके द्वार 2017

ग्राम पंचायतवार शिविरों का कार्यक्रम निर्धारित

अजमेर, 11 मई। राज्य सरकार के निर्देशानुसार आगामी 8 मई से 30 जून तक आयोजित किए जाने वाले राजस्व लोक अदालत अभियान - न्याय आपके द्वार 2017 का ग्राम पंचायतवार शिविरों का कार्यक्रम निर्धारित कर दिया गया है।

जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि 11 मई गुरूवार को गगवाना, सनोद, बिडकिच्यावास, बडकोचरा, मलातो की बेर, सलेमाबाद, गोरधा, लोडियाना, मनोहरपुरा, चांपानेरी एवं नोसल में राजस्व लोक अदालत अभियान शिविर आयोजित होंगे।




गुरूवार को 16 ग्राम पंचायतों में होगा पट्टा वितरण शिविर का आयोजन
अजमेर, 11 मई। राज्य सरकार के विशेष पट्टा वितरण अभियान के तहत गुरूवार 11 मई को जिले की 15 ग्राम पंचायतों में शिविर आयोजित किए जाएंगे।

जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि गुरूवार को अरांई पंचायत समिति में मनोहरपुरा, भिनाय में चापानेरी व नागोला, जवाजा में मालातो की बेर व बड़कोचरा़, मसूदा में लोडियाना व दौलतपुरा प्रथम, केकड़ी में गोरधा व सदारा, सरवाड़ में हिंगोनिया, श्रीनगर में उटड़ा व रसुलपुरा, किशनगढ़ में सलेमाबाद तथा पीसांगन पंचायत समिति में बिडिक्यावास व लामाना में शिविर आयोजित किए जाएंगे।




राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार में 599 प्रकरणों का हुआ निस्तारण
अजमेर 10 मई । राजस्व लोक अदालत अभियान न्याय आपके द्वार 2017 के अन्तर्गत बुधवार को जिले में 599 प्रकरणों का निस्तारण कर आमजन को राहत प्रदान की गई।

अतिरिक्त जिला कलक्टर एवं लोक अदालत प्रभारी श्री किशोर कुमार ने बताया कि राजस्व लोक अदालत अभियान के अन्तर्गत जिले में जिला कलक्टर द्वारा 4, अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन द्वारा 5, सहायक कलक्टर मुख्यालय द्वारा विभाजन एवं स्थायी निषेधाज्ञा के एक-एक तथा 2 अन्य प्रकरणों का निस्तारण किया गया। इसी प्रकार तहसीलदा एव ंनायब तहसीलदार स्तर पर अजमेर के मियापरु में नामांतरण के 22, खाता दुरूस्ती के 9, खाता विभाजन के 46, सीमाज्ञान के 12, नकले 428 अन्य 52 तथा भिनाय के बड़ली में नामांतरण के 2, राजस्व नकले 2 प्रकरण निस्तारित हुए।




जिला स्तरीय जनसुनवाई गुरूवार को
अजमेर 10 मई । जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल की अध्यक्षता में जिला स्तरीय जनसुनवाई गुरूवार 11 मई को प्रातः 11 बजे अटल सेवा केन्द्र में आयोजित की जाएगी। इसमें जिलेवासी अपनी समस्याओं के निस्तारण के लिए मौके पर आवेदन कर सकते है।




महिला एवं बाल विकास मंत्राी का यात्रा कार्यक्रम
अजमेर 10 मई । महिला एवं बाल विकास मंत्राी श्रीमती अनिता भदेल गुरूवार को भीलवाड़ा में आयोजित शहरी जन कल्याण शिविर में पट्टा वितरण करने के उपरान्त अजमेर पहुंचेगी। वे शुक्रवार 12 मई को प्रातः 11 बजे होटल हाॅली डे इन जयपुर में आयोजित समाज की अशिक्षित महिलाओं द्वारा अपनी बेटियों को अपने लक्ष्य को प्राप्त करने एवं स्वतंत्रा बनाने के उद्ेश्य पर आधारित कार्यक्रम में भाग लेंगी। श्रीमती भदेल इसके पश्चात सायं 6 बजे अजमेर के आर.आर. काॅलेज नर्सिंग के द्वारा आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय नर्सेज दिवस के कार्यक्रम में भाग लेंगी। वे शनिवार 13 मई को प्रातः 8.30 बजे फरीदाबाग काॅलोनी में डामर सड़क निर्माण कार्य का उद्घाटन करेंगी। श्रीमती भदेल सोमवार को प्रातः 7 बजे जयपुर के लिए प्रस्थान करेंगी।




