edvertise

edvertise
barmer

बाड़मेर, हर परिस्थिति से निपटने के लिए सतर्क रहे जवानःगौतम
-सर्वश्रेष्ठ बटालियनांे मंे शामिल 151 वाहिनी ने 29 वां स्थापना दिवस मनाया


बाड़मेर, 16 अप्रैल। सरहद पर तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवान हर स्थिति से निपटने के लिए विशेष चौकसी बरते। सीमा सुरक्षा बल का स्वर्णीम इतिहास रहा है। उसी परंपरा को कायम रखते हुए हमंे हर परिस्थिति का मुकाबला करने के लिए तैयार एवं सतर्क रहना होगा। सीमा सुरक्षा बल बाड़मेर सेक्टर के उप महानिरीक्षक प्रतुल गौतम ने 151 वाहिनी के 29 वें स्थापना दिवस के अवसर पर यह बात कही।
उप महानिरीक्षक प्रतुल गौतम ने कहा कि मौजूदा परिस्थितियांे के मददेनजर हमंे हर चुनौती के निपटने के लिए खुद को सदैव तैयार रखना होगा। उन्हांेने कहा कि 151 वाहिनी सीमा सुरक्षा की सर्वश्रेष्ठ बटालियनों मंे शामिल है। उन्हांेने कहा कि यह बेहद गर्व की बात है कि दो मर्तबा सर्वश्रेष्ठ बटालियन का खिताब जीत चुकी 151 वाहिनी ने देश मंे विभिन्न स्थानांे पर कार्यरत रहते हुए कई कीर्तिमान अपने नाम किए है। उन्हांेने कहा कि सीमा सुरक्षा बल के पास सरहद की हिफाजत का जिम्मा है। बीएसएफ इसको बखूबी निभा रही है। उन्हांेने कहा कि सरहद पार से होने वाली हर हरकत का करारा जबाव देने के लिए सदैव तैयार रहना है। उन्हांेने इस दौरान सीमा सुरक्षा 151 वाहिनी के अधिकारियांे, जवानांे को स्थापना दिवस की बधाई दी। उन्हांेने गृहमंत्री राजनाथसिंह के बाड़मेर दौरे एवं अन्य विभिन्न आयोजनांे पर वाहिनी की ओर से किए व्यवस्था संबंधित प्रबंधन के लिए अधिकारियांे एवं जवानांे की सराहना की। इस दौरान कमाडेंट हरेन्द्रसिंह तोमर ने 151 वाहिनी की स्थापना से अब तक के सफर के बारे मंे जानकारी दी। समारोह के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई, 72 वाहिनी के कमाडेंट आशुतोष शर्मा, 37 वाहिनी के कमाडेंट रमेश कुमार, द्वितीय कमान अधिकारी ए.एस.रावत, रविन्द्र ठाकुर, विवेक ठाकुर समेत सीमा सुरक्षा बल के विभिन्न अधिकारी, गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। इस दौरान प्रोजेक्टर के जरिए 151 वाहिनी के अब तक के उल्लेखनीय कार्याें को प्रदर्शित किया गया। स्थापना दिवस समारोह के दौरान कलाकारांे एवं जवानांे ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देकर समां बांध दिया। पंजाब के भागड़ा, राजस्थान के घूमर एवं असम समेत विभिन्न प्रांतांे से जुड़ी प्रस्तुतियां ने सांस्कृतिक संगम का माहौल पैदा कर दिया। इस अवसर पर सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देने वाले कलाकारांे को उप महानिरीक्षक प्रतुल गौतम एवं कमाडेंट हरेन्द्रसिंह तोमर ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

 
Top