edvertise

edvertise
barmer

अजमेर, अमेरिका के यूरोलोजिस्ट करेंगे जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय में जटिलतम आॅपरेशन्स शनिवार से


अजमेर, 6 अप्रेल। संभाग के सबसे बड़े चिकित्सालय जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय की ओर से शनिवार 8 अप्रेल से 12 अप्रेल तक 5 दिवसीय यूरोलोजी शिविर एवं कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा।
जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. पी.सी वर्मा ने बताया कि स्वामी हिरदारामजी एवं सिद्ध भाउ जी की प्रेरणा एवं जीव सेवा समिति अजमेर के सहयोग से आयोजित होने वाले इस यूरोलोजी शिविर में अमेरिका के विश्व प्रसिद्ध येरोलोजिस्ट डाॅ. राॅयन पैट्रिक तरलेकी एवं डाॅ. रोबार्ट कोबेल, स्थानीय यूरोलोजिस्ट डाॅ. रोहित अजमेरा एवं डाॅ. सुनील गोखरू रोगियों के आॅपरेशन्स करेंगे। इस शिविर को सफल बनाने के लिए चिकित्सालय के विभागाध्यक्षों के साथ एक बैठक में प्रभारी अधिकारी तथा नर्सिंग अधीक्षक को दायित्व सौंपे गए। उन्होंने बताया कि बीपीएल कार्डधारियों, वरिष्ठ नागरिकों, विकलांग तथा पेंशनर्स आदि के द्वारा अपने साथ उचित दस्तावेज तथा डायरी साथ लाने पर सभी सुविधायें निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी।
यूरोलोजी विभागाध्यक्ष डाॅ. रोहित अजमेरा ने बताया कि नियमित रूप से चलने वाले आउटडोर में से जटिलतम रोगों से ग्रस्त जरूरतमंद 35 रोगियों का चयन कर लिया गया है।
जीव सेवा समिति के सचिव जगदीश वच्छानी ने बताया कि विगत 20 वर्ष से लगातार यूरोलोजी शिविर का आयोजन किया जा रहा है जिसका उद्देश्य ग्रामीण अंचल के जरूतमंद रोगियों को लाभान्वित किया जाना है। जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय के द्वारा यह 26वां यूरोलोजी शिविर जीव सेवा समिति के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। श्ाििवर के दौरान रोगियों को समस्त व्यवस्थाएं जांच, दवा, आॅपरेशन आदि निःशुल्क उपलब्ध कराये जाएंगे।


विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा बैैठक 10 अप्रेल कोअजमेर, 6 अप्रेल। संभागीय आयुक्त श्री हनुमान सहाय मीना की अध्यक्षता में सोमवार 10 अप्रेल को कलेक्ट्रेट सभागार में प्रातः 11 बजे जिले के विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की समीक्षात्मक बैठक आयोजित की जाएगी। यह जानकारी अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री किशोर कुमार ने दी।


फिंगर प्रिन्ट सत्यापन से ही मिलेगा राशनअजमेर, 6 अप्रेल। जिले में अप्रेल माह से राशन सामग्री का वितरण पीओएस मशीन के माध्यम से फिंगर प्रिन्ट का सत्यापन होने पर ही किया जाएगा।
जिला रसद अधिकारी श्रीमती दीप्ति शर्मा ने बताया कि अप्रेल माह से उपभोक्ताओं को राशन सामग्री केवल फिंगर प्रिन्ट सत्यापन होने पर ही उपलब्ध करवायी जाएगी। उपभोक्ताओं के फिंगर प्रिन्ट पोस मशीन पर वैरीफाई नहीं होने की स्थिति में उपभोक्ता को नजदीकी ई मित्रा केन्द्र से फिंगर प्रिन्ट अपडेट करवाने होंगे। राशन कार्ड में दर्ज समस्त सदस्यों के मोबाइल नम्बर को आधार कार्ड से लिंक करवाने से राशन सामग्री प्राप्त करना आसान होगा। राशन सामग्री प्राप्त करते समय अपना मोबाइल साथ रखने से वन टाईम पासवर्ड (ओटीपी) का उपयोग किया जा सकेगा। पीओएस मशीन पर फिगर प्रिन्ट नहीं आने की स्थिति में दुकानदार ओटीपी का आॅपशन चुनेगा। इससे उपभोक्ता के मोबाइल पर मैसेज आएगा। इस मैसेज को डीलर द्वारा पोस मशीन में उपयोग लिए जाने से राशन सामग्री वितरित हो पाएगी।


जल स्वावलम्बन अभियान की कार्यशाला शुक्रवार कोअजमेर, 6 अप्रेल। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भू जल विभाग मंत्राी श्री सुरेन्द्र गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार 7 अप्रेल को प्रातः 11 बजे संभागीय आयुक्त सभागार में मुख्यमंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान के द्वितीय चरण में सहयोग के लिए धार्मिक ट्रस्टो एवं संगठनों की कार्यशाला आयोजित होगी। यह जानकारी संभागीय आयुक्त श्री हनुमान सहाय मीना ने दी।


बाल विवाह रोकने के लिए नियंत्राण कक्ष स्थापितअजमेर, 6 अप्रेल। जिले में आखातीज एवं पीपल पूर्णिमा के अवसर पर बाल विवाह रोकने के लिए अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट शहर के कार्यालय में नियंत्राण कक्ष स्थापित किया गया है।
अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट शहर श्री अरविंद कुमार सेंगवा ने बताया कि ये नियंत्राण कक्ष 15 मई तक 24 घण्टे कार्यरत रहेगा। इस पर स्थापित टेलिफोन नम्बर 0145-2630304 पर नागरिक बाल विवाह से संबंधित शिकायत दर्ज करवा सकते है। शिकायत लिखित अथवा दूरभाष पर दी जा सकती है। नियंत्राण कक्ष के लिए बाल विकास परियोजना अधिकारी श्री नितेश यादव को सह प्रभारी नियुक्त किया गया है।


ई-मित्रा सोसायटी की बैठक आयोजित अजमेर, 6 अप्रेल। अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री अबु सूफियान चैहान की अध्यक्षता में गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला ई-मित्रा सोसायटी की बैठक आयोजित हुई।
बैठक में श्री चैहान ने ई-मित्रा के माध्यम से प्रदान की जाने वाली समस्त सेवाओं की रेट लिस्ट चस्पा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निर्धारित राशि से अधिक वसूलने वाले ई-मित्रा केन्द्रों के विरूद्ध कार्यवाही कर जुर्माना लगाया जाएगा। बैठक में वित्तीय वर्ष 2015-16 एवं 2016-17 की वार्षिक रिपोर्ट पर चर्चा की गई।
इस अवसर पर मुद्रांक एवं पंजीयन विभाग के उप पंजीयक श्री भंवर लाल जनागल, डीओआईटी के प्रोग्रामर श्री गिरीश नैन सहित ई मित्रा संचालक उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top