edvertise

edvertise
barmer



बाड़मेर, मोबाइल एप्प से मिलेगी पर्यटन स्थलांे की जानकारी,पर्यटन विकास पर हुई चर्चा
-थार महोत्सव को शुरू करवाने के लिए जिला कलक्टर करेंगे प्रयास,राज्य सरकार को लिखेंगे पत्र
बाड़मेर, 25 अप्रैल। बाड़मेर जिले के पर्यटन स्थलांे की जानकारी अब मोबाइल एप्प के जरिए मिलेगी। इसके लिए शुरूआती दौर मंे 15 पर्यटक स्थलांे को चिन्हित किया गया है। आगामी कुछ दिनांे इन स्थानांे पर डिवाइस लगाने का कार्य प्रारंभ होगा। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने मंगलवार को पर्यटन विकास समिति की बैठक के दौरान यह जानकारी दी। जिला कलक्टर शर्मा ने बाड़मेर जिले मंे पर्यटन विकास की संभावनाएं तलाशने के निर्देश दिए।

इस दौरान जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि बाड़मेर जिले मंे प्रतिबंधित क्षेत्रांे मंे पर्यटकांे की आवाजाही पर रियायत देने संबंधित प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भिजवाया गया है। जिला मुख्यालय पर वार म्यूजियम एवं हेरीटेज म्यूजियम स्थापित करवाने के प्रयास किए जा रहे है। उन्हांेने कहा कि थार महोत्सव को शुरू करवाने एवं वित्तीय संसाधन मुहैया कराने के लिए राज्य सरकार को पत्र लिखा जाएगा। बैठक के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई ने कहा कि थार महोत्सव को नियमित रूप से आयोजित करने की पैरवी करने की जरूरत है। उन्हांेने जिले मंे पर्यटन विकास से संबंधित कई सुझाव दिए। इस दौरान पुरूषोतम खत्री, इंटेक चेप्टर के यशोवर्धन शर्मा ने गालाबेरी के धोरो को संरक्षित करने के साथ पर्यटन विकास के बारे मंे विस्तार से जानकारी दी। सहायक पर्यटन अधिकारी खमेन्द्रसिंह ने बाड़मेर जिले मंे पर्यटन विकास की कार्य योजना से अवगत कराया। इस दौरान केयर्न इंडिया के डा.यू.वी.द्विवेदी ने बताया कि बाड़मेर जिला मुख्यालय पर पेट्रो टयूरिज्म के लिहाज से आयल म्यूजियम स्थापित करने के प्रयास किए जा रहे है। बैठक के दौरान बाड़मेर उपखंड अधिकारी चेतन कुमार त्रिपाठी, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक घनश्याम गुप्ता, अधिशाषी अभियंता भेराराम चौधरी, ओमप्रकाश ढीढवाल, छगनलाल खत्री, पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डा.नारायणसिंह सोलंकी समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक मंे पर्यटकांे को पर्यटन स्थलांे एवं प्रतिबंधित इलाकांे संबंधित जानकारी देने के लिए साइनेज बोर्ड लगवाने, सोननाडी को सड़क मार्ग से जोड़ने, जूना से खारा को किराडू़ मंदिर से जोड़ने के लिए सड़क निर्माण समेत विभिन्न बिन्दूआंे पर विचार-विमर्श किया गया। इस दौरान धनराज जोशी ने किराडू मंे पौधारोपण करवाने का सुझाव दिया। इस पर जिला कलक्टर शर्मा ने उपवन संरक्षक को पौधारोपण करवाने के लिए पत्र लिखने के निर्देश दिए। इस दौरान आगामी समय मंे चौहटन मंे आयोजित होने वाले सुंइया मेले मंे समुचित व्यवस्थाएं करने के साथ इसको भी पर्यटक के लिहाज से विकसित करने के निर्देश दिए गए। इसके लिए संबंधित उपखंड अधिकारी, विकास अधिकारी, उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक की समिति को संबंधित स्थल का मौका मुआयना करने को कहा गया।

