edvertise

edvertise
barmer



जालोर मुख्य मंत्राी जल स्वालम्बन अभियान में लापरवाही नहीं होगी सहन- कलक्टर


जालोर 19 अप्रेल - जिला कलक्टर ने कहा कि मुख्य मंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान सहित सभी फ्लैगशिप योजनाओं में निर्धारित कार्यो को शत प्रतिशत रूप से पूर्ण किया जाना सुनिश्चित करें तथा इसमें लापरवाही या शिथिलता बरतने पर आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।

जिला कलक्टर अनिल गुप्ता बुधवार को कलेक्टेªेट सभा कक्ष में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित फ्लैगशिप योजनाओं एवं अन्य विकास कार्यो की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देेशित कर रहे थें। उन्होनें समीक्षा के दौरान मुख्य मंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान की धीमी प्रगति को गंभीरता से लेते हुए वाटरशेड, उपवन संरक्षक एवं उद्यान विभाग के अधिकारियों को कारण बताओं नोटिस जारी करने के निर्देश देते हुए कहा कि मुख्य मंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान के तहत जिन कार्यो की वित्तीय स्वीकृति जारी नही हुई उसे तुरन्त जारी करने के साथ ही स्वीकृत कार्यो को 30 अप्रैल तक अनिवार्य रूप से पूर्ण करें अन्यथा सम्बन्धित अधिकारी व कार्मिक के विरूद्व आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।

उन्होनें जोधपुर विधुत वितरण निगम के अधिशाषी अभियन्ता हेमन्त संकलेचा को निर्देशित किया कि जिले में विधुत कनेक्शन से रहित 50 उत्कृष्ट विधालयों को विधुत कनेक्शन से जोडा जाना था लेकिन उनके नही जुडने से जालोर जिला इस बिन्दु में 18 वीं रेंक पर रहा है इसलिए प्रथम प्राथमिकता से उन्हें विधुतीकृत करें जिस पर संकलेचा ने कहा कि आगामी 15 मई तक निर्धारित उत्कृष्ट विधालयों को जोड दिया जायेगा। उन्होनें जालोर शहर में भीनमाल बाई पास रोड के गौरव पथ की समीक्षा के दौरान सार्वजनिक निर्माण विभाग, जालोर नगर परिषद एवं जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे आपस में समन्वय रखते हुए टीम भावना से इस कार्य को पूर्ण करें तथा कार्य की गुणवत्ता पर भी ध्यान रखें। उन्होनें कृषि अधिकारियों को निर्देशित किया कि कृषि अनुदान से सम्बन्धित योजनाओं में भी आधार की अनिवार्यता कर दी गई है इसलिए इसके अनुरूप कार्य करें।

जिला कलेक्टर ने आहोर तहसील क्षेत्रा में मृदा सम्बन्धी बकाया जांच कार्य को शीघ्र पूर्ण करने तथा जिले में खनन क्षेत्रों में विकासात्मक सुविधायें उपलब्ध करवाने के लिए प्रस्ताव खनन विभाग को शीघ्र ही भिजवाने के निर्देश भी दिये। उन्होनें राजस्थान सम्पर्क समाधान के तहत 60 दिवस की अधिक अवधि के लम्बित मामलों की समीक्षा करते हुए कहा कि बकाया मामलों का शीघ्र ही समाधान करने के साथ ही इनका सत्यापन कार्य भी पूर्ण करें।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर कैलाशचन्द्र शर्मा ने अधिकारियों से कहा कि जिन-जिन विभागों द्वारा केन्द्र प्रवृत्ति योजनाएॅ संचालित हो रही है उनकी वांछित सूचनाएॅ आज सांयकाल तक कलेक्ट्रेट को भिजवाना सुनिश्चित करें। बैठक में जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियन्ता कमलजीत, अधिशाषी अभियन्ता आशीष द्विवेदी, जिला रसद अधिकारी सम्पतराज वडेरा एवं वाटरशेड के अधिशाषी अभियन्ता दिलीप वर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थें।

----000---

बीस सूत्राी कार्यक्रम की बैठक सम्पन्न
जालोर 19 अप्रेल - जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता की अध्यक्षता में बीस सूत्राी कार्यक्रम की द्वितीय स्तरीय समिति की बैठक सम्पन्न हुई जिसमें 31 मार्च को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में अर्जित प्रगति की समीक्षा की गई।

कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में बुधवार को आयोजित बैठक में जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता ने कहा कि बीस सूत्राी कार्यक्रम में गत वर्ष के लक्ष्यों को आधार मानते हुए अभी से ही योजना बनाकर कार्य प्रारभ्भ कर देवे । उन्होनें कहा कि 31 मार्च को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में ग्रामीण आवास योजना एवं आंगनवाडी केन्द्र के बिन्दुओं को छोडकर शेष सभी श्रैणी गणना के बिन्दुओं में ए श्रैणी प्राप्त हुई है।

उन्होनें उपस्थित अधिकारियों से कहा कि आगामी 28 अप्रैल को अक्षय तृतीया एवं 10 मई को पीपल पूर्णिमा के त्यौहार पर संभावित बाल विवाहों की रोकथाम के लिए जारी निर्देशों की पालना करें साथ ही अपने अधीनस्थ कार्मिको को भी पाबन्द करते हुए अपने सूचना तंत्रा को भी पुख्ता रखें। उन्होनेें कहा कि जिला मुख्यालय एवं उपखण्ड मुख्यालयों पर स्थित नियन्त्राण कक्ष एवं पुलिस कन्ट्रोल रूम को सूचनाएॅ भिजवाते रहें। बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर कैलाशचन्द्र शर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थें।

-----000---

बालिकाओं को अंग्रेजी की शिक्षा देगा राह प्रोजेक्ट
जालोर 19 अप्रेल - जिला कलक्टर अनिल गुप्ता की अध्यक्षता में सु सुमेर फाउण्डेशन 72 जिनालय ट्रस्ट भीनमाल द्वारा बालिकाओं को अंग्रेजी विषय व व्यक्त्वि विकास की शिक्षा के लिए संचालित प्रोजेक्ट ‘‘राह’’ की आवश्यक बैठक सम्पन्न हुई जिसमें जिला मुख्यालय पर प्रारभ्भ की जाने वाली अतिरिक्त कक्षाओं के लिए विचार विमर्श किया गया।

बैठक में जिला कलक्टर अनिल गुप्ता ने प्रोजेक्ट ‘‘राह’’ की क्रियान्विति के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि इस प्रोजेक्ट में जिले की अधिकाधिक बालिकाओं को जोड़ा जाये। उन्होंने बताया कि यह प्रशिक्षण कार्यक्रम रा.बा.उ.मा.वि. प्रताप चैक व शिवाजी नगर जालोर एवं रामावि राजेन्द्र नगर जालोर के परिसर में विद्यालय समय के पश्चात् संचालित किया जायेगा। इस अवसर पर जालोर विधायक श्रीमती अमृता मेघवाल ने इस योजना को बालिका शिक्षा के प्रोत्साहन के लिए अच्छी योजना बताते हुए इसका अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करने तथा इसे पूरे जिले ंमें संचालित करने का सुझाव दिया।

बैठक में फाउण्डेशन की प्रोजेक्ट हैड डाॅ. कविता राणे ने बताया कि फाउण्डेशन द्वारा इस योजना में विद्यालयों में कक्षा 6 से 12 तक अध्ययनरत बालिकाओं को सत्रान्त तक स्पाॅकन इंग्लिश, स्वास्थ्य जागरूकता निःशुल्क व्यक्तित्व निर्माण आदि के सम्बन्ध में जानकारी दी जायेगी साथ ही शिक्षण सामग्री निःशुल्क उपलब्ध करवाई जायेगी। उन्होंने बताया कि सु सुमेर फाउण्डेशन द्वारा गत वर्ष झालावाड जिले की 600 बालिकाओं को लाभान्वित किया जा चुका हैं तथा अभी वर्तमान में भीनमाल मुख्यालय पर 800 बालिकाओं को लाभान्वित किया जा रहा हैं तथा धीरे-धीरे इस योजना को आहोर, सायला, रानीवाडा एवं सांचैर आदि उपखण्ड मुख्यालयों पर भी प्रारभ्भ किया जायेगा। उन्होने बताया कि जिला मुख्यालय पर चिन्हित तीन विधालयों में अध्ययनरत बालिकाएॅ सम्बन्धित विधालय में 25 अप्रैल तक पंजीयन करवा लेवे तथा मई माह के प्रथम सप्ताह तक कक्षाएॅ प्रारभ्भ की जायेगी।

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक) भैराराम चैधरी, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी (प्रारम्भिक) मुकेश सोलंकी, फाउण्डेशन के गौरव नीकारगे, प्रधानाचार्य व व्याख्याता मधु चैधरी, नाईद अली, लीला गहलोत, शांतिलाल दवे, सूरजपाल सिंह सहित विभिन्न कार्मिक उपस्थित थे।

----000---

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top