edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर.
अस्पताल के सामने हो रहा था अतिक्रमण, सभापति ने रोका तो पार्षद ने पकड़ा कॉलर
Video : अस्पताल के सामने हो रहा था अतिक्रमण, सभापति ने रोका तो पार्षद ने पकड़ा कॉलर

जिला अस्पताल के सामने स्थित पुराने बस स्टैंड में शराब ठेका लगाने के लिए कुछ लोग मंगलवार को दीवार बनाने लगे। इसकी सूचना मिली तो नगर परिषद सभापति ने आयुक्त को रोकने के आदेश दिए। जब उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की तो वे स्वयं वहां पहुंच गए तथा काम रोकने को कहा। इस पर वहां मौजूद एक पार्षद को गुस्सा आ गया तथा उन्होंने सभापति का ही कॉलर पकड़ लिया तथा धक्का-मुक्की कर दी। उन्होंने सभापति पर गंभीर आरोप लगाते हुए धमकी भी दे दी। इस दौरान पास में खड़े नेता प्रतिपक्ष ने पार्षद को पकड़ लिया। इस दौरान मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई।

शराब ठेका खोलने का प्रयास

बस स्टेंड परिसर में शराब का ठेका खोलने के लिए पार्षद ने दुकान किराए पर ली। लेकिन राजकीय चिकित्सालय से 200 मीटर की दुरी नहीं होने के कारण चिकित्सालय के सामने खुले रास्ते को बंद करवाकर दूरी बढ़ाने का प्रयास किया। दीवार बनने से आमजन को घूमकर आना पड़ेगा ऐसे में दूरी भी बढ़ जाएगी और ठेका भी खुल जाएगा। लेकिन इसकी सूचना जब सभापति को मिली तो मौके पर पहुंच गए और दोनों के बीच में झपड़ हो गई।

आयुक्त की सहमति से हो रहा था कार्य

सभापति ने नगर परिषद आयुक्त पर हो रहे कार्य में मिलीभगती बताई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि आयुक्त की मिलीभगती के चलते नगर परिषद ठेकेदार ने मौके पर ईंटे भी खाली करवा दी। इसके बाद जब मजदूर पहुंचे तो लोगों ने इसकी सूचना सभापति को दी।

पार्षद आ गए आवेश में

सभापति की ओर से उक्त निर्माण कार्य को बंद करवाने के लिए कहा गया तो पार्षद ने कहा कि यहां पर दीवार तो बनेगी। सभापति ने कहा कि शहर में कहीं पर भी गलत कार्य हो रहा है तो ये मैं होने नहीं दुंगा। इस बात को लेकर पार्षद नरेश देव आवेश में आ गए और देखते ही देखते उन्होने सभापति का कॉलर पकड़ कर उनके साथ धक्का-मुक्की की। इस दौरान पास में खड़े नेता प्रतिपक्ष मदन चंडक ने पार्षछ को पकड़ कर एक साईड़ में ले गए। इस दौरान पार्षद ने सभापति को गाली-गलौच भी किया।

बाड़मेर नगरपरिषद में सांठगांठ के खुले खेल का बड़ा खुलासा, पढ़िए पूरी खबर

सभापति की हुई किरकिरी

परिषद में कांग्रेस का बोर्ड होने के साथ में जिस पार्षद से बहस हुई वो भी कांग्रेस प्रत्याशी हैं। ऐसे में लोगों के बीच इस प्रकार की घटना होने के कारण सभापति की लोगों के बीच किरकिरी हो गई।

कलक्टर से मिलकर बताई समस्या

घटना क्रम के बाद में सभापति व नेता प्रतिपक्ष मदन चंडक ने कलक्टर से मिलकर आयुक्त की ओर से कोई कार्यवाही नहीं करने का विरोध जताया। उन्होने बताया कि आयुक्त की मिली भक्ति से मामला हो रहा हैं। इसकी जांच करवाई जाए।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top