मेला आयोजन के दौरान समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेंःशर्मा
बाड़मेर, 25 अप्रैल। जिले मंे समय-समय पर आयोजित होने वाले मेलांे के दौरान सुरक्षा, पेयजल एवं अन्य समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने मंगलवार को जिला स्तरीय मेला समिति की बैठक के दौरान यह बात कही।

जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि जिले मंे आयोजित होने वाले मेलांे का वार्षिक कैलेंडर तैयार किया जाए। इसके अनुरूप मेला आयोजन होने की स्थिति मंे शामिल होने वाले जनसमूह की तादाद का आंकलन करते हुए व्यवस्थाएं मुहैया कराने की कार्ययोजना बनाई जाए। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई ने कहा कि जिले मंे वीरातरा, नाकोड़ा, राणी भटियाणी मंदिर मंे सालाना मेलों का आयोजन होता है। उन्हांेने कहा कि इसके लिए संबंधित उपखंड अधिकारी व्यवस्थाआंे का आंकलन करें। उन्हांेने मेला स्थलांे पर विस्फोटक सामग्री की रोकथाम के लिए सुरक्षा जांच द्वार स्थापित करने के निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि राज्य सरकार सरकार से प्राप्त आदर्श सिक्युरिटी प्लान सबको भिजवाया जा रहा है। बैठक के दौरान बाड़मेर उपखंड अधिकारी चेतन कुमार त्रिपाठी, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक घनश्याम गुप्ता, अधिशाषी अभियंता भेराराम चौधरी, ओमप्रकाश ढीढवाल, छगनलाल खत्री, पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डा.नारायणसिंह सोलंकी,पुरूषोतम खत्री, यशोवर्धन शर्मा समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

15 हजार परिवारांे को प्रोत्साहन के रूप मंे मिलेंगे 3.75 करोड़
बाड़मेर, 25 अप्रैल। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बाड़मेर जिले की बायतू एवं गिड़ा पंचायत समिति की 48 ग्राम पंचायतांे के 15 हजार परिवारांे को प्रोत्साहन के रूप मंे 3.75 करोड़ रूपए की प्रोत्साहन राशि मिलेगी। नवीन पहल के तहत प्रत्येक परिवार को शौचालय का उपयोग करने के कारण प्रोत्साहन राशि के रूप मंे 2500 रूपए दिए जा रहे है।

बाड़मेर जिले मंे अनूठी पहल के तहत कुछ समय पूर्व केयर्न इंडिया एवं आरडीओ ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिला कलक्टर सुधीर शर्मा के निर्देशन मंे शौचालय निर्माण एवं इसके उपयोग को सुनिश्चित करने के लिए संबंधित परिवार को प्रोत्साहन राशि देने की शुरूआत की थी। इसके तहत आरडीओ की टीम ने लगातार तीन माह तक इन परिवारांे की मोनेटरिंग की, वे शौचालय का उपयोग कर रहे है अथवा नहीं। अब बायतू एवं गिड़ा पंचायत समिति के 15 हजार परिवारांे को प्रोत्साहन राशि के तौर पर 3.75 करोड़ रूपए वितरित किए जा रहे है। आरडीओ के प्रबंधक राजेश गुप्ता के मुताबिक ग्रामीणांे को स्वच्छ भारत मिशन से जोड़ने के लिए लगातार ग्राम पंचायत स्तर पर जन समुदाय के साथ बैठकांे का आयोजन किया गया। विद्यालयांे मंे भी जागरूकता कार्यक्रमांे का आयोजन कर विद्यार्थियांे के जरिए अभिभावकांे को प्रेरित किया गया। ग्राम पंचायत स्तर पर निगरानी समिति का गठन कर उनके सशक्तिकरण के प्रयास किए गए। उन्हांेने बताया कि लगातार प्रयासांे के चलते ग्रामीणांे मंे स्वच्छता के प्रति जागरूकता के साथ शौचालय का इस्तेमाल उनकी रोजमर्रा की जिन्दगी का हिस्सा बन गया है। ग्रामीण अपने रिश्तेदारांे एवं अन्य लोगांे को भी स्वच्छ भारत मिशन से जुड़ने के लिए प्रेरित कर रहे है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top