जन कल्याण शिविर के पहले दिन प्राधिकरण अध्यक्ष हेड़ा ने जारी किए मौके पर दो पट्टे

पहले दिन प्राधिकरण सम्बन्धित 45 मामले आए

अजमेर, 10 मई। अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शिव शंकर हेड़ा ने बुधवार को पुरानी विश्राम स्थली पर आयोजित जन कल्याण शिविर के पहले दिन मौके पर दो पट्टे जारी करके लोगों की समस्या निस्तारण की शुरूआत की।

शिविर में समस्या निस्तारण के लिए प्राधिकरण के अधिकारी और कर्मचारी तेज गर्मी के बावजूद मौजूद रहे। शिविर में कई लोग नियमों की जानकारी और विभिन्न कार्यो की जानकारी लेने के लिए भी जुटे। पहले दिन प्राधिकरण के समक्ष 45 आवेदन आए, जिसमें से 22 मामले कृषि भूमि के थे।

श्री हेड़ा ने बुधवार दोपहर शिविर पहुंचकर लोगों की समस्याओं की जानकारी ली तथा अधिकारियों से कई मामलों पर चर्चा करके मामलों के निस्तारण के निर्देश दिए। उन्होंने शिविर में विभिन्न विभागों के अधिकारियों से जानकारी लेते हुए प्रकरण त्वरित निपटाने को भी कहा।

मौके पर राजेश कुमार के दो पट्टे, श्री हेड़ा ने जारी करते हुए उन्हें खसरा संख्या 9474 और 9477 के उपलब्ध कराए। प्राधिकरण सचिव श्री उज्जवल राठौड़ ने श्री हेड़ा को विभिन्न प्रकार की समस्याओं पर चर्चा करते हुए उनके निस्तारण की जानकारी भी दी।

आज शिविर के पहले दिन प्राधिकरण से सम्बन्धित 45 आवेदन आए जिसमें से 22 कृपि भूमि के तथा अन्य पट्टे आदि से सम्बन्धित थे। शिविर में प्राधिकरण उपायुक्त श्री कृप्ण अवतार त्रिवेदी, एक्सईएन अनूप टंडन आदि मौजूद रहे।




शहरी जन कल्याण शिविर में नगर निगम को 767 आवेदन प्राप्त
अजमेर, 10 मई। नगर निगम अजमेर द्वारा पुरानी विश्राम स्थली में आयोजित शहरी जन कल्याण शिविर के दौरान वार्डवासियों के 767 प्रकरणों के आवेदन प्राप्त किए गए।

नगर निगम के महापौर श्री धर्मेन्द्र गहलोत ने बताया कि शिविर के दौरान 4 सिवरेज कनेक्शन, 98 जन्म-मृत्यु, 609 नगरी निकाय कर, 2 भवन मानचित्रा, 14 कौशल प्रशिक्षण, 25 व्यक्तिगत ऋण के आवेदन प्राप्त किए गए। शिविर में 15 महिलाओं को स्वयं सहायता समूह गठित कर उनके माध्यम से लाभान्वित होने की प्रक्रिया की जानकारी प्रदान की गई।

इस अवसर पर स्थानीय पार्षद, नगर निगम आयुक्त श्री हिमांशु गुप्ता, प्रियव्रत पंड्या, अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री अरविंद कुमार सेंगवा, उपायुक्त श्री गजेन्द्र सिंह रलावता एवं ज्योति ककवानी सहित गणमान्य नागरिक एवं वार्डवासी उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top