edvertise

edvertise
barmer

मामा के साथ शहर पढ़ने गई थी भांजी, पहले हुआ प्यार फिर दोनों ने की शादी



समस्तीपुर (बिहार). विभूतिपूर थाना एरिया के एक गांव में मामा-भांजी के रिश्ते को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। मामा अपनी भांजी को शहर पढ़ाने ले गया था जहां दोनों के बीच प्यार हुआ और फिर दोनों ने शादी कर ली थी। जब ये बात लड़की के घरवालों को पता चली तो उन्होंने इसका विरोध किया और लड़की की शादी कहीं और तय कर दी। हैदराबाद पढ़ाने ले गया था मामा...

- दरअसल, पूजा और रामबालक राम का रिश्ता मामा-भांजी का है।

- पूजा गरीब घर से आती है जबकि रामबालक राम हैदराबाद के सिकंदराबाद में रेलवे में पोस्टेड है।

- दो साल पहले रामबालक पूजा के घर आया और उसके पिता को कहा कि पूजा की पढ़ाई की जिम्मेदारी वो लेगा।

- इसके बाद रामबालक पूजा को लेकर सिकंदराबाद आ गया और यहां एक कॉलेज में एडमिशन करा दिया।

- यहां आने के बाद मामा-भांजी एक ही घर में एक साथ रहने लगे थे। दोनों ने पुलिस के सामने बताया कि इसी दौरान दोनों के बीच प्यार हो गया।

- इसके बाद रामबालक ने पूजा से शादी कर ली और दोनों पति-पत्नी के रूप में रहने लगे।

पूजा के घरवालों को पता चला तो तय की दूसरी शादी
- इसके बाद रामबालक कई दिनों तक टाल-मटोल करता रहा। जब पूजा घर नहीं आई तो उसके पिता सिकंदराबाद पहुंच गए।- यहां पहुंचने के बाद जब उन्हें पूरी बात पता चली तो वे पूजा को घर लेकर आ गए और इस शादी का विरोध किया।

- इसके बाद उन्होंने पूजा की शादी किसी और लड़की से तय कर दी।

ऐसे हुई थाने में दोबारा शादी

- पूजा की शादी तय हो जाने के बाद घरवाले रस्म निभाने लड़के के घर गए थे।

- इसी दौरान मौका देख पूजा घर से भाग गई और पुलिस के पास पहुंचकर सारी बात की जानकारी दी।

- थानाध्यक्ष संजीत कुमार ने पूरी बात सुनने के बाद पूजा के मामा को बुलाया और पूछताछ की।

- पूछताछ में उसने सारी बातें स्वीकार की जिसके बाद पुलिस ने दोनों की फैमिली को थाना बुलाया।

- इसके बाद थाना कैंपस में ही पूजा और रामबालक की दोबारा शादी कराई गई।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top