edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर मंे 1144 स्थानांे पर पेयजल परिवहन की स्वीकृति जारी
बाड़मेर, 19 मई। ग्रीष्मकाल में दूरस्त गांवों व ढाणियेां में पेयजल समस्या के समाधान के लिए जिला जल समिति की ओर से स्वीकृत अभावग्रस्त -कमीशंड 998 गांव एवं ढाणियांे तथा नोन कमीशंड 146 हेबिटेशन में कुल 1144 हेबिटेशन में टैंकरों के जरिए पेयजल परिवहन की स्वीकृति जारी की गई है।

जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि पेयजल परिवहन के लिए स्वीकृत स्थानों की सूची उपखंड अधिकारी ,तहसीलदार एवं सहायक अभियंता कार्यालय में उपलब्ध कराई गई है। जहां से आमजन भी जानकारी ले सकते है। उनके मुताबिक बाड़मेर उपखंड मंे 191, बायतू मंे 187,चौहटन एवं सेड़वा मंे 81, शिव एवं गडरारोड़ मंे 104, गुड़ामालानी मंे 44, सिणधरी मंे 127, सिवाना एवं समदड़ी मंे 89, बालोतरा मंे 186, बालोतरा शहर मंे 35, रामसर मंे 100 स्थानांे पर टैंकरांे के जरिए जलापूर्ति की स्वीकृति जारी की गई है। उन्हांेने बताया कि बाड़मेर जिले मंे जलदाय विभाग के 37 हाइडेेªन्ट से 1144 स्थानों पर टैंकरों के जरिए पेयजल परिवहन 5 मई से प्रारंभ कर दिया है। यह पानी संबंधित स्थानों पर ग्राम पंचायत की ओर से चिन्हित सार्वजनिक टंाकों में डाला जा रहा है। जहां से आमजन पानी भर कर ले सकता है। निर्धारित प्रक्रिया के तहत हाइड्रेन्ट स्थान से पानी भरकर टैंकर स्वीकृत रूट से जाएगा तथा साथ में पर्ची पर टैंकर खाली करने के स्थान पर सरपंच,महिला,पटवारी या गांव के मुखिया में से किसी दो के हस्ताक्षर जिसमें एक महिला हो ,हस्ताक्षर करवाकर संबंधित कनिष्ठ अभियंता को सुपुर्द करवाएगा। जिला कलक्टर नकाते ने बताया कि यदि स्वीकृत स्थान पर तय अंतराल पर पुनः टैंकर समय पर नहीं आता है तो जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियंता ,सहायक अभियंता ,तहसीलदार, एसडीएम कार्यालय को सूचित करें। टैंकरों की स्वीकृति वेबसाइट पर देखी जा सकती है। जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता नेमाराम परिहार ने बताया कि जिस स्थान पर पेयजल समस्या है उन स्थानों को चिन्हित कर सहायक अभियंता एवं एसडीएम की बनी कमेटी द्वारा अनुमोदन के बाद अधिषाषी अभियंता के माध्यम से जिला कलक्टर की ओर से इसकी स्वीकृति जारी की जाती है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top