edvertise

edvertise
barmer

ये है चर्चित भंवरी का बेटा साहिल, तीन वारंट जारी होने के बाद बयान दर्ज कराने पहुंचा कोर्ट
anm bhanwari devi son sahil.

जोधपुर। प्रदेश के राजनीति हल्कों में भूचाल लाने वाले बहुचर्चित एएनएम भंवरी देवी प्रकरण में आज उसका पुत्र साहिल कोर्ट में बयान दर्ज करवाने पहुंचा। तीन बार वारंट जारी होने के बाद आखिरकार आज कोर्ट पहुंचे साहिल के बयान समय अभाव के कारण पूरे नहीं हो पाए। कोर्ट ने उसे कल फिर से उपस्थित रहने को पाबंद किया है। साहिल को देखने उमड़े लोग...




- एएनएम भंवरी देवी अपहरण व हत्या के पश्चात राज्य सरकार ने उसके पुत्र साहिल को चिकित्सा विभाग में अनुकंपा नियुक्ति प्रदान की थी।

- कोर्ट में साहिल के बयान को महत्वपूर्ण माना जा रहा है, लेकिन कई बार बुलाने के बावजूद साहिल कोर्ट में बयान देने को उपस्थित होने से कतराता रहा।

- आखिरकार तीन बार वारंट जारी होने के बाद आज साहिल के कोर्ट पहुंचने पर उसे देखने वालों का तांता लग गया। आज उसके बयान अधूरे रहे। उसे कल फिर कोर्ट में उपस्थित रहने का आदेश दिया गया है।

- उल्लेखनीय है कि भंवरी देवी के एक पुत्र और दो पुत्रियां है। जबकि उसका पति अमरचंद अभी जेल में है।




यह है मामला




- जोधपुर जिले के बिलाड़ा थाने में अमरचंद नाम के एक व्यक्ति ने एक सितम्बर 2011 को रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसकी पत्नी एएनएम भंवरी देवी लापता है।

- उसने अपनी पत्नी के अपहरण की आशंका जताते हुए तत्कालीन राज्य सरकार में मंत्री महिपाल मदेरणा सहित दो तीन लोगों पर शक जाहिर किया। इसके बाद यह मामला सुर्खियों में आ गया।

- मामले की जांच कुछ आगे बढ़ती इस बीच राज्य सरकार ने बढ़ते विरोध को ध्यान में रख मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी। सीबीआई ने तीन दिसम्बर २०११ को महिपाल मदेरणा के पूछताछ की और उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

- बाद में इस मामले में कांग्रेस विधायक मलखान सिंह विश्नोई का भी नाम आया। उन्हें भी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। इसके अलावा इस मामले में बारह अन्य गिरफ्तारियां भी हुई।

- इसके बाद से महिपाल व मलखान अभी तक जेल में ही है। सीबीआई का दावा है कि भंवरी देवी का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गई। बाद में शव को जला कर उसकी राख को राजीव गांधी लिफ्ट नहर में बहा दिया गया। यह मामला अब कोर्ट में विचाराधीन है